NDTV Khabar

भ्रष्टाचार के मुद्दे से ध्यान बंटाने के लिए जंतर मंतर पर जुटे थे नेता : नीतीश कुमार

नीतीश ने कहा- भ्रष्टाचार के आरोपियों के इर्द गिर्द लोग इकट्ठे हुए; जो खुद चार्ज शीटेड हैं, वे धरने की अगुवाई कर रहे थे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भ्रष्टाचार के मुद्दे से ध्यान बंटाने के लिए जंतर मंतर पर जुटे थे नेता : नीतीश कुमार

जंतर मंतर पर दिए गए धरने का फाइल फोटो.

खास बातें

  1. धरने में अरविंद केजरीवाल, राहुल गांधी, शरद यादव कई नेता शामिल हुए थे
  2. तेजस्वी यादव की अगुवाई में मुजफ्फरपुर रेप केस के विरोध में हुआ था धरना
  3. मंच पर हत्या और अपहरण के कई मामलों में आरोपी राजन तिवारी भी मौजूद थे
नई दिल्ली: शनिवार को दिल्ली में जंतर मंतर पर मुजफ्फरपुर के सेक्स स्कैंडल मामले को लेकर हुए धरना प्रदर्शन पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि भ्रष्टाचार कोई मुद्दा नहीं रहे, इसलिए यह धरना आयोजित किया गया था.

नीतीश ने पटना में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि धरना इसलिए आयोजित किया गया कि भ्रष्टाचार कोई मुद्दा नहीं रहे .हालांकि उन्होंने किसी नेता का नाम नहीं लिया लेकिन तेजस्वी यादव को निशाने पर रखते हुए कहा कि भ्रष्टाचार के आरोपियों के इर्द गिर्द लोग इकट्ठे हो रहे हैं. जो खुद चार्ज शीटेड हैं, जिनके खिलाफ कोर्ट ने संज्ञान लिया, वे इस धरने की अगुवाई कर रहे थे.

यह भी पढ़ें : नीतीश की पार्टी ने आख़िर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को धन्यवाद क्यों कहा?

जंतर मंतर पर हुए धरने में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, शरद यादव और वामपंथी दल के कई नेता शामिल हुए थे. हालांकि इस मंच पर राजन तिवारी भी मौजूद थे जो हत्या और अपहरण के कई मामले में आरोपी हैं. राजद के नेताओं का मानना है कि इस धरने के बाद तेजस्वी का कद दिल्ली में और बढ़ा है.

टिप्पणियां
VIDEO : दोषियों को सजा देने की मांग

नीतीश कुमार का कहना था कि जब पिछले साल तेजस्वी यादव का नाम IRCTC घोटाले में आया था तब लोग उनसे भ्रष्टाचार के मुद्दे पर सवाल पूछा करते थे. लेकिन अब क्या यह मुद्दा मंच पर बैठे नेताओं के लिए गौण हो गया है. साफ़ है कि नीतीश की नाराज़गी तेजस्वी से कम इन नेताओं से ज्यादा है जो उनके साथ मंच पर मौजूद थे. हालांकि रविवार को जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को इस बात पर धन्यवाद कहा था कि उन्होंने जंतर मंतर पर सबसे संतुलित भाषण दिया.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement