NDTV Khabar

तेजस्वी यादव ने दिया उपेंद्र कुशवाहा को न्योता, कहा- एनडीए में आपकी कोई जगह नहीं

कुछ दिन पहले ही आरएलएसपी ने बिहार में एनडीए के चेहरे के रूप में नीतीश कुमार को चुने जाने पर अपनी आपत्ति जताई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तेजस्वी यादव ने दिया उपेंद्र कुशवाहा को न्योता, कहा- एनडीए में आपकी कोई जगह नहीं

तेजस्वी यादव की फाइल फोटो

पटना: 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले बिहार में सियासी पारा चढ़ने लगा है. इसकी एक वजह एनडीए का खेमा भी है. सुत्रों के अनुसार बीते कुछ समय से इस खेमे में सब कुछ पहले की तरह ठीक नहीं है. इसकी एक बड़ी वजह राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) है. दरअसल, जेडीयू के बाद अब आरएलएसपी बीजेपी पर सीटों को लेकर दबाव बनाने की कोशिश में लगी है. एनडीए और उसके सहयोगी दलों के बीच सबकुछ ठीक न होने की बात को उस समय बल मिला जब गुरुवार को एनडीए द्वारा आयोजित डिनर पार्टी से आरएलएसपी के नेता उपेंद्र कुशवाहा गायब रहे. बिहार में एनडीए के सहयोगी दलों के बीच चल रही इस खींचतान पर विपक्ष भी अपनी नजर बनाए हुए है. शुक्रवार को नेता विपक्ष तेजस्वी यादव ने आरएलएसपी के प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा को अपने साथ आने का न्यौता दे दिया.

यह भी पढ़ें: पटना में एनडीए की बैठक में केवल भोजन, कोई भाषण नहीं

उन्होंने कहा कि उपेंद्र कुशवाहा की एनडीए में अब कोई जगह नहीं है. हालांकि उपेंद्र कुशवाहा ने एनडीए में खटपट और उससे अलग होने की बात को सिरे से नाकार दिया. उन्होंने कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है. वह पहले भी एनडीए के साथ थे और आगे भी एनडीए के साथ ही बने रहेंगे. एनडीए के भोज में शामिल न होने को लेकर कुशवाहा ने गोलमोल जवाब दिया.  गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही आरएलएसपी ने बिहार में एनडीए के चेहरे के रूप में नीतीश कुमार को चुने जाने पर अपनी आपत्ति जताई थी. आरएलएसपी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष नागमणि ने कुछ दिन पहले ही कहा था कि अगर कुशवाहा को गठबंधन के नेता के तौर पर पेश कर चुनाव लड़ा जाए तो राजग को बिहार में लोकसभा और विधानसभा चुनाव में जबरदस्त सफलता मिलेगी.

यह भी पढ़ें: नीतीश का मोल अब नहीं रहा, बीजेपी उन्हें नहीं झेल पाएगी : शिवानंद तिवारी

उन्होंने कहा था कि भाजपा के बाद बिहार में राजग के घटक दलों में रालोसपा का समर्थन का आधार सबसे बड़ा है. राष्ट्रीय स्तर पर हमारी पार्टी जद (यू) से बड़ी है और 2014 के लोकसभा चुनाव में कुशवाहा के समर्थन से राजग को लाभ हुआ था. तब जद (यू) अकेले चुनाव लड़ी थी.’

टिप्पणियां
VIDEO: बिहार एनडीए में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है. 


उन्होंने यह भी कहा कि उपेंद्र कुशवाहा को बिहार में अगले विधानसभा चुनाव 2020 के लिए एनडीए की ओर से मुख्यमंत्री उम्मीदवार के रूप में प्रोजेक्ट किया जाना चाहिए.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement