NDTV Khabar

गठबंधन के सहयोगी उपेंद्र कुशवाहा ने नीतीश कुमार के मुख्यमंत्री पद को लेकर दिया यह बड़ा बयान

कुशवाहा ने कहा कि बिहार के शासन की बागडोर संभाले नीतीश को करीब 15 साल हो गए हैं. यह किसी नेता के लिए अपनी क्षमता साबित करने के लिए काफी लंबा समय होता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गठबंधन के सहयोगी उपेंद्र कुशवाहा ने नीतीश कुमार के मुख्यमंत्री पद को लेकर दिया यह बड़ा बयान

उपेंद्र कुशवाहा ने नीतीश कुमार पर की टिप्पणी

पटना: केंद्रीय मंत्री और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा के नीतीश कुमार को लेकर किए गए एक दावे ने बुधवार को राजनीतिक गलियारों में हलचल सी मचा दी. कुशवाहा ने कहा कि नीतीश कुमार को 2020 में चौथे कार्यकाल के लिए स्वैच्छिक रूप से अपनी दावेदारी छोड़ देनी चाहिए. उन्होंने यहां एक समाचार चैनल को दिए साक्षात्कार में कहा कि नीतीश करीब 15 सालों से मुख्यमंत्री पद पर हैं और समय आ गया है कि वह किसी और को मौका देने पर विचार करें. कुशवाहा ने कहा कि बिहार के शासन की बागडोर संभाले नीतीश को करीब 15 साल हो गए हैं. यह किसी नेता के लिए अपनी क्षमता साबित करने के लिए काफी लंबा समय होता है. मुझे लगता है कि उन्हें अब खुद ही एक और कार्यकाल की अपनी दावेदारी छोड़ देनी चाहिए.

यह भी पढ़ें: बिहार एनडीए में मची खींचतान के पीछे ये है गुणा-गणित, यहां हर कोई है 'बड़ा भाई'

आरएलएसपी प्रमुख से सवाल पूछा गया था कि क्या राज्य में अगले विधानसभा चुनावों में सत्ता विरोधी लहर के चलते नीतीश कुमार के सामने मुश्किलें आ सकती हैं. गौरतलब है कि कुछ समय पहले ही उपेन्द्र कुशवाहा ने एनडीए में मची उथल-पुथल पर विराम लगा दिया था. कुशवाहा ने कहा था कि बिहार में एनडीए एकजुट है और रहेगा. उपेंद्र कुशवाहा  पटना पहुंचे और उन्होंने पत्रकारों से पूछा कि जब भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह बृहस्पतिवार शाम को भोज में शामिल नहीं हुए, तो उनसे सवाल क्यों नहीं पूछा जा रहा? केवल मेरी अनुपस्तिथि पर इतना सवाल क्यों पूछा जा रहा है? हालांकि, उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि वह कुछ निजी कार्यक्रम में व्यस्तता की वजह से पटना एनडीएके भोज में शामिल नहीं हो सके.

यह भी पढ़ें: तेजस्वी यादव ने दिया उपेंद्र कुशवाहा को न्योता, कहा- एनडीए में आपकी कोई जगह नहीं

वहीं, भाजपा नेताओं का कहना है कि उनसे सम्पर्क करने की कोशिश सभी नेताओं ने की, लेकिन उन्होंने बात केवल बिहार भाजपा के अध्यक्ष नित्यानंद राय से की और आने से इनकार कर दिया. बताया जा रहा है कि उपेंद्र कुशवाहा के नहीं आने के पीछे उनका भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित साह द्वारा नज़रअंदाज किया जाना है. खबर है कि उपेंद्र कुशवाहा इस बात से काफी नाराज चल रहे हैं.

टिप्पणियां
VIDEO: कुशवाहा ने दिया तेजस्वी को जवाब.


उन्हीं की पार्टी के नेता नागमणी द्वारा उन्हें आगामी विधानसभा चुनाव में एनडीए की ओर से मुख्यमंत्री का चेहरा बनाए जाने पर कुशवाहा का कहना था कि जिन्होंने यह बयान दिया है, उनसे सवाल पूछिये, मुझे इस पर कुछ भी नहीं कहना है. बता दें कि रालोसपा के नेता और उपेंद्र कुशवाहा के सहयोगी नागमणी बृहस्पतिवार की शाम को भोज में अन्य नेताओं के साथ शामिल हुए थे और वहां उन्होंने फिर अपनी मांग दोहराई थी. यह माना जा रहा है कि भाजपा नेताओं द्वारा भाषण का कार्यक्रम इन्हीं वजहों से भोज से पहले नहीं रखा गया.(इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement