पिता के शव के पास बैठे बच्चे की Photo शेयर कर बॉलीवुड प्रोड्यूसर बोले- प्रार्थना बंद करने का समय...

अतुल कास्बेकर (Atul Kasbekar) ने दिल्ली हिंसा से जुड़ी एक फोटो सोशल मीडिया पर शेयर की है, जो सबका खूब ध्यान खींच रही है. इस फोटो में एक बच्चा अपने पिता के शव के आगे बैठा रोता हुआ नजर आ रहा है.

पिता के शव के पास बैठे बच्चे की Photo शेयर कर बॉलीवुड प्रोड्यूसर बोले- प्रार्थना बंद करने का समय...

अतुल कास्बेकर (Atul Kasbekar) ने शेयर की दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) से जुड़ी तस्वीर

खास बातें

  • अतुल कास्बेकर ने शेयर की दिल्ली हिंसा से जुड़ी तस्वीर
  • फोटो में पिता के शव के पास बैठ रोता नजर आया बच्चा
  • अतुल कास्बेकर का ट्वीट हुआ वायरल
नई दिल्‍ली:

उत्तर-पूर्वी दिल्ली (North-East Delhi Clash) में हुई हिंसा में मृतकों की संख्या अब तक 39 पहुंच चुकी है. वहीं, इस मामले को लेकर अब तक जहां 48 लोगों पर FIR दर्ज की गई है. 130 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. हाल ही में बॉलीवुड प्रोड्यूसर अतुल कास्बेकर (Atul Kasbekar) ने दिल्ली हिंसा से जुड़ी एक फोटो सोशल मीडिया पर शेयर की है, जो सबका खूब ध्यान खींच रही है. इस फोटो में एक बच्चा अपने पिता के शव के आगे बैठा रोता हुआ नजर आ रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह फोटो दिल्ली हिंसा का शिकार हुए मुदस्सिर खान की है, जिन्हें सोमवार को कुछ दंगाइयों ने मौत के घाट उतार दिया. 

Viral Video: बच्चे की हाइट देख जोकर बोलते थे लोग, अब गाया ऐसा गाना बड़े-बड़े सिंगर हुए चकित

इस फोटो को शेयर करते हुए बॉलीवुड प्रोड्यूसर अतुल कास्बेकर (Atul Kasbekar) ने ट्वीट भी किया है, जिसमें उन्होंने कहा कि यह तस्वीर दिल तोड़ने वाली है. अपने ट्वीट में अतुल ने लिखा, "इस तस्वीर ने मेरा दिल तोड़ दिया है. और अगर यह लड़का गुस्से की भावना के साथ बड़ा होता है और प्रतिशोध की मांग करता है तो उसे कौन दोषी ठहरा सकता है? पागलपन का यह चक्र हमेशा चलता रहेगा. और अगर आपके भगवान और उनके सिद्धांत इसे उचित ठहराते हैं तो यह समय प्रार्थना को रोकने का है."

जॉन टेनियल की 200वीं जयंती पर गूगल ने बनाया डूडल, Alice in Wonderland ने बदली जिंदगी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बता दें उत्तर-पूर्वी दिल्ली (North-East Delhi Clash) के भजनपुरा, गोकुलपुरी, चांदबाग, ब्रह्मपुरी समेत इसके आसपास के इलाकों में CAA विरोधी और समर्थक आमने-सामने आ गए. देखते ही देखते हिंसा ने भयानक रूप ले लिया. दर्जनों वाहनों और दुकानों को आग के हवाले कर दिया गया. 24 फरवरी को इस दंगे में दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतनलाल की मौत हो गई. इस हिंसा में खुफिया विभाग के कर्मचारी अंकित शर्मा की भी मौत हो गई. अंकित पिछले दो दिनों से गायब थे. बुधवार को इलाके के एक नाले से उनकी लाश मिली. अंकित की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला है कि उनके शरीर के हर हिस्से में धारदार हथियार से वार किया गया.

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...