कोटा में 100 नवजात बच्चों की मौत पर भड़के अनुराग कश्यप, ट्वीट कर कही यह बात

कोटा, राजस्थान (Kota, Rajasthan) में लगातार हो रही नवजात बच्चों की मौत पर बॉलीवुड डायरेक्टर अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) का रिएक्शन आया है.

कोटा में 100 नवजात बच्चों की मौत पर भड़के अनुराग कश्यप, ट्वीट कर कही यह बात

अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) ने कोटा में हुई नवजात बच्चों की मौत पर किया ट्वीट

खास बातें

  • कोटा में नवजात शिशुओं की मौत पर बॉलीवुड डायरेक्टर ने किया ट्वीट
  • प्रशासन पर भड़के नजर आए अनुराग कश्यप
  • अनुराग कश्यप का ट्वीट हुआ वायरल
नई दिल्ली:

राजस्थान के कोटा (Kota) में बच्चों की मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है. जेके लोन अस्पताल में पिछले 48 घंटे में नौ और नवजात बच्चों की मौत हो गई है. इसके साथ ही एक महीने के अंदर अब तक कुल सौ बच्चे दम तोड़ चुके हैं. इस मामले को लेकर चारों तरफ से रिएक्शन आने शुरू हो गए हैं. हर कोई बच्चों की मौत को लेकर हैरान है. हाल ही में इस मामले पर बॉलीवुड के मशहूर निर्देशक अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) का रिएक्शन आया है, जिसने लोगों का खूब ध्यान खींचा है. अनुराग कश्यप ने इस मुद्दे को लेकर ट्वीट किया है, जो सोशल मीडिया पर सुर्खियों का हिस्सा बन चुका है.

सलमान खान की 'दबंग 3' ने 14वें दिन भी किया शानदार प्रदर्शन, कमाए इतने करोड़

अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) ने कोटा में नवजात बच्चों की मौत को लेकर प्रशासन पर अपना गुस्सा जाहिर किया है. अनुराग कश्यप ने ट्वीट कर लिखा, "प्रशासन को आखिर हो क्या गया है. वह ऐसा होने कैसे दे सकते है और इसका संज्ञान लेने से पहले इतने सारे बच्चों के मरने का इंतजार क्यों करना पड़ता है." अनुराग कश्यप के इस ट्वीट पर लोग लगातार कमेंट कर रहे हैं. बता दें कि जान गंवाने वाले सभी बच्चों को गहन चिकित्सा इकाई (ICU) में भर्ती कराया गया था. तीन सदस्यीय जांच टीम का नेतृत्व करने वाले चिकित्सा शिक्षा सचिव वैभव गालरिया ने कहा कि ज्यादातर बच्चों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

अक्षय कुमार की फिल्म ने 7वें दिन मचाया तहलका, कमाए इतने करोड़

राजस्थना सरकार (Rajasthan Government) ने अपनी रिपोर्ट में स्वीकार किया कि अस्पताल में नवजात शिशुओं के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले कुछ इनक्यूबेटर ठीक से काम करने की स्थिति में नहीं थे. इस मामले पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने ट्वीट कर कहा कि 'कोटा के जेके लोन अस्पताल में बच्चों की मौत के बारे में सरकारी आंकड़े बताते हैं कि इस साल 963 बच्चों की मौत हुई है, जबकि साल 2015 में 1260 बच्चों ने जान गंवाई थी. वहीं, 2016 में यह आंकड़ा 1193 था, जब राज्य में बीजेपी का शासन था. वहीं, 2018 में 1005 बच्चों की जान गई है.

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com