NDTV Khabar

Padmavati: नाहरगढ़ किले की दीवार पर लटका मिला शव, सदमे में बॉलीवुड सितारे

'पद्मावती' से जुड़े विवाद पर एक्ट्रेस आलिया भट्ट ने ट्विटर पर लिखा- "ऐसा ही होता है, जब हिंसक धमकियों पर बिना किसी सजा के खुले तौर पर छोड़ दिया जाता है."

418 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
Padmavati: नाहरगढ़ किले की दीवार पर लटका मिला शव, सदमे में बॉलीवुड सितारे

फिल्म 'पद्मावती' टाल दी गई है, पहले यह 1 दिसंबर को रिलीज होने वाली थी.

खास बातें

  1. 'पद्मावती' के सपोर्ट में आए आलिया भट्ट, जावेद अख्तर
  2. रानी मुखर्जी ने किया भंसाली और उनकी फिल्म का समर्थन
  3. नाहरगढ़ किले पर लटका मिला शव, 'पद्मावती' का विरोध
नई दिल्ली: संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती' को लेकर विरोध बढ़ता जा रहा है. राजस्थान के जयपुर के पास स्थित नाहरगढ़ किले की दीवार से शुक्रवार सुबह एक 40 वर्षीय शख्स का शव लटका मिला. शव के पास पत्थर पर 'पद्मावती' के विरोध में संदेश लिखे हुए थे. वहीं, नई दिल्ली में एक मेट्रो स्टेशन के बाहर कुछ लोगों ने फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली का पुतला भी जलाया. इस खबर से बॉलीवुड भी सकते में है.

Viral Video: जब होस्ट ने दीपिका पादुकोण से पूछा- अपनी बॉडी का कौन-सा हिस्सा दिखाना चाहोगी?

एक्ट्रेस आलिया भट्ट ने ट्विटर पर खबर को लेकर शोक जताते हुए कहा है कि ऐसा ही होता है, जब हिंसक धमकियों पर बिना किसी सजा के खुले तौर पर छोड़ दिया जाता है.
मशहूर पटकथा लेखक जावेद अख्तर ने भी इस पर व्यंग्यात्मक तरीके से कहा है कि मुझे अब भी पूरी उम्मीद है कि किसी के सिर पर पांच करोड़ का ईनाम और किसी की नाक पर दस करोड़ के ईनाम का एलान करने वालों की निंदा करना एंटी नेशनल एक्टिविटी नहीं मानी जाएगी.

जयपुर: नाहरगढ़ किले पर लटका मिला शव, 'पद्मावती का विरोध, लिखा- हम पुतले नहीं जलाते, लटकाते हैं'
 
padmavati new youtube

नेशनल अवॉर्ड विजेता अभिनेता प्रसेनजीत चटर्जी और अभिनेत्री रानी मुखर्जी ने फिल्म के निर्माता-निर्देशक और अभिनेताओं के खिलाफ हिसा पर चिंता जाहिर की. विवाद पर रानी ने भंसाली के सपोर्ट में कहा- हमें समाज में प्यार से रहना चाहिए. मानवता को प्यार की भाषा बोलनी चाहिए और ऐसा कुछ भी नहीं करना चाहिए जिससे सोसायटी में नफरत फैले. मुझे प्यार से रहना पसंद है. भंसाली को रानी के समर्थन की जरूरत नहीं है. वह जानते हैं कि मैं उन्हें कितना प्यार करती हूं.

Padmavati: दिल्ली में दफन है वो अलाउद्दीन खिलजी, जिसे वक्त की एक करवट ने बना दिया शैतान

'पद्मावती' पर हो रहे विवाद के बीच भंसाली और वायाकॉम18 मोशन पिक्चर्स को राहत भी मिली है. दिल्ली उच्च न्यायालय ने फिल्म 'पद्मावती' की जांच के लिए इतिहासकारों व सामाजिक कार्यकर्ताओं की एक विशेषज्ञ समिति बनाने की मांग वाली जनहित याचिका खारिज कर दी. अदालत ने कहा कि इस तरह की 'आशाहीन व मिथ्या विचार वाली' याचिका फिल्म का विरोध करने वालों को प्रोत्साहित करती है. दूसरी ओर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि वह फिल्म व उसके दल का स्वागत करने के लिए तैयार हैं. ममता ऐसा कहने वाली पहली मुख्यमंत्री हैं. 'पद्मावती' की रिलीज का चार राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने विरोध किया है.

VIDEO: जयपुर: नाहरगढ़ किले पर लटका मिला शव...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...
(इनपुट: IANS)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement