NDTV Khabar

केंद्रीय मंत्री कुशवाहा ने बिहार सरकार को शिक्षा व्यवस्था में सुधार के लिए 37 महीने का समय दिया

कुशवाहा ने कहा कि केंद्र सरकार बिहार में शिक्षा व्यवस्था में सुधार के लिए हर संभव मदद करेगी.

20 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
केंद्रीय मंत्री कुशवाहा ने बिहार सरकार को शिक्षा व्यवस्था में सुधार के लिए 37 महीने का समय दिया

केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री उपेंद्र कुशवाहा (फाइल फोटो)

पटना: केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने बिहार में शिक्षा व्यवस्था में आयी कथित गिरावट के लिए एक के बाद एक आयी सरकारों को दोषी ठहराते हुए प्रदेश की वर्तमान नीतीश कुमार सरकार को इसमें सुधार के लिए 37 महीने का समय दिया है. पटना के गांधी मैदान में अपनी पार्टी द्वारा आयोजित "शिक्षा सुधार संकल्प महासम्मेलन" को संबोधित करते हुए कुशवाहा ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जिनकी सोच है कि शिक्षा के बिना विकास का कोई मतलब नहीं, ने स्वीकारा है कि शिक्षा के फ्रंट पर यह प्रदेश पिछड़ गया है, हम आशा करते हैं कि शिक्षा क्षेत्र में स्थिति बदलेगी. उन्होंने कहा कि बिहार में पिछले 37 सालों में शिक्षा व्यवस्था में आयी गिरावट को ठीक करने के लिए हमलोग 37 महीने का समय देते हैं.

कुशवाहा ने कहा कि केंद्र सरकार बिहार में शिक्षा व्यवस्था में सुधार के लिए हर संभव मदद करेगी. उन्होंने प्रदेश में सत्ताधारी पार्टी जदयू को उसे रोलोसपा द्वारा उसके सामाजिक अभियान शराबबंदी और दहेज प्रथा में अपनी पार्टी द्वारा समर्थन दिए जाने की याद दिलाते हुए कहा कि उनकी पार्टी द्वारा आयोजित इस महासम्मेलन का राजनीतिक मतलब नहीं निकाला जाना चाहिए.

टिप्पणियां
उन्होंने राज्य सरकार की वित्त रहित शिक्षा नीति और डिग्री के आधार पर शिक्षकों की बहाली तथा एक स्कूल में शिक्षकों को दो तरह का वेतन सहित अन्य नीतियों को प्रदेश में शिक्षा व्यवस्था में आयी गिरावट के लिए जिम्मेवार बताते हुए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए कई कदम उठाए जाने की आवश्यक्ता जतायी. उन्होंने मध्याहन भोजन के दायित्व से शिक्षकों को मुक्त किए जाने जरूरत बताते हुए शिक्षकों को केवल पठन—पाठन का दायित्व सौंपे जाने की आवश्यक्ता जतायी. मंत्री ने फिर दोहराया कि सभी अप्रशिक्षित शिक्षकों को मार्च 2019 के अंत तक प्रशिक्षण दे दिया जाएगा.
 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement