NDTV Khabar

महागठबंधन में पर्याप्त सीट नहीं मिली तो क्या जीतन राम मांझी की पार्टी करेगी चुनाव का बहिष्कार ?

हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) के अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने कहा कि 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों से पहले बिहार में सीटों के बंटवारे के मुद्दे पर वह राजद मुखिया लालू प्रसाद यादव से चर्चा करेंगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महागठबंधन में पर्याप्त सीट नहीं मिली तो क्या जीतन राम मांझी की पार्टी करेगी चुनाव का बहिष्कार ?

हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) के अध्यक्ष जीतन राम मांझी की फाइल फोटो.

खास बातें

  1. सीटों की शेयरिंग पर क्या बोले हम पार्टी के मुखिया जीतन राम मांझी
  2. सीटों के बंटवारे को लेकर मांझी करेंगे लालू प्रसाद यादव से मुलाकात
  3. मांझी की पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष दे चुके हैं चुनाव बहिष्कार की धमकी
नई दिल्ली:

हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) के अध्यक्ष जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) ने शनिवार को कहा कि 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों से पहले बिहार में सीटों के बंटवारे के मुद्दे पर चर्चा के लिये वह अगले सप्ताह रांची जाकर राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद से मुलाकात करेंगे. हालांकि , उन्होंने  पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वृषण पटेल के आक्रामक रुख से खुद को अलग रखना चाहा. दरअसल, पटले ने इस सप्ताह की शुरुआत में कहा था कि अगर आगामी चुनाव के लिये उनकी पार्टी को ‘‘पर्याप्त'' संख्या में सीटें नहीं दी गयीं तो पार्टी आम चुनावों का बहिष्कार करेगी.

यह भी पढ़ें- तेजप्रताप यादव ने माना, घर दिलाने में नीतीश कुमार ने की मदद, कहा- उनसे मेरे व्यक्तिगत संबंध


हम बिहार में राजद, कांग्रेस, रालोसपा, वीआईपी और एलजेडी के साथ विपक्षी गठबंधन का हिस्सा है.चारा घोटाले के तीन मामलों में दोषी करार दिये जाने के बाद लालू प्रसाद रांची में जेल में हैं. फिलहाल वह खराब स्वास्थ्य के कारण राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज में भर्ती हैं.मांझी ने कहा कि शनिवार को राजद प्रमुख से सिर्फ तीन लोगों को मिलने की अनुमति थी. उन्होंने बताया, ‘‘शनिवार को उनके छोटे बेटे तेजस्वी यादव और हमारे गठबंधन सहयोगी रालोसपा के उपेंद्र कुशवाहा और विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के मुकेश सहनी ने उनसे मुलाकात की. अगले सप्ताह मैं उनसे मुलाकात करूंगा.''

यह भी पढ़ें- NDA से अलग होने पर टूट की कगार पर कुशवाहा की RLSP, अब 'सेनापति' ने पार्टी छोड़ थामा JDU का दामन

 बिहार में महागठबंधन के पक्ष में भाकपा 
भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) ने शनिवार को कहा कि 2019 के आम चुनावों में भाजपा को हराने के लिए वह बिहार में वाम दलों और कांग्रेस एवं राजद जैसी धर्मनिरपेक्ष पार्टियों के महागठबंधन के पक्ष में हैं. भाकपा के प्रदेश सचिव सत्य नारायण सिंह ने संवाददाताओं से कहा कि पार्टी की मंशा ऐसे गठबंधन का हिस्सा बनने की है और इस मकसद के लिए एक जैसी सोच रखने वाली, धर्मनिरपेक्ष एवं लोकतांत्रिक पार्टियों के साथ बातचीत करने के लिए एक समिति गठित की है. प्रदेश भाकपा की तीन दिवसीय बैठक के समापन के बाद उन्होंने कहा, “हम, वाम दलों ने बिहार में (2019 लोकसभा चुनावों के लिए) हमारे चुनावी गठबंधन पर अंतिम फैसला ले लिया है. वाम एकता में कोई समस्या या विवाद नहीं है.” सिंह ने कहा, “लेकिन पार्टी को लगता है कि भाजपा को हराने के लिए एक बड़े वाम एवं धर्मनिरपेक्ष लोकतांत्रिक मोर्चे की जरूरत है. हमारा विचार है कि वाम दलों को राजद एवं कांग्रेस के साथ गठबंधन कर लेना चाहिए.”

वीडियो- बड़ी खबरः एनडीए छोड़ महागठबंधन में शामिल हुए उपेंद्र कुशवाहा 

टिप्पणियां

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement