शाहीन बाग में प्रदर्शन के लिए इक्ट्ठा हुईं महिलाएं, तो बॉलीवुड डायरेक्टर बोले- यह लड़ाई अभी खत्म नहीं...

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कोरोनावायरस (Coronavirus) के कारण लोगों के इक्ट्ठा होने पर रोक लगा दी थी, लेकिन फिर भी शाहीन बाग में प्रदर्शन के लिए महिलाएं इक्ट्ठा हुईं. इस पर बॉलीवुड डायरेक्टर ओनिर (Onir) का रिएक्शन आया है.

शाहीन बाग में प्रदर्शन के लिए इक्ट्ठा हुईं महिलाएं, तो बॉलीवुड डायरेक्टर बोले- यह लड़ाई अभी खत्म नहीं...

बॉलीवुड डायरेक्टर ओनिर (Onir) का ट्वीट हुआ वायरल

खास बातें

  • बॉलीवुड डायरेक्टर का ट्वीट हुआ वायरल
  • शाहीन बाग में प्रदर्शन के लिए इक्ट्ठा हुईं महिलाओं पर किया रिएक्ट
  • ट्वीट कर कही ये बात
नई दिल्ली:

देश में इस समय कोरोनावायरस (Coronavirus) को फैलने से रोकने के लिए दिल्ली सरकार ने मार्च के अंत तक 50 से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर प्रतिबंध की घोषणा की है. लेकिन इसके बावजूद भी नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए शाहीन बाग (Shaheen Bagh) में महिलाएं इक्ट्ठा हुईं. अब शाहीन बाग में महिलाओं के इस कदम को लेकर बॉलीवुड डायरेक्टर ओनिर ने एक ट्वीट किया है, जो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है. इस ट्वीट में ओनिर (Onir) ने लिखा, "शाहीन बाग की महिलाओं का सम्मान और आभार. यह लड़ाई अभी खत्म नहीं हुई है और ना ही यह योगदान."

Newsbeep


ओनिर (Onir) ने आगे लिखा, "संविधान के लिए खड़े होने के लिए इतिहास आपको याद रखेगा और शुक्रगुजार रहेगा." बता दें कि ओनिर (Onir Twitter) का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है. उनके इस ट्वीट पर लोग खूब कमेंट कर रहे हैं और अपनी प्रतिक्रिया भी दे रहे हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने सोमवार को घोषणा की कि कोरोनावायरस (Coronavirus) के बढ़ते कहर के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में 31 मार्च तक 50 से अधिक लोगों की मौजूदगी वाले धार्मिक, सामाजिक सांस्कृतिक कार्यक्रम और राजनीतिक बैठकें करने की अनुमति नहीं होगी. उन्होंने यह भी संकेत दिया कि यह प्रतिबंध दिल्ली के शाहीन बाग और जामिया मिल्लिया इस्लामिया (Jamia Millia) के बाहर विरोध प्रदर्शन करने वाली भीड़ पर लागू होगा. बता दें, इन स्थानों पर में संशोधित नागरिकता कानून, राष्ट्रीय नागरिक पंजी और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NRC) के खिलाफ 15 दिसंबर से धरना जारी है.