NDTV Khabar

खिलाड़ी नहीं, विश्व रिकॉर्डों की किताब है...

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
खिलाड़ी नहीं, विश्व रिकॉर्डों की किताब है...
विशेष नोट : अपने एक पुराने आलेख को ही दोबारा लिखकर तथा नए रिकॉर्ड जोड़कर फिर आप लोगों के सामने पेश कर रहा हूं... आशा है, पसंद करेंगे...

बेजोड़... बेमिसाल... बेहतरीन... लासानी... लाजवाब... यही कुछ विशेषण बचे रह गए हैं, जिनसे इस खिलाड़ी का ज़िक्र किया जाना मुमकिन रह गया है... कुछ भी और लिखते ही लगता है - न्याय नहीं कर पाई लेखनी उसकी प्रतिभा के साथ... लेकिन सबसे दिलचस्प बात यह है कि ये सभी विशेषण लिखने के बावजूद अन्दर कहीं महसूस होता है - कितना भी कह लें तारीफ में, कम ही रहेगा... बार-बार, लगातार ऐसा ही माहौल बनाता जा रहा है यह खिलाड़ी, हम लिखने वालों के लिए - हम समझ ही नहीं पाते, क्या-क्या लिखें, क्या रहने दें...

इस खिलाड़ी ने एक बार फिर साबित किया है कि उम्र सिर्फ एक आंकड़ा है, जो आपके जज़्बे और जुनून से बड़ा नहीं हो सकता... फिटनेस, जज़्बा, और जोश उम्र का मोहताज कतई नहीं होता... जिस उम्र से काफी पहले ही बेहतरीन कहे जाने वाले अन्य खिलाड़ी घर बैठ चुके थे, उस उम्र में भी युवाओं के लिए प्रेरणास्रोत बने रहना उपलब्धि नहीं है क्या... मैं तो कहूंगा, इस खिलाड़ी ने एक बार फिर साबित कर दिया कि इसकी तुलना के लिए इसके अलावा किसी भी और खिलाड़ी को ढूंढना लगभग असंभव है...

अब फिर इस बेजोड़ खिलाड़ी ने एक ऐसा कारनामा कर दिखाया है, जो किसी भी अन्य के लिए अकल्पनीय है, क्योंकि अंतरराष्ट्रीय क्रिेकेट में सर्वाधिक शतक ठोकने वालों की सूची में दूसरे और तीसरे नंबर पर मौजूद रिकी पॉन्टिन्ग (ऑस्ट्रेलिया) और जैक कालिस (दक्षिण अफ्रीका) क्रमशः 29 और 41 शतक पीछे हैं, और यह खाई भरना उनकी उम्र को देखते हुए नितांत असंभव है... वैसे भी पिछले कुछ सालों से यह खिलाड़ी ऐसे मुकाम पर है, कि जहां-जहां खेलेगा, रिकॉर्ड बनेगा ही... बात मज़ाक की ज़रूर लगती है, लेकिन कुछ विश्व रिकॉर्ड तो अब इसके साथ-साथ चल रहे हैं, और जब तक वह खेलता रहेगा, चलते रहेंगे, बढ़ते रहेंगे... दुनिया में सर्वाधिक एक-दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच (462), और सर्वाधिक टेस्ट मैच (188) खेलने तथा सर्वाधिक एक-दिवसीय अंतरराष्ट्रीय रन (18374) तथा सर्वाधिक टेस्ट रन (15470) के आंकड़े इसी खिलाड़ी के खेल से चल रहे हैं...

अब नज़र डालते हैं, इस खिलाड़ी से जुड़े कुछ रिकॉर्डों पर...

 
  • सर्वाधिक टेस्ट मैच : 188*
  • सर्वाधिक टेस्ट रन : 15470*
  • सर्वाधिक वन-डे रन : 18374*
  • सर्वाधिक अंतरराष्ट्रीय रन (टेस्ट + वन-डे + टी-20) : 33854*
  • सर्वाधिक टेस्ट शतक : 51*
  • सर्वाधिक वन-डे शतक : 49*
  • सर्वाधिक अंतरराष्ट्रीय शतक : 100*
  • सबसे बड़ी वन-डे पारियों की सूची में दूसरे स्थान पर: 200 रन (नॉट आउट, 147 गेंद, 25 चौके, तीन छक्के), दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध, ग्वालियर में, फरवरी 24, 2010 को... (सबसे बड़ी वन-डे पारी वीरेन्द्र सहवाग की है - 219 रन (149 गेंद, 25 चौके, सात छक्के) वेस्ट इंडीज़ के विरुद्ध, इंदौर में, दिसम्बर 8, 2011 को...)
  • टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक 50+ पारियां : 116* (51 शतक, 65 अर्द्धशतक)
  • टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक 150+ पारियां : 20*
  • वन-डे क्रिकेट में सर्वाधिक 50+ पारियां : 144* (49 शतक, 95 अर्द्धशतक)
  • वन-डे क्रिकेट में सर्वाधिक 150+ पारियां : 5* (186*, 152, 163*, 175 तथा 200*)
  • वन-डे क्रिकेट में सर्वाधिक मैन ऑफ द मैच पुरस्कार : 62
  • वन-डे क्रिकेट में सर्वाधिक मैन ऑफ द सीरीज़ पुरस्कार : 15
  • सबसे कम पारियों में टेस्ट क्रिकेट में 10,000 रन बनाने का रिकॉर्ड वेस्ट इंडीज़ के खिलाड़ी ब्रायन लारा के साथ संयुक्त रूप से... दोनों ने यह आंकड़ा छूने के लिए 195 पारियां खर्च कीं...
  • वन-डे में सबसे बड़ी साझेदारी का विश्व रिकॉर्ड राहुल द्रविड़ के साथ, 331 रन, दूसरे विकेट के लिए, न्यूज़ीलैण्ड के खिलाफ, हैदराबाद में, नवंबर 8, 1999...
  • वन-डे में किसी सलामी जोड़ी द्वारा साझेदारी में बनाए गए सर्वाधिक रनों का विश्व रिकॉर्ड, सौरव गांगुली के साथ, कुल 6609 रन, जिनमें 21 शतकीय तथा 23 अर्द्धशतकीय साझेदारियां शामिल हैं... ये रन 136 पारियों में 49.32 की औसत से बनाए गए...
  • वन-डे में किसी भी जोड़ी द्वारा साझेदारी में बनाए गए सर्वाधिक रनों का विश्व रिकॉर्ड, सौरव गांगुली के साथ, कुल 8227 रन, जिनमें 26 शतकीय तथा 29 अर्द्धशतकीय साझेदारियां शामिल हैं... ये रन 176 पारियों में 47.55 की औसत से बनाए गए...
  • वन-डे में किसी भी जोड़ी द्वारा की गई सर्वाधिक शतकीय साझेदारियों का विश्व रिकॉर्ड, सौरव गांगुली के साथ, कुल 26 बार...
  • वन-डे करियर में सर्वाधिक चौके लगाने का विश्व रिकॉर्ड, 462 मैचों में 2011 चौके...
  • वन-डे की एक पारी में सबसे अधिक चौके लगाने का विश्व रिकॉर्ड संयुक्त रूप से वीरेन्द्र सहवाग के साथ - 25 चौके... (इस खिलाड़ी ने फरवरी 24, 2010 को दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध, ग्वालियर में 147 गेंदों का सामना कर 25 चौकों और तीन छक्कों की मदद से नाबाद (नॉट आउट) 200 रन बनाए थे, जबकि सहवाग ने दिसम्बर 8, 2011 को वेस्ट इंडीज़ के विरुद्ध, इंदौर में, 149 गेंदों का सामना कर 25 चौकों और सात छक्कों की मदद से 219 रन बनाए...)
  • अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सर्वाधिक बार 90-99 के बीच में आउट होने का विश्व रिकॉर्ड : 28 बार (18 बार वन-डे में, और 10 बार टेस्ट में - टेस्ट क्रिकेट में 90 से 99 के बीच 10 बार स्टीव वॉ (ऑस्ट्रेलिया) और राहुल द्रविड़ (भारत) भी आउट हुए हैं...)
  • टेस्ट क्रिकेट में विदेशी धरती पर सर्वाधिक रन : 8705...
  • टेस्ट क्रिकेट में विदेशी धरती पर सर्वाधिक शतक : 29...
  • टेस्ट क्रिकेट में 12,000 - 13,000 - 14,000 - 15,000 रनों का आंकड़ा छूने वाला पहला खिलाड़ी...
  • टेस्ट क्रिकेट में 14,000 - 15,000 रनों का आंकड़ा छूने वाला एकमात्र खिलाड़ी...
  • वन-डे क्रिकेट में 10,000 - 11,000 - 12,000 - 13,000 - 14,000 - 15,000 - 16,000 - 17,000 रनों का आंकड़ा छूने वाला पहला खिलाड़ी...
  • वन-डे क्रिकेट में 14,000 - 15,000 - 16,000 - 17,000 - 18,000 रनों का आंकड़ा छूने वाला एकमात्र खिलाड़ी...
  • सर्वाधिक बार 'एक कैलेंडर वर्ष में 1000 या अधिक टेस्ट रन' बनाने वाला खिलाड़ी - छह बार 2010 (1562), 2008 (1063), 2002 (1392), 1999 (1088), 2001 (1003) तथा 1997 (1000)...
  • सर्वाधिक बार 'एक कैलेंडर वर्ष में 1000 या अधिक वन-डे रन' बनाने वाला खिलाड़ी - सात बार - 1994, 1996, 1997, 1998, 2000, 2003 तथा 2007...
  • 20 वर्ष की आयु से पहले पांच टेस्ट शतक लगाने वाला एकमात्र क्रिकेटर...
  • भारतीय कप्तान के रूप में एक पारी में सर्वाधिक रन बनाने वाला खिलाड़ी - 217, न्यूज़ीलैण्ड के विरुद्ध, 1999-2000 में...
  • टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले सभी देशों के विरुद्ध शतक ठोकने वाला दुनिया का तीसरा खिलाड़ी... इससे पहले स्टीव वॉ तथा गैरी कर्स्टन यह कारनामा कर चुके थे... इसके बाद ब्रायन लारा, रिकी पोन्टिन्ग, राहुल द्रविड़, जैक कालिस, एडम गिलक्रिस्ट तथा मरवन अटापट्टू यह कारनामा अंजाम दे चुके हैं...
  • एक कैलेंडर वर्ष में सर्वाधिक वन-डे रन : 1894 (1998)...
  • एक कैलेंडर वर्ष में सर्वाधिक वन-डे शतक : 9 (1998)...
  • क्रिकेट विश्व कप के मैचों में सर्वाधिक अर्द्धशतक : 15...
  • क्रिकेट विश्व कप के मैचों में सर्वाधिक शतक : 6...
  • क्रिकेट विश्व कप के मैचों में सर्वाधिक रन : 2278 रन (56.95 के औसत से, छह शतक तथा 15 अर्द्धशतक, सर्वश्रेष्ठ 152, नामीबिया के विरुद्ध)...
  • क्रिकेट विश्व कप के किसी एक सत्र के मैचों में सर्वाधिक रन का विश्व रिकॉर्ड : 673 (2003)...

इस खिलाड़ी ने अब तक 462 एक-दिवसीय मैच खेले हैं, जिनकी 451 पारियों में उसने 41 बार नाबाद रहकर 44.81 की औसत से 18374 रन बनाए हैं... इन 451 पारियों में से 49 बार इसने 100 या उससे अधिक रन बनाए, और इसके अतिरिक्त 95 बार वह 50 और 99 रनों के बीच रहा... दूसरी ओर, इसने 188 टेस्ट मैचों की 311 पारियों में भी 32 बार नाबाद रहकर 55.44 की औसत से 15470 रन बनाए हैं... इनमें 51 शतक और 65 अर्द्धशतक शामिल हैं... इसी में इस खिलाड़ी का एकमात्र टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच भी जोड़ लें, तो यह खिलाड़ी अब तक 651 मैचों की 763 पारियों में 73 बार नाबाद रहकर 49.06 की औसत से 33854 रन बना चुका है... अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में उसके नाम 100 शतक और 160 अर्द्धशतक लिखे जा चुके हैं... अब जुड़े शतकों के शतक समेत कई रिकॉर्ड तो इस सूची में ऐसे हैं, जो सर डॉन ब्रैडमैन (ऑस्ट्रेलिया) के बल्लेबाज़ी औसत (99.94) के रिकॉर्ड की तरह कभी नहीं टूट पाएंगे...

यहां एक और बात भी गौर करने लायक है... कुल 763 पारियों में से 260 पारियां ऐसी हैं, जिनमें इस खिलाड़ी ने 50 या उससे अधिक रन बनाए... यानि अपने करियर की 34.07 प्रतिशत पारियों में वह 50 रन से आगे पहुंचा... इस सबके अलावा इकलौते टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच में मिले एक विकेट को जोड़ लें, तो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के 651 मैचों की 409 पारियों में गेंदबाजी कर यह खिलाड़ी अब तक 200 विकेट भी ले चुका है, और अपने अविस्मरणीय करियर में एक और दोहरा शतक जड़ चुका है...

अब आप लोग ही कहें, इस खिलाड़ी को 'विश्व रिकॉर्डों की किताब' न कहूं तो क्या कहूं... कुल पांच फुट पांच इंच कद का यह खिलाड़ी अपने अवर्णनीय खेल और शिष्ट व्यवहार की वजह से इतना ऊंचा उठ चुका है, कि अंदाज़ा लगाना मुश्किल नहीं कि आने वाले समय में किसी भी बल्लेबाज़ को सर डॉन ब्रैडमैन के बजाए इस खिलाड़ी से तुलना किए जाने पर ज़्यादा खुशी महसूस होगी...

'क्रिकेट का भगवान' कहे जाने वाले इस खिलाड़ी के मैदान में होते किसी और के नाम कोई भी रिकॉर्ड हमें अच्छा नहीं लगता... वन-डे या टेस्ट क्रिकेट की बल्लेबाज़ी से जुड़ा शायद ही कोई रिकॉर्ड हो, जो इस खिलाड़ी के नाम न हो... हां - सबसे तेज़ अर्द्धशतक, सबसे तेज़ शतक, और टेस्ट मैच की एक पारी में 400 रन - सिर्फ यही आंकड़े हैं, जो इसके नाम के साथ नहीं जुड़े हैं... लेकिन भूलना नहीं चाहिए - यह खिलाड़ी अब भी खेल रहा है...

आप कहेंगे, इतना कुछ कह दिया, एक बार भी खिलाड़ी का नाम नहीं बताया... यकीन मानिए, मुझे नाम लिखने की ज़रूरत महसूस नहीं हो रही थी, सो, नहीं लिखा... कहिए, ज़रूरत है क्या...?

टिप्पणियां
विवेक रस्तोगी Khabar.NDTV.com के संपादक हैं...

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति NDTV उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार NDTV के नहीं हैं, तथा NDTV उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement