NDTV Khabar

सुशील मोदी ने कहा - तेजस्वी यादव के खिलाफ आरोप तब के हैं जब वह बालिग हो गए थे

सुशील मोदी ने कहा कि नाबालिग होने की दलील देकर तेजस्वी अपने अपराध पर पर्दा नहीं डाल सकते हैं.

489 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सुशील मोदी ने कहा - तेजस्वी यादव के खिलाफ आरोप तब के हैं जब वह बालिग हो गए थे

भाजपा नेता सुशील मोदी (फाइल फोटो)

पटना: होटल के बदले भूखंड मामले में बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बुधवार को कहा कि उनके खिलाफ षडयंत्र रचा जा रहा है तथा यह मामला उस समय का है, जब वह बालिग भी नहीं थे. तेजस्वी के इस बयान पर भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने कहा ​कि यह आरोप उस समय का है, जब तेजस्वी बालिग हो गए थे.

सुशील मोदी ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करके कहा कि तेजस्वी पर 'बेनामी संपति' हासिल करने का उक्त आरोप तब का है, जब वह दाढी-मूंछ वाले और बालिग हो चुके थे. उन्होंने कहा कि नाबालिग होने की दलील देकर तेजस्वी अपने अपराध पर पर्दा नहीं डाल सकते हैं.

बिहार विधान परिषद में प्रतिपक्ष के नेता सुशील मोदी ने सवाल किया कि क्या तेजस्वी यादव यह ऐलान करेंगे कि जिस डिलाइट कंपनी द्वारा दी गई तीन एकड़ जमीन पर उनका 750 करोड़ रुपये का मॉल बन रहा है, वह उसके मालिक नहीं हैं. उल्लेखनीय है कि सुशील मोदी, लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार पर पिछले डेढ़ महीने से 'बेनामी संपत्ति' को लेकर लगातार आरोप लगाते आ रहे हैं. उन्होंने सवाल किया कि क्या तेजस्वी यह भी ऐलान करेंगे कि सरला गुप्ता एवं प्रेमचंद्र गुप्ता ने अपनी वर्षों पुरानी कंपनी सहित करोड़ों की जमीन उन्हें नहीं ​दी है.

यह भी पढ़ें - नीतीश कुमार ने दिया 72 घंटे का अल्टीमेटम, अब टीम लालू चल सकती है ये नया दांव : सूत्र

सुशील मोदी ने यह भी सवाल किया कि क्या तेजस्वी ऐलान करेंगे कि दिल्ली के न्यू फ्रेंडस कालोनी में 115 करोड़ रुपये कीमत का चार मंजिला मकान उनका नहीं है. उन्होंने तेजस्वी से पूछा कि क्या वह ऐलान करेंगे कि पटना की जिस जमीन पर पेट्रोल पंप बना है, वह उनकी नहीं है.

वीडियो


सुशील मोदी ने कहा कि जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जीतन राम मांझी सहित अन्य तीन मंत्रियों को पूर्व में इस्तीफा देने के लिए कोई मोहलत नहीं दी, तो फिर तेजस्वी को क्यों. क्या कभी भी कोई अपराधी अपना अपराध स्वीकार करता है. उन्होंने पूछा कि जब राजद, लालू परिवार और तेजस्वी ने इस्तीफा देने से साफ इनकार कर दिया है तब क्या मुख्यमंत्री को अब उन्हें बर्खास्त करने की हिम्मत नहीं दिखानी चाहिए.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement