NDTV Khabar

कैंसर पीड़ित मरीज ने अजय देवगन से लगाई गुहार, 'न करें तम्बाकू-गुटखा का विज्ञापन'- जानें वजह

राजधानी जयपुर के 40 वर्षीय कैंसर पीड़ित मरीज ने बालीवुड कलाकार अजय देवगन से समाज के हित में तम्बाकू उत्पादों का विज्ञापन नहीं करने की सार्वजनिक अपील की है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कैंसर पीड़ित मरीज ने अजय देवगन से लगाई गुहार, 'न करें तम्बाकू-गुटखा का विज्ञापन'-  जानें वजह

अजय देवगन- (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कैंसर पीड़ित की गुहार
  2. अजय देवगन से की अपील
  3. न करें तम्बाकू का विज्ञापन
नई दिल्ली:

राजधानी जयपुर के 40 वर्षीय कैंसर पीड़ित मरीज ने बालीवुड कलाकार अजय देवगन से समाज के हित में तम्बाकू उत्पादों का विज्ञापन नहीं करने की सार्वजनिक अपील की है. मरीज के परिजनों ने बताया कि मरीज बालीवुड कलाकार देवगन का प्रशंसक है और उन उत्पादों का प्रयोग करता था जिसका देवगन ने विज्ञापन किया है, लेकिन अब उसे अहसास हुआ है कि तम्बाकू ने उसकी और उसके परिवार की जिंदगी बर्बाद कर दी है. 

बॉलीवुड एक्ट्रेस ने राहुल गांधी को ट्वीट से दिया जवाब, बोलीं- आपके पिता राजीव गांधी एक...

कैंसर पीड़ित मरीज नानकराम ने बालीवुड कलाकार अजय देवगन को संबोधित करते हुए करीब एक हजार पर्चे राजधानी के सांगानेर, जगतपुरा और आसपास की क्षेत्रों में वितरित करवाये हैं और दीवारों पर चिपकवाये हैं. पर्चे में बताया गया है कि किस प्रकार तम्बाकू के सेवन से वह और उसका परिवार बर्बाद हो गया. 

मरीज के पुत्र दिनेश मीणा ने पीटीआई-भाषा को बताया कि ‘‘मेरे पिता नानकराम मीणा ने कुछ वर्ष पूर्व तम्बाकू चबाना शुरू किया था और उसी ब्रांड का प्रयोग करते थे जिसका विज्ञापन अजय देवगन ने किया. मेरे पिता देवगन से प्रभावित थे, लेकिन उनकी चिकित्सीय जांच में उन्हें कैंसर की बीमारी से पीड़ित पाया गया है, उनका मानना है कि इतने बड़े स्टार को इस तरह के उत्पादों का विज्ञापन नहीं करना चाहिए.''


पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पर आचार संहिता के उल्लंघन के मामले की सुनवाई बुधवार को

टिप्पणियां

पर्चे में मरीज नानकराम ने कहा कि शराब, सिगरेट, और गुटखा के विज्ञापन करना गलत है. उन्होंने अपील की है इस तरह की गंदी चीजों का विज्ञापन नहीं करना चाहिए. दो बच्चों के पिता कैंसर पीड़ित नानकराम बीमारी से पूर्व एक चाय की दुकान चलाया करते थे. अब बोल नहीं सकते और परिवार का पालन पोषण अब वे जयपुर के सांगानेर कस्बे में घरों में दूध बेचकर करते हैं.

(इनपुट भाषा से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement