NDTV Khabar

प्रकाश पर्व में पार्टी प्रमुख लालू प्रसाद को मंच पर सीट क्यों नहीं दी गई? राजद ने जताई नाराजगी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रकाश पर्व में पार्टी प्रमुख लालू प्रसाद को मंच पर सीट क्यों नहीं दी गई? राजद ने जताई नाराजगी

मंच पर राजद प्रमुख लालू प्रसाद को जगह नहीं मिलने पर राजद ने विरोध जताया है...

खास बातें

  1. राजद उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने पार्टी की ओर से शिकायत सामने रखी
  2. बिहार की मौजूदा महागठबंधन सरकार में राजद और कांग्रेस साझेदार हैं
  3. लालू और उनके दोनों मंत्री बेटों को मंच पर जगह नहीं दी गई थी
पटना:

प्रकाश पर्व का सफलतापूर्वक आयोजन करके राहत की सांस ले रहे बिहार के सीएम नीतीश कुमार के लिए नई मुसीबत सामने आ गई है. समारोह के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित कई अन्य गणमान्य हस्तियों के साथ मंच पर राजद प्रमुख लालू प्रसाद को जगह नहीं मिलने के मुद्दे पर राजद और कांग्रेस ने विरोध जताया है.

राजद उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने इस मामले पर पार्टी की ओर से शिकायत सामने रखी. सिखों के 10वें गुरू, गुरू गोविंद सिंह की 350वीं जयंती के अवसर पर कल आयोजित प्रकाश पर्व के लिए इंतजाम बिहार सरकार की ओर से किए गए थे. बिहार की मौजूदा महागठबंधन सरकार में राजद और कांग्रेस साझेदार हैं.

रघुवंश ने बताया, "ऐसा नहीं लग रहा था कि गुरू गोविंद सिंह जी के 350वें प्रकाश पर्व के लिए इंतजाम महागठबंधन की सरकार ने किए थे. बल्कि ऐसा लग रहा था कि सत्ता में शामिल किसी एक पार्टी ने ये इंतजाम किए हों." उन्होंने कहा, "यह (लालू को मंच पर जगह नहीं देना) लोगों को पसंद नहीं आया है. लालू प्रसाद को (मंच के) नीचे बिठाया गया. भव्य तैयारियों के लिए सभी ने नीतीश कुमार की तारीफ की. प्रकाश पर्व समारोह की तैयारियों के प्रबंधन में क्या राजद की भागीदारी नहीं थी?"  


नीतीश पर एक और निशाना साधते हुए रघुवंश ने कहा, "एक ही शख्स था जिसने सारे इंतजामों का श्रेय लेने के लिए तस्वीरें खिंचवाई." लालू और बिहार सरकार में मंत्री पद संभाल रहे उनके दोनों बेटे - तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव - समारोह के दौरान अन्य लोगों के साथ वीआईपी गैलरी में बैठे थे.

नीतीश ने दो केंद्रीय मंत्रियों - रविशंकर प्रसाद और राम विलास पासवान - और बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद सहित प्रधानमंत्री मोदी के साथ मंच साझा किया. कांग्रेस ने भी मंच पर लालू को नहीं बिठाने को लेकर नाखुशी जाहिर की और इसका ठीकरा प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) एवं भाजपा पर फोड़ा.

टिप्पणियां

बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और नीतीश की सरकार में शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी ने कहा, "पीएमओ और भाजपा के निर्देश पर मंच पर लालू प्रसाद को जगह नहीं दी गई." चौधरी ने कहा, "हर कोई जानता है कि किसी समारोह में प्रधानमंत्री के साथ मंच पर कौन बैठेगा, इस बाबत एसपीजी को पीएमओ निर्देशित करता है. यह मुद्दा प्रधानमंत्री के सामने उठाया जाना चाहिए कि लालू प्रसाद को मंच पर सीट क्यों नहीं दी गई."

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement