NDTV Khabar

यौन उत्पीड़न पर दीया मिर्जा बोलीं, कभी किसी को मलाई-मक्खन नहीं लगाया इसलिए कहलाई ये...

विंस्टीन सेक्स प्रकरण पर बॉलीवुड हीरोइन दीया मिर्जा ने बड़ी ही बेबाकी से अपनी राय पेश की है और फिल्म इंडस्ट्री में अपने एक्सपीरियस को जनता के सामने रखा है.

533 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
यौन उत्पीड़न पर दीया मिर्जा बोलीं, कभी किसी को मलाई-मक्खन नहीं लगाया इसलिए कहलाई ये...

बॉलीवुड एक्ट्रेस और प्रोड्यूसर दीया मिर्जा

खास बातें

  1. 'बॉबी जासूस' को किया था प्रोड्यूस
  2. 20 साल से हैं इंडस्ट्री में
  3. खुलकर बोलीं करियर के बारे में
नई दिल्ली: हॉलीवुड के फिल्म प्रोड्यूसर हार्वे विंस्टीन के इन दिनों यौन उत्पीड़न के आरोपों की वजह से सुर्खियों में हैं. लगभग 51 एक्ट्रेस तथा महिलाएं उन पर इस तरह के आरोप लगा चुकी हैं. अब बॉलीवुड के इस तरह के लोगों का पर्दाफाश करने की तैयारी चल रही है. विंस्टीन सेक्स प्रकरण पर बॉलीवुड हीरोइन दीया मिर्जा ने बड़ी ही बेबाकी से अपनी राय पेश की है और फिल्म इंडस्ट्री में अपने एक्सपीरियस को जनता के सामने रखा है. उन्होंने कहा है कि उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री में काम करने के लिए किसी को मलाई-मक्खन नहीं नहीं लगाया इसलिए लोगों ने उन्हें बोरिंग तक कह डाला.

यह भी पढ़ें : सलमान खान के भाई के साथ सनी लियोन के बोल्ड सीन्स, कहा- आई एम सेक्सी बार्बी गर्ल

कास्टिंग काउच मामले पर दीया मिर्जा ने कहा, “हमें हार्वे विंस्टीन पर मीडिया में फैसला सुनाने से पहले उन हालात के बारे में सोचना चाहिए जो इस तरह के लोगों को अपनी ताकत का गलत इस्तेमाल करने का मौका देते हैं. मुझे लगता है इससे बदतर हालात नहीं हो सकते कि कोई पुरुष अपनी ताकत का इस्तेमाल औरत या किसी पुरुष के यौन उत्पीड़न के लिए करे...” 

Video : दीया मिर्जा बोलीं- मुझे सबसे ज्यादा डर लगता है...

 

माधवन के साथ ‘रहना है तेरे दिल में’ जैसी सुपरहिट फिल्म में नजर आ चुकीं दीया ने कहा, “मैं पिछले 20 साल से एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री का हिस्सा हूं. मैंने देखा है कि कैसे युवा कामयाबी की सीढ़ी चढ़ने के लिए कुछ भी करने को तैयार हो जाते हैं. वे यह नहीं समझते हैं कि शॉर्टकट कभी भी कामयाबी का टिकाऊ रास्ता नहीं है. इस तरह के युवाओं के साथ होने वाली चीजों का जिम्मा आखिर एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री के लोगों के सिर ही क्यों मढ़ा जाए? अगर आप काम मांगने की समझ रखते हैं तो आप इस बात की समझ भी रखने के काबिल हैं कि कब आप से काम के बदले समझौता करने के लिए कहा जा रहा है. इसके बाद चॉयस सिर्फ आपकी है. मैंने कभी भी प्रभावशाली लोगों को मलाई-मक्खन लगाकर फायदा लेने की राह नहीं अपनाई. इसकी वजह से मुझे बोरिंग भी कहा जाता था. मैंने इस शब्द को बेइज्जती नहीं बल्कि सम्मान सूचक शब्द के तौर पर लिया.”

यह भी पढ़ें : तीन साल की बेटी को लगा वाइन का चस्का, एक्ट्रेस मॉम हुई हैरान

हालांकि उन्होंने इस तरह के मामलों पर चुप्पी लगाए जाने के बारे में भी कहा और इस तरह की हरकतों को अंजाम देने वालों को पितृसत्तात्मक सोच रखने वाला बताया. 

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...  


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement