आयुष्मान खुराना ने शेयर किया अमिताभ बच्चन के लिए नोट, बोले- मेरी क्या मजाल कि मैं उनके...

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) के लिए एक नोट सोशल मीडिया पर साझा किया है, साथ ही उन्होंने नोट में एक्टर के साथ अपने काम करने के अनुभव के बारे में भी बताया है.

आयुष्मान खुराना ने शेयर किया अमिताभ बच्चन के लिए नोट, बोले- मेरी क्या मजाल कि मैं उनके...

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने शेयर किया अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) के लिए नोट

खास बातें

  • आयुष्मान खुराना ने शेयर किया अमिताभ बच्चन के लिए नोट
  • एक्टर ने कहा कि मेरी क्या मजाल कि उनके सामने...
  • आयुष्मान खुराना का ट्वीट हुआ वायरल
नई दिल्ली:

बॉलीवुड एक्टर आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) और अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) की फिल्म 'गुलाबो सिताबो' (Gulabo Sitabo) रिलीज हो चुकी है. फिल्म ने आते ही लोगों के दिलों पर कब्जा करना शुरू कर दिया है. फिल्म में आयुष्मान खुराना और अमिताभ बच्चन की जोड़ी को भी लोग खूब पसंद कर रहे हैं. इससे इतर हाल ही में आयुष्मान खुराना ने अमिताभ बच्चन के लिए एक नोट सोशल मीडिया पर साझा किया है, साथ ही उन्होंने नोट में एक्टर के साथ अपने काम करने के अनुभव के बारे में भी बताया है. फिल्म में आयुष्मान खुराना ने कहा कि जब मैंने बचपन में चंडीगढ़ में 'हम' देखी थी तभी से मन में एक्टर बनने की ललक जाग गई थी. 


आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) के लिए शेयर किये इस लेटर में लिखा, "जब भी हमारे देश में कोई नौजवान अभिनय में कदम रखता है तो उसका ध्येय होता है अमिताभ बच्चन. मेरी आखिरी फिल्म में एक डायलॉग था कि बच्चन बनते नहीं हैं, बच्चन तो बस होते हैं. जब मैंने चंडीगढ़ में फिल्म 'हम' देखी थी तो शरीर में ऐसी ऊर्जा उत्पन्न हुई, जिसने मुझे अभिनेता बनने पर मजबूर कर दिया. मेरा पहला टीवी शूट मुकेश मिल्ज में हुआ था और यह वही जगह थी जहां 'जुम्मा-चुम्मा' शूट हुआ था. उस दिन मुझे 'मैं आ चुका हूं' वाली फीलिंग आ रही थी." अगर तब यह हाल था तो आप सोच सकते होंगे कि मैं किस अनुभूति से गुजर रहा होउंगा."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने अपने नोट में अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) के लिए आगे लिखा, "गुलाबो सिताबो में मेरे सामने बतौर सह कलाकार यह हस्ती खड़ी थी और किरदारों की प्रवृत्ति ऐसी थी कि हमें एक दूसरे को बहुत 'सहना' पड़ा. वैसे असल में मेरी क्या मजाल कि मैं उनके सामने कुछ बोल पाऊं. इस विसमयकारी अनुभव के लिए मैं शूजित दा का धन्यवाद करना चाहूंगा कि उन्होंने मुझे अमिताभ बच्चन जैसे महानायक के साथ एक फ्रेम में दिखाया. आप मेरे गुरु हैं और आपका हाथ थाम कर यहां तक पहुंचा हूं." एक्टर ने आगे लिखा, "सौ जन्म कुर्बान यह जन्म पाने के लिए, जिंदगी ने दिए मौके हजार हुनर दिखाने के लिए."