भारत-पाक मुकाबले को सिर्फ क्रिकेट के नजरिये से देखा जाए

भारत-पाक मुकाबले को सिर्फ क्रिकेट के नजरिये से देखा जाए

फाइल फोटो

अब क्रिकेट का टी-20 टूर्नामेंट शुरू हो चुका है और मैं उम्मीद करूंगा कि भारत और पाकिस्तान के मुकाबले को सिर्फ क्रिकेट के नजरिये से देखा जाए, किसी और नजरिये से देखने की शायद जरूरत नहीं है।

मैंने पहले भी कहा था कि पाकिस्तान के तमाम बड़े पूर्व खिलाड़ी तमाम न्यूज चैनल्स पर छाए हुए हैं और जैसा कि शाहिद अफरीदी ने कहा कि भारतीय दर्शकों की तरफ से नए पुराने-दोनों खिलाड़ियों को उतना ही प्यार मिलता है, इसलिए उम्मीद है कि ये प्यार ऐसे ही बरकरार रहेगा।

सुरक्षा के लिहाज से भी शाहिद अफरीदी खुद कह चुके हैं कि पाकिस्तान टीम के दिमाग में सुरक्षा को लेकर कोई सवाल नहीं है। तो आइए खेल को खेल की तरह लें, हर जगह बेवजह सियासत को तरजीह नहीं मिलनी चाहिए।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

(अभिज्ञान प्रकाश एनडीटीवी इंडिया में सीनियर एक्जीक्यूटिव एडिटर हैं)

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं। इसआलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवासच्चाई के प्रति एनडीटीवी उत्तरदायी नहीं है। इस आलेख में सभी सूचनाएंज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं। इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवातथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार एनडीटीवी के नहीं हैं, तथा एनडीटीवी उनकेलिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है।