NDTV Khabar

क्या 'कंपस' की आकर्षक क़ीमत भारतीय एसयूवी बाज़ार में 'जीप' की सफलता के लिए काफ़ी है?

फ़िएट क्राइसलर ऑटोमोबाइल ने अपने ब्रांड जीप कंपस की शुरूआती एक्स शोरूम क़ीमत 14.95 लाख रुपये रखी गई है और टॉप एंड वेरिएंट के लिए क़ीमत जा रही है 20.65 लाख रुपये तक.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
क्या 'कंपस' की आकर्षक क़ीमत भारतीय एसयूवी बाज़ार में 'जीप' की सफलता के लिए काफ़ी है?

'जीप कंपस' अगर सफल होती है तो यह प्रोडक्ट कंपनी के लिए ऐतिहासिक हो सकता है

बहुत दिनों के बाद ऐसा हुआ जब किसी प्रोडक्ट ने सबसे ज़्यादा हल्ला अपनी क़ीमत की वजह से मचाया है, चर्चाएं बटोरी हैं. तुरंत याद नहीं आएगा कोई ऐसा प्रोडक्ट जिसके लॉन्च के बाद क़ीमतों को लेकर इतनी चर्चा हुई हो. और वो भी बड़ी गाड़ियों वाले सेगमेंट में और वो भी एसयूवी वाले सेगमेंट में. और वो भी उस कंपनी के द्वारा जिसकी सबसे सस्ती गाड़ी भी अभी तक पचास लाख रुपये से ऊपर थी. फ़िएट क्राइसलर ऑटोमोबाइल ने ऐसा ही कुछ किया है अपने ब्रांड जीप के नए लॉन्च के साथ. वो है जीप कंपस. 

जीप कंपस की शुरूआती एक्स शोरूम क़ीमत 14.95 लाख रुपये रखी गई है और टॉप एंड वेरिएंट के लिए क़ीमत जा रही है 20.65 लाख रुपये तक. जीप एक ऐसा ब्रांड है जो ऑफ़रोडिंग के लिए दुनिया में जाना जाता है, कंपनी ने भारत में पहले से अपनी रैंगलर और ग्रैंड चेरोकी उतारी हुई हैं.

कंपनी के प्रोडक्ट प्रीमियम और लग्ज़री सेगमेंट के हैं, पर ये भी सच है कि भारत में कंपनी को पांव जमाना ही है. ऐसे में कंपस के ऊपर हम सबकी नज़रें ज़रूर थीं. कंपनी ने इस पांच सीटर एसयूवी की क़ीमत के मामले में काफ़ी ठोस रणनीति दिखाई है. 65 फ़ीसदी लोकल कंपोनेंट के साथ आई इस एसयूवी की क़ीमतें इस तरह से हैं- 
पेट्रोल इंजन विकल्प- 14.95 लाख रु से 19.40 लाख रु तक 
डीज़ल इंजन विकल्प- 15.45 लाख रु से 20. 65 लाख रु तक
(एक्स शोरूम, दिल्ली)

इस क़ीमत के साथ कंपनी ने कई और विकल्प भी दिए हैं. तीन ट्रिम हैं, स्पोर्ट, लौंगीट्यूड और लिमिटेड. जिनमें से स्पोर्ट में ब्लैक अपहॉल्स्ट्री है, लौंगीट्यूड और लिमिटेड में लेदर या डूअल टोन अपहॉल्स्ट्री का विकल्प हैं. तीनों ट्रिम में कुल दस वेरिएंट हैं. जिसमें स्पोर्ट और लौंगीट्यूड ट्रिम टू व्हील ड्राइव (4x2) के साथ है और लिमिटेड में फ़ोर व्हील ड्राइव (4X4) का विकल्प है. 

विकल्पों के बारे में आपको पता ही है कि पेट्रोल और डीज़ल इंजनों में विकल्प हैं -2.0 लीटर मल्टीजेट टर्बो-डीज़ल इंजन, 171 bhp ताक़त और 350 nm टॉर्क के साथ. और है 1.4 लीटर मल्टी-एयर पेट्रोल इंजन, 160 bhp ताक़त और 250 nm टॉर्क वाला. डीज़ल इंजन विकल्प में सिर्फ़ 6 स्पीड मैन्युअल ट्रांसमिशन विकल्प है. पेट्रोल इंजन विकल्प में मैन्युअल के साथ 7 Speed ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन का विकल्प भी दिया गया. ड्राइव करने के लिए चार टेरेन मोड हैं, ऑटो, मड, सैंड और स्नो.

50 सेल्स ऑउटलेट से बिक्री शुरू होगी. अभी तक की बुकिंग के आंकड़ों के हिसाब से कंपनी ने शुरुआत डीज़ल मैन्युअल वेरिएंट की डिलिवरी से करनी की सोची है. वहीं पेट्रोल ऑटोमैटिक की डिलिवरी दिवाली के पास शुरू हो सकती है. 3 साल या एक लाख किलोमीटर की वारंटी, कांप्लिमेंट्री रोड साइड असिस्टेंस पैकेज तीन साल के लिए. दो साल की एक्स्ट्रा वारंटी भी ली जा सकेगी. 

अब अगर इस क़ीमत को देखें तो इसके दायरे में मोटे तौर पर तीन गाड़ियां नज़र आ रही हैं. एक तो है महिंद्रा की XUV 500. ये 12 से 17 लाख रुपये के बीच की क़ीमत की एसयूवी है. काफ़ी दिनों से इस सेगमेंट पर राज कर रही है. इसी दायरे में आती है टाटा की नई एसयूवी हेक्सा. हेक्सा की क़ीमत 11 से 16 लाख रुपये के बीच है.

वहीं सेगमेंट के दूसरे सिरे में ह्युंडै की टूसौं जैसी छोटी एसयूवी है. टूसौं की एक्स शोरूम क़ीमत पेट्रोल वर्ज़न में 18 से लगभग 21 लाख रुपये तक जाती है और डीज़ल वर्ज़न में साढ़े बीस लाख रुपये से लगभग चौबीस लाख रुपये तक है. ऐसे में, दोनों प्राइस रेंज की बीच जीप कंपस, अपनी क़ीमत के साथ बहुत मज़बूत ग्राउंड पर खड़ी है. सवाल भी सिर्फ़ एक ही बचा है कि क्या ग्राहकों की उम्मीदों के हिसाब से जीप इंडिया आफ़्टर सेल्स सर्विस दे पाएगी? 

जीप को याद रखना होगा कि भले ही मालिक कंपनी के सिर्फ़ नाम में फ़िएट भी है, उससे इन गाड़ियों का रिश्ता ना हो पर इसके लॉन्च के बाद सोशल मीडिया पर जो सवाल आए उनमें सिर्फ़ एक ही भाव था, वो ये कि क्या जीप उन तजुर्बों से सीख पाएगी, आफ़्टर सेल्स सर्विस और नेटवर्क में बेहतरी कर पाएगी? कंपनी ने अपने नेटवर्क को और बेहतर करने का वादा किया है, जिसमें अगर सफल होती है तो फिर ये प्रोडक्ट कंपनी के लिए ऐतिहासिक हो सकता है. 

क्रांति संभव NDTV इंडिया में एसोसिएट एडिटर और एंकर हैं...

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति NDTV उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार NDTV के नहीं हैं, तथा NDTV उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement