NDTV Khabar

नीतीश कुमार ने क्‍यों कहा कि हम पिछड़ा ही रहना चाहते हैं...

नीतीश ने ये बात गुरुवार को अपनी पार्टी के अति पिछड़ा सम्मेलन में भाषण के दौरान कही. नीतीश का कहना है कि हम पिछड़ा ही नहीं, हम तो अति पिछड़ा हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नीतीश कुमार ने क्‍यों कहा कि हम पिछड़ा ही रहना चाहते हैं...

बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

पटना:

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि हाल में जो विकास दर का आंकड़ा आया है उससे एक बार फिर साबित हुआ है कि विकास दर के मामले में बिहार अव्वल है. लेकिन नीतीश ने अपने आलोचकों पर इन आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा कि बिहार में जो काम किया है उसी के कारण बिहार की प्रतिष्ठा बढ़ी है और बिहार को तो बहुत लोग कहते हैं पिछड़ा है पिछड़ा है, तो भाई हम पिछड़ा हैं, अच्छा है हम पिछड़े ही रहना चाहते हैं. नीतीश ने ये बात गुरुवार को अपनी पार्टी के अति पिछड़ा सम्मेलन में भाषण के दौरान कही. नीतीश का कहना है कि हम पिछड़ा ही नहीं, हम तो अति पिछड़ा हैं. फिर उन्होंने अपने विरोधियों को निशाने पर रखते हुए कहा कि जो मन करे बोलते रहिए, लेकिन बिहार की विकास दर एक बार फिर 11.3 प्रतिशत पर आ गई हैं. ये निष्पक्ष एजेंसियों का आंकड़ा है और ये 2009 से आ रहा है.

हालांकि नीतीश ने माना कि बीच के दस सालों में एकाध साल का अपवाद हुआ होगा लेकिन 2009 से लगातार हमलोग का विकास दर डबल डिजिट में है. नीतीश ने कहा कि उन्हें इस बात की परवाह नहीं कि बहुत लोग गुप्त रखी बात बोलते रहते हैं, बयान देते रहते हैं, जो मर्ज़ी आए बोलिए लेकिन काम पर कोई असर नहीं.


टिप्पणियां

नीतीश ने दावा किया कि आज उसका यह प्रभाव है कि बिहार की विकास दर बरक़रार है. इससे पहले विकास दर पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए उप मुख्य मंत्री सुशील मोदी ने कहा था कि बिहार बिना विशेष राज्य का दर्जा प्राप्त किए विकास दर में देश में शीर्ष राज्यों में शामिल है.

VIDEO: नीतीश कुमार बोले- बिहार में भी मिलेगा गरीब सवर्णों को आरक्षण


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement