NDTV Khabar

बिहार में किस वजह से आई बाढ़? मिल गया जवाब!

बिहार के जल संसाधन मंत्री ललन सिंह ने दावा किया था कि चूहों के कारण ही तटबंध कमजोर हो गए, टूट गए और बाढ़ आ गई.

5.3K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार में किस वजह से आई बाढ़? मिल गया जवाब!

बिहार में आई बाढ़ से 300 से अधिक लोगों की मौत हो हुई थी...

खास बातें

  1. बिहार में चूहे सियासी चर्चा का केंद्र बने हुए हैं
  2. जल संसाधन मंत्री ललन सिंह के बयान को लेकर बवाल जारी
  3. बाढ़ के लिए भी चूहों को ही दोषी ठहराया जा रहा है
पटना: बिहार में चूहों का अपना एक अलग स्टेटस है. इतना दबदबा है कि फिलहाल बिहार में चर्चा का केंद्र बने हुए हैं. पहले तो चूहों को छापेमारी में बरामद शराब को थानों से गायब करने का दोषी बताया गया था, अब बाढ़ जैसी विभीषिका लाने के लिए भी चूहों को ही दोषी ठहराया जा रहा है. बिहार के जल संसाधन मंत्री ललन सिंह ने तो मीडिया के सामने बयान दिया कि चूहों के कारण ही तटबंध कमजोर हो गए, टूट गए और बाढ़ आ गई. इतना ही नहीं, आपदा प्रबंधन विभाग के मंत्री दिनेशचंद्र यादव ने कहा, "अब चूहों और मच्छरों का क्या उपाय है? आप क्या कर लीजिएगा? यह तो चलता ही रहेगा." सिंह के बयान को लेकर बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है.

मुख्य विपक्षी पार्टी आरजेडी को बैठे-बिठाए एक मुद्दा मिल गया. तेजस्वी ने एक कदम आगे बढ़कर बिहार में बाढ़ किस वजह से आई? इस पर सोशल मीडिया पर पोल करा लिया. उसके नतीजे सामने आने का भी उन्होंने दावा किया. तेजस्वी ने लिखा, "6624 लोगों ने वोट किया उसमें से 69% का कहना है. नीतीश जी के 13 साल के तटबंध निर्माण में लाखों करोड़ के हुए भ्रष्टाचार के कारण बाढ़ आई. बाक़ी 31 प्रतिशत लोगों कहना है चूहों के कारण बाढ़ आई."
 
तेजस्वी का कहना है कि बिहार में बाढ़ भ्रष्टाचार के कारण आई है. मजेदार बात यह है कि 31 फीसदी ऐसे लोग भी हैं जो चूहों को बिहार में बाढ़ के लिए जिम्मेदार ठहरा रहे है.

यह भी पढ़ें: आख़िर नीतीश क्यों मानते हैं कि लालू यादव मीडिया के 'डार्लिंग' हैं

उधर, लालू ने भी नीतीश कुमार को जमकर घेरा. उन्होंने ट्वीट किया, "नीतीश बताएं कि बिहार में बाढ़ 'दो पैर वाले चूहों' की वजह से आई या 'चार पैरों वाले चूहों' की वजह से, जो तटबंध निर्माण का हजारों करोड़ रुपये खा गए."

VIDEO : हर जगह नीतीश की वादाख़िलाफ़ी का ज़िक्र


लालू यहीं नहीं रुके. एक अन्य ट्वीट में लालू ने अपने खास अंदाज में कटाक्ष करते हुए लिखा, 'बाढ़ की जवाबदेही चूहों की है, नीतीश की थोड़े है. नीतीश तो नैतिकता के नशे में मस्त और अंतरात्मा से वार्तालाप में व्यस्त हैं. जय हो चूहा सरकार की'.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement