दुनिया में कोरोना संक्रमण को लेकर क्या-क्या हो रहा है

कोरोना वायरस की खबरों को पढ़ते हुए आतंकित नहीं होना है बल्कि सतर्क रहने का प्रण मज़बूत करना है, आपकी सतर्कता ही जान बचाएगी

दुनिया में कोरोना संक्रमण को लेकर क्या-क्या हो रहा है

कोरोना वायरस से संबंधित किसी भी रिपोर्ट में संक्रमित लोगों और मरने वालों की संख्या लगातार बदल रही है. इसका ध्यान रखें. इन खबरों को पढ़ते हुए आतंकित नहीं होना है. बल्कि सतर्क रहने का प्रण मज़बूत करना है. आपकी सतर्कता ही जान बचाएगी. 

यूरोप में कोरोना से मरने वालों की संख्या 30,000 हो गई है. स्पेन में 9000 से अधिक लोग मारे गए हैं. वहां एक दिन में 864 लोगों की मौत हो गई. संक्रमित लोगों की संख्या एक लाख पहुंच गई है. वहां पांच दिनों तक लगातार 800 से अधिक लोगों की मौत हुई है. यहां भी वेंटिलेटर की कमी हो गई है. ऐसी ख़बरें पढ़ने को मिल रही हैं कि डाक्टर हर गंभीर मरीज़ को वेंटिलेटर नहीं दे पा रहे हैं. इसका मतलब है कि किसी-किसी को मरने के लिए छोड़ दिया जा रहा है. 

क्यूबा ने 14 देशों में 593 डॉक्टर भेजे हैं. अलजज़ीरा न्यूज़ वेबसाइट के मुताबिक 179 डॉक्टर, 399 नर्स और 15 लैब टेक्निशियन भेजे गए हैं. ये सभी हेनरी रीव इमरजेंसी मेडिकल दस्ते के हैं. हेनरी रीव अमेरिका मूल के जनरल थे जिन्होंने 19 वीं सदी में क्यूबा की आज़ादी के लिए लड़ाई लड़ी थी. 2005 में फिदेल कास्त्रों ने इस दस्ते का गठन किया था. इस दस्ते ने 2005 से 2017 के बीच 21 देशों के 35 लाख लोगों की मदद की है. बाढ़, भूकंप, तूफान जैसी आपदाओं के समय. क्यूबा में कोविड के 170 मामले सामने आए हैं और 4 लोगों की मौत हुई है.

इटली में मरने वालों की संख्या 13000 के पार हो गई है. यहां 50 से अधिक डॉक्टरों की मौत हो गई है. 7100 हेल्थ वर्कर संक्रमित हो गए हैं. डॉक्टर वाकई मुश्किल लड़ाई लड़ रहे हैं. उन पर इतना दबाव है कि 8-8 घंटे हो जाते हैं पानी पिए. वे शौच के लिए भी नहीं जा पा रहे हैं क्योंकि तब संक्रमण से सुरक्षा के लिए पहने गए गाउन को उतारना पड़ेगा. एक चूक उन्हें संक्रमित कर सकती है. इसलिए हज़मत सूट के पहनने और उतारने के नियमों का सख़्ती से पालन कर रहे हैं. अस्पतालों के आईसीयू में सन्नाटा है. मंगलवार को इटली में एक दिन में 743 लोगों की मौत हो गई. उसके पहले के शनिवार को 793 लोगों की मौत हो गई.

ब्रिटेन में कोरोना से मरने वालों की संख्या 2352 हो गई है. पिछले 24 घंटे में वहां 563 लोगों की मौत हो गई. ब्रिटेन ने मार्च के पहले हफ्ते में कहा था कि एक दिन में 25000 टेस्ट करेंगे लेकिन एक मीडिया रिपोर्ट में लिखा है कि ब्रिटेन एक दिन में 10,000 टेस्ट ही कर पा रहा है. वहां इस बात को लेकर बहस हो रही है कि जब एक दिन में 25000 टेस्ट नहीं कर पा रहे हैं तो ढाई लाख कैसे करेंगे. 

गार्डियन की रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका के अस्पतालों में भर्ती 40 प्रतिशत मरीज़ 55 साल से कम के हैं और 20 प्रतिशत मरीज़ 20 से 44 साल के हैं. यह चिन्ता की बात है. अमेरिका में कोरोना से मरने वाले लोगों की संख्या 5100 हो गई है. संख्या बढ़ भी रही है, बदल भी रही है.

सीएनएन की एक रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका में टेस्ट के नतीजे आने में दस-दस दिन भी लग रहे हैं. न्यूजर्सी के एक क्वेस्ट डायगनोस्टिक के पास टेस्ट के लिए एक लाख 60 हज़ार आर्डर आए हैं जिनकी अभी प्रक्रिया तक शुरू नहीं हुई है. इस कंपनी के पास अमेरिका भर से 3 लाख से अधिक आर्डर आए हैं.

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति NDTV उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार NDTV के नहीं हैं, तथा NDTV उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com