NDTV Khabar

Super Blue Blood Moon: Lunar Eclipse के दिन पैदा होना अशुभ नहीं, Facebook के CEO Mark Zuckerberg हैं इसकी मिसाल

Lunar Eclipse 2018: Chandra Grahan के दिन Facebook के CEO Mark Zuckerberg का जन्म हुआ था और उनका कामयाबी भरा सफर सबके सामने है. पढ़ें पूरी दास्तान

323 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
Super Blue Blood Moon: Lunar Eclipse के दिन पैदा होना अशुभ नहीं, Facebook के CEO Mark Zuckerberg हैं इसकी मिसाल

Lunar Eclipse 2018: फेसबुक के CEO मार्क जकरबर्ग का जन्म Chandra Grahan के दिन हुआ था

खास बातें

  1. मार्क का जन्म 14 मई, 1984 को हुआ था
  2. इस दिन चंद्र ग्रहण बताया जाता है
  3. दुनिया के पांचवें सबसे धनी शख्स हैं
नई दिल्ली: चंद्र ग्रहण (Lunar Eclipse) हॉट टॉपिक है पूरे देश में इसी को लेकर सरगर्मियां हैं. Chandra Grahan को लेकर तरह-तरह की बातें हो रही हैं, कोई शुभ बता रहा है तो कोई अशुभ. इस दिन बच्चों के जन्म लेने को लेकर भी कई भ्रांतियां हैं. लेकिन इतिहास में ऐसी कई मिसालें हैं जिन्होंने पुरानी रूढ़ियों और मान्यताओं को ध्वस्त करने का काम किया है. इसकी मिसाल Facebook के CEO Mark Zuckerberg (मार्क जकरबर्ग) हैं. जिनका जन्म Lunar Eclipse (चंद्र ग्रहण) के दिन ही हुआ था. हॉलीवुड 'द सोशल नेटवर्क' के नाम से मार्क जकरबर्ग की जिंदगी पर फिल्म भी बना चुका है.

Chandra Grahan 2018: साल के पहले चंद्र ग्रहण के दिन आया भूकंप, इन दो मंत्रों को लेकर बढ़ी एक्साइटमेंट



Chandra Grahan 2018: ग्रहण पर बनी ये फिल्में उड़ा देंगी होश, लज्जा शंकर से लेकर Hellboy तक खड़े कर देंगे रोंगटे

Facebook के CEO मार्क जकरबर्ग का जन्म 14 मई, 1984 को हुआ था. इस दिन चंद्र ग्रहण (Lunar Eclipse) था. मार्क जकरबर्ग ने फेसबुक की शुरुआत 4 फरवरी, 2004 को हारवर्ड यूनिवर्सिटी के अपने डोरमिटरी रूम से की थी. इस काम में उनके कॉलेज के दोस्तों ने साथ दिया था.  पहले फेसबुक की शुरुआत उन्होंने कैंपस में ही की थी लेकिन 2012 में फेसबुक के एक अरब यूजर हो गए. जनवरी, 2018 में उनकी नेट वर्थ 7.66 अरब डॉलर बताई गई है. इस तरह वे दुनिया के पांचवें सबसे अमीर शख्स हैं. दिसंबर, 2016 में फोर्ब्स ने मार्क जकरबर्ग को दुनिया के 10 सबसे ताकतवर लोगों की सूची में शामिल किया था.



Chandra Grahan 2018: चांद को देखते समय इन बातों का रखें ध्यान

आज रात चांद पहले की अपेक्षा ज्यादा चमकीला दिखेगा और चांद के सुपर मून  (Super Moon) और ब्लू मून (Blue Moon) रूप नजर आएंगे. यह 2018 का पहला ग्रहण होगा. इस खगोलीय घटना को सुपर ब्लू ब्लड मून (Super Blue Blood Moon) के नाम से पहचाना जाता है. बताया जा रहा है कि यह संयोग 152 साल बाद बन रहा है. ये शाम 5.58 मिनट पर शुरू होगा और 8.41 तक चलेगा. पूर्ण चंद्र ग्रहण 77 मिनट तक रहेगा. 

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...  


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement