Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ऐसी लाइब्रेरी और अध्ययन कक्ष आपने किसी हिन्दी प्रदेश में देखी है?

हिन्दी प्रदेशों के युवाओं में प्रतिभा की कमी नहीं है बस उनमें निखार न आए इसका इंतज़ाम सिस्टम और समाज ने कर रखा है.

ऐसी लाइब्रेरी और अध्ययन कक्ष आपने किसी हिन्दी प्रदेश में देखी है?

हिन्दी प्रदेशों के युवाओं में प्रतिभा की कमी नहीं है बस उनमें निखार न आए इसका इंतज़ाम सिस्टम और समाज ने कर रखा है. सैंकड़ों किलोमीटर तक लाइब्रेरी नज़र नहीं आएगी. इसे बीते ज़माने का बताया जाता है. मैं अमरीका के सैन फ़्रांसिस्को में हूं. यहां यूनिवर्सिटी ऑफ़ कैलिफ़ोर्निया, बर्कले की लाइब्रेरी की रीडिंग रूम की तस्वीर दिखाना चाहता हूं. 

ckbu5ct

यह सरकार के पैसे से चलने वाली यूनिवर्सिटी है. देखिए कि अमरीका ने ज्ञान के महत्व को कैसे संजोया है. 3g3iv7k8

यहाँ पढ़ने वाले ज़्यादातर पहली पीढ़ी के छात्र हैं यानि इनके मां बाप ने पहले कभी कालेज का मुंह नहीं देखा. यहां 36 लाइब्रेरी है जिसका इस साल का बजट 461 करोड़ है. 

7vr78iog

दो रीडिंग रूम की तस्वीर देखिए. छत से लेकर पढ़ने का माहौल देखिए. अगर ये सुविधा आपको मिली होती तो आप न जाने क्या से क्या कर जाते. अपने साथ हो रहे इस धोखे को पहचानिए.

ekh535c8

नेताओं ने आपको बर्बाद किया लेकिन आप क्यों बर्बाद हो रहे हैं. लाइब्रेरी की ज़रूरत आपको भी है. 

oj0c8aqg

शहर शहर में रीडिंग रूम वाली लाइब्रेरी का धंधा चल पड़ा है जहां एक ग़रीब छात्र पंद्रह सौ से दो हज़ार महीना देकर पढ़ रहा है. अगर हर शहर की यूनिवर्सिटी या कालेज में ऐसी लाइब्रेरी होती तो आज आप हिन्दू मुसलमान की जगह आसमान में उड़ान भर रहे होते. 

60vgqvmo

इस झूठ से दूर रहिए कि आज कल कोई पढ़ता नहीं है. आप अध्ययन कक्का तस्वीरों को देखिए. पूरा हॉल भरा हुआ है. इसलिए आप भी पढ़िए. पांच पांच पन्नों के किताब क्योंकि आपका मुक़ाबला ऐसे गंभीर छात्रों से हैं.  

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति NDTV उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार NDTV के नहीं हैं, तथा NDTV उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.