NDTV Khabar

संदीप पाटिल के बेटे चिराग पाटिल '83 में निभाएंगे अपने पापा का किरदार, सचिन तेंदुलकर की बताई ये बात

संदीप पाटिल (Sandeep Patil) भारत की विश्व कप विजेता टीम का हिस्सा थे. 36 साल बाद कबीर खान (Kabir Khan) की स्पोर्ट्स ड्रामा में उनके बेटे चिराग अपने पिता की ऑनस्क्रीन भूमिका निभाते हुए क्रिकेट के इतिहास को फिर से दोहराते दिखेंगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
संदीप पाटिल के बेटे चिराग पाटिल '83 में निभाएंगे अपने पापा का किरदार, सचिन तेंदुलकर की बताई ये बात

'83 में संदीप पाटिल का किरदार निभाएंगे उनके ही बेटे चिराग पाटिल

खास बातें

  1. रणवीर सिंह भी हैं फिल्म में
  2. श्रीकांत के कैरेक्टर के लिए भी तय हुआ एक्टर
  3. संदीप पाटिल के रोल में दिखेंगे चिराग
नई दिल्ली:

संदीप पाटिल (Sandeep Patil) 1983 में मध्यक्रम के बल्लेबाज के रूप में भारत की विश्व कप विजेता टीम का हिस्सा थे. 36 साल बाद कबीर खान (Kabir Khan) की स्पोर्ट्स ड्रामा फिल्म में उनके बेटे चिराग अपने पिता की ऑनस्क्रीन भूमिका निभाते हुए क्रिकेट के इतिहास को फिर से दोहराते दिखेंगे. चिराग लगभग 11 मराठी और हिंदी फिल्मों में अभिनय कर चुके हैं, और वह अब रणवीर सिंह के नेतृत्व में मैदान में उतरने के लिए बेताब हैं. चिराग कहते हैं, "मैं उत्साहित हूं, '83 विश्व कप की जीत को भारतीय इतिहास में एक मील का पत्थर माना जाता है और उस टीम का हिस्सा बनना सपना सच होने जैसा है और फिल्म में मेरे पिता की भूमिका निभाना इस फिल्म को ओर अधिक खास बना देता है. मुझे लगता है कि अभी तक किसी भी एक्टर ने अपने पिता की भूमिका बड़े पर्दे पर नहीं निभाई है, मैं पहला शख्स हूं." चिराग ने बताया कि जब से उन्होंने फिल्म के बारे में सुना है, यह उनकी मां दीपा का सपना रहा है कि वह इस फिल्म में पिता की भूमिका निभाएं. "सौभाग्य से, मुझे यह किरदार मिल गया."

Video: कपिल शर्मा के टूट गए दांत और हो गई है कुछ ऐसी हालत, बोले- एक दिन सबका हाल ऐसा होना है

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Ranveer Singh (@ranveersingh) on


प्रियंका चोपड़ा ने जब निक जोनास की बाहों में ली सुकून भरी नींद, Photo ने इंटरनेट पर बरपाया कहर

जूनियर पाटिल ने कभी भी पेशेवर रूप से क्रिकेट नहीं खेला है. वे इस बात को मानते हैं कि वे शुरुआत में थोड़ा नर्वस थे, लेकिन एक बार जब उन्होंने प्रैक्टिक शुरू की तो उनके पिता का रुख और उनके शॉट्स खेलने का तरीका स्वाभाविक रूप से उन्होंने अपना लिया. चिराग ने बताया, "बल्लू अंकल (बलविंदर संधू) और उनकी टीम अगस्त से हमें प्रशिक्षित कर रही है. मैंने खाली समय में भी चंद्रकांत पंडित की क्रिकेट अकादमी से भी कुछ प्रशिक्षण सत्र लिया है. भारत का सबसे अच्छा क्रिकेट कोच मेरे घर में रहता है और यह सबसे बड़ी मदद है. अभी ध्यान अच्छी तरह से प्रशिक्षित करने और मेरे पिता की शैली को सही करने पर है. एक बार सचिन तेंदुलकर ने मुझसे कहा था, "अपना सर्वश्रेष्ठ दो और बाकी भगवान पर छोड़ दो. मैं इस बात का पालन करता हूं."

Manikarnika Box Office Collection Day 10: कंगना रनौत की 'मणिकर्णिका' का जलवा कायम, कमाए इतने करोड़

संदीप पाटिल ने ने बताया कि चिराग के जन्म से यानी 31 साल से वह अपने बेटे को कई कहानियां सुना चुके हैं. संदीप बताते हैं, "और हर बार जब भी हम विश्व कप जीत के बारे में बात करते हैं तो चिराग की आंखें खुशी से जगमगा उठती हैं. पहले मैच से लेकर फाइनल तक और पार्टी के बाद, मैंने उसके साथ इतनी सारी यादें साझा की हैं."

'दिलबर गर्ल' नोरा फतेही ने किया अब तक का सबसे धांसू Belly Dance, Video हुआ वायरल

संदीप पाटिल ने टूटी पसलियों के साथ विश्व कप खेला था. वेस्टइंडीज के खिलाफ फाइनल में, भारत ने सिर्फ तीन छक्के मारे थे, जिनमें से एक उनका था. संदीप पाटिल ने भारत के 183 के स्कोर में 29 गेंदों में 27 रन बनाए थे. विंडीज को 140 रन पर आउट कर दिया गया था. इसके तुरंत बाद, विजय सिंह ने उन्हें पूनम ढिल्लन और देबाश्री रॉय के साथ एक हिंदी फिल्म "कभी अजनबी" में मुख्य भूमिका की पेशकश की थी. फिल्म में भारत के विकेटकीपर सैयद किरमानी ने विलेन की भूमिका निभाई थी. शूटिंग की शुरुवात 1983 में की गई थी और फिल्म को दो साल बाद रिलीज किया गया. उसके बाद से संदीप पाटिल कभी बड़े पर्दे पर नजर नहीं आए, लेकिन उनके पास अपने अभिनेता बेटे के लिए कुछ सुझाव हैंः "मौका मिलना और प्रदर्शन करने के लिए एक मंच प्राप्त करना बहुत बड़ी बात है, हर किसी को अवसर नहीं मिलता है और वह भी कबीर खान जैसे निर्देशक और एक बड़े प्रोडक्शन हाउस के साथ. अब, गेंद चिराग के हाथ में है और मैं उन्हें शुभकामनाएं देता हूं. मैं सेट पर उनसे मिलने नहीं जाऊंगा लेकिन मैंने उन्हें अपनी सिग्नेचर शॉट सिखा दिया है."

भोजपुरी एक्ट्रेस रानी चटर्जी ने डांस करते हुए यूं दिखाईं अदाएं, Video हुआ वायरल

चिराग ने इस तथ्य पर बल दिया कि उन्होंने अपने पिता को कभी खेलते हुए नहीं देखा. लेकिन मैंने उनकी बल्लेबाजी, उनके व्यक्तित्व और उनके जीवन के बारे में कहानियां सुनी हैं. रणवीर सिंह के बारे में चिराग ने कहा, "रणवीर एक बेहद अच्छे इंसान हैं और मैं उनके साथ काम करने के लिए उत्साहित हूं. उनकी कड़ी मेहनत, विनम्रता, ऊर्जा और समर्पण से मुझे बहुत कुछ सीखना है. वह मैदान पर सबसे पहले आते हैं और अंत में जाते हें. अभिनेताओं की टोली में कई प्रतिभाशाली कलाकार हैं और उनके साथ शूटिंग करने में मजा आएगा और कबीर हर अभिनेता को कंफर्टेबल फील करवाते हैं. देश के लिए एक बार फिर विश्व कप उठाने में मजा आएगा." कबीर खान की फिल्म 10 अप्रैल, 2020 को रिलीज होगी।  

टिप्पणियां

 

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement