NDTV Khabar

अपने ट्वीट से नीतीश कुमार को क्यों परेशान कर रहे हैं JDU के नेता अजय आलोक

जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के नेता डॉ. अजय आलोक ने भले ही गुरुवार शाम अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया, लेकिन अपने ट्वीट से वह पार्टी के लिए परेशानी का कारण बनते जा रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अपने ट्वीट से नीतीश कुमार को क्यों परेशान कर रहे हैं JDU के नेता अजय आलोक

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार- (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के नेता डॉ. अजय आलोक ने भले ही गुरुवार शाम अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया, लेकिन अपने ट्वीट से वह पार्टी के लिए परेशानी का कारण बनते जा रहे हैं. पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने पश्चिम बंगाल को 'मिनी पाकिस्तान' कहे जाने पर उनसे जवाब तलब किया. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इस बात का अभाव हो गया था कि आलोक वैकल्पिक राजनीतिक ठिकाने के तलाश में जान-बूझकर ऐसे वक्तव्य और ट्वीट कर रहे हैं. हालांकि पार्टी के नेताओं ने आलोक को सम्माजनक तरीक़े से इस्तीफ़ा देने को कहकर उन्हें उस परिस्थिति से उबारा, जब पूर्व में बयानों के कारण उन्हें प्रवक्ता के पद से हटाया गया था.

डॉक्टरों की हड़ताल: केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री बोले- डॉक्‍टरों को धमका रही हैं ममता, 43 डॉक्‍टरों ने दिया इस्‍तीफा


आलोक ने अपना इस्तीफा बृहस्पतिवार रात ट्विटर पर साझा किया जिसमें उन्होंने पार्टी की राज्य इकाई के प्रमुख वशिष्ठ नारायण सिंह को संबोधित किया. उन्होंने अपने इस्तीफे में लिखा, ‘‘मैं आपको पत्र लिखकर यह सूचित कर रहा हूं कि मैं पार्टी प्रवक्ता के पद से इस्तीफा दे रहा हूं क्योंकि मुझे लगता है कि मैं पार्टी के लिए अच्छा काम नहीं कर रहा हूं. मैं यह अवसर देने के लिए आपका और पार्टी का धन्यवाद करता हूं लेकिन कृपया मेरा इस्तीफा स्वीकार करें.''

आलोक ने कहा, ‘‘मेरे विचार नि:संदेह मेरे हैं और ये पार्टी से मेल नहीं खाते. हमेशा मेरा समर्थन करने वाली मेरी पार्टी तथा मेरे अध्यक्ष का धन्यवाद. मैं नीतीश कुमार की शर्मिंदगी का कारण नहीं बनना चाहता.''

सऊदी अरब में सुल्तान का 'अपमान करने' के बाद बिश्केक में भी पाक के PM इमरान खान कर बैठे बड़ी गलती

लेकिन शुक्रवार को एक बार फिर आलोक का बाग़ी तेवर जारी रहा. उन्होंने एक बार फिर ट्वीट किया जो पार्टी के अधिकारिक लाइन से कहीं भी मेल नहीं खाता. आलोक ने लिखा, ''पश्चिम बंगाल में एक डॉक्टर को 200 'रोहिंग्या' पिटाई करते हैं तो ठीक लेकिन पश्चिम बंगाल के डॉक्टर इसके विरोध में स्ट्राइक करे और समर्थन में पूरे देश के डॉक्टर आ जाए तो ग़लत? ये क्या हैं? सारे दलों को सांप सूंघ गया. एक डॉ. हर्षवर्धन के अलावा सब मौन हैं क्यों? एक डॉक्टर और नागरिक के नाते मेरा समर्थन हैं?''

पीएम मोदी ने इशारों में पाकिस्‍तान पर साधा निशाना, कहा- आतंकवाद को पनाह देने वालों के खिलाफ सख्‍त होना जरूरी

जानकारों का मानना हैं कि आलोक दरअसल भाजपा में जाना चाहते हैं. इसलिए अभी से वो भूमिका बना रहे हैं कि पार्टी उन्हें निलंबित कर दे जिससे वो हीरो बनकर भाजपा में शामिल हो सके.

टिप्पणियां

Video: नीतीश कुमार की अध्यक्षता में होगी JDU राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक

(इनपुट: भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement