बॉलीवुड डायरेक्ट ने आनंद विहार बस अड्डे का Video किया शेयर, बोले- सोशल डिस्टेंसिंग के लिए लॉकडाउन

आनंद विहार बस अड्डे (Anand Vihar ISBT) पर हजारों की संख्या की भीड़ उमड़ी, तो बॉलीवुड डायरेक्टर ने ट्वीट कर कही यह बात.

बॉलीवुड डायरेक्ट ने आनंद विहार बस अड्डे का Video किया शेयर, बोले- सोशल डिस्टेंसिंग के लिए लॉकडाउन

फाइल फोटो

खास बातें

  • बॉलीवुड डायरेक्ट ने शेयर किया वीडियो
  • आनंद विहार बस अड्डे का वीडियो किया शेयर
  • ट्वीट कर कही यह बात
नई दिल्ली:

कोरोनावायरस (Coronavirus) का कहर तेजी से बढ़ता जा रहा है. 180 से ज्यादा देशों में फैल चुका यह वायरस अब तक 28,000 से ज्यादा जानें ले चुका है. दुनियाभर में करीब पांच लाख लोग इससे संक्रमित हैं. भारत में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 918 हो गई है. पिछले 24 घंटे में इसके 194 नए मामले सामने आए हैं. दूसरी ओर काम व पैसा न होने की वजह से बेबस मजदूर अपने-अपने गांवों की ओर पलायन कर रहे हैं. इसी संबंध में आनंद विहार आईएसबीटी बस अड्डे (Anand Vihar ISBT) पर हजारों की संख्या की भीड़ उमड़ गई. अब इसको लेकर बॉलीवुड गलियारों से लगातार रिएक्शन आ रहे हैं. बॉलीवुड डायरेक्टर ओनिर (Onir) ने भी रिएक्शन दिया है, जो सुर्खियों में है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ओनिर (Onir) ने लिखा: "सोशल डिस्टेंसिंग के लिए लॉकडाउन! हां यह महत्वपूर्ण था. लेकिन क्या यह उम्मीद नहीं थी? पूरा मामला निरर्थक लगता है. विशेषकर ऐसे समय में जब कोरोनावायरस (Coronavirus) के अगले चरण में पहुंचने वाले हैं. इतने सारे जीवन खतरे में पड़ गए. यह एक त्रासदी से कम नहीं है." ओनिर ने इस ट्वीट के साथ आनंद विहार आईएसबीटी बस अड्डे (Anand Vihar ISBT) का वीडियो भी पोस्ट किया है. उनके ट्वीट पर यूजर्स के जमकर रिएकशन आ रहे हैं.

बता दें कि देश में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों का आकंड़ा 900 के पार जा चुका है. स्वास्थ्य मंत्रालय के  अब तक कुल 918 मामले सामने आए हैं. कोविड-19 की वजह से अब तक 19 लोगों की जान गई है. वहीं, 80 लोग अब तक इस बीमारी से ठीक हुए हैं या फिर उनकी स्थिति सुधार है. कोरोनावायरस खतरे को देखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने बुधवार से 21 दिन के लिए देशव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की है. इसके बाद, सरकार ने गुरुवार को 1.70 लाख करोड़ रुपये से अधिक के राहत पैकेज की घोषणा की जबकि भारतीय रिजर्व बैंक ने कोरोनावायरस से अर्थव्यवस्था को बचाने के लिए रेपो दर, सीआरआर में कटौती और बैंकों को कर्ज की किस्त पर वसूली से तीन महीने तक रोक की अनुमति दी है.