इमरान हाशमी का कोरानावायरस को लेकर फूटा गुस्सा, बोले- हजारों मील दूर कुछ लोग चमगादड़...

दुनियाभर में  कोरोनावायरस (Coronavirus) का कहर तेजी से फैल रह रहा है और ऐसे में संक्रमण को रोकने के लिए कई देश अलग-अलग तरीके अपना रहे हैं. बॉलीवुड एक्टर इमरान हाशमी (Emraan Hashmi) ने इस संबंध में ट्वीट किया है.

इमरान हाशमी का कोरानावायरस को लेकर फूटा गुस्सा, बोले- हजारों मील दूर कुछ लोग चमगादड़...

इमरान हाशमी (Emraan Hashmi)

खास बातें

  • इमरान हाशमी का कोरानावायरस को लेकर फूटा गुस्सा
  • बोले- हजारों मील दूर कुछ लोग चमगादड़...
  • इमरान हाशमी का ट्वीट हुआ वायरल
नई दिल्ली:

दुनियाभर में  कोरोनावायरस (Coronavirus) का कहर तेजी से फैल रह रहा है और ऐसे में संक्रमण को रोकने के लिए कई देश अलग-अलग तरीके अपना रहे हैं. ज्यादातर देशों में प्रदेश और शहरों को लॉकडाउन करके कोरोना के संक्रमण को नियंत्रण कर रहे हैं, लेकिन विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के डायरेक्टर जनरल टेडरोस अधानोम गेब्रियेसस ने बुधवार को लॉकडाउन करने वाले देशों को चेताया है. उन्होंने बताया कि कोरोनावायरस (COVID 19) का मुकाबला करने के लिए कई देशों द्वारा लागू किए जा रहे लॉकडाउन, दुनिया से वायरस को मिटाने के लिए पर्याप्त नहीं होंगे. अब कोरोनावायरस को लेकर बॉलीवुड एक्टर इमरान हाशमी (Emraan Hashmi) ने रिएक्शन दिया है, जो सुर्खियों में है.

इमरान हाशमी (Emraan Hashmi) ने अपने ट्वीट में लिखा: "और यह सब इसलिए हो रहा है क्योंकि यहां से हजारों मील दूर कुछ लोग चमगादड़ को खाने का अजीब पाक अनुभव करना चाहते थे." बॉलीवुड एक्टर इमरान हाशमी ने अपने ट्वीट में बिना नाम लिए चीन पर निशाना साधा है. क्योंकि कोरोनावायरस की शुरुआत चीन से ही हुई थी. इमरान हाशमी फिल्मों के साथ-साथ सोशल मीडिया पर अपने ट्वीट के जरिए भी सुर्खियों में बने रहते हैं. उनके इस ट्वीट पर भी जमकर रिएक्शन आ रहे हैं.

इमरान हाशमी (Emraan Hashmi) आखिरी बार फिल्म 'द बॉडी' (The Body) में नजर आए थे. आने वाले दिनों में उनके कई बड़े प्रोजेक्ट आने वाले हैं. हालांकि,  कोरोनावायरस (Coronavirus) के कारण इस समय पूरा बॉलीवुड बंद है. गौरतलब है कि यह वायरस करीब 180 से ज्यादा देशों में फैल चुका है और अब तक 20 हजार से ज्यादा लोगों की जान ले चुका है. अकेले चीन और इटली में ही मरने वालों का आंकड़ा 10000 के पार हो चुका है. साढ़े चार लाख लोग इससे संक्रमित हैं. दुनियाभर के देशों में इमरजेंसी सरीखे हालात हैं. कई देशों ने इससे बचाव के लिए लॉकडाउन का रास्ता अख्तियार किया है और तीन अरब से ज्यादा लोग लॉकडाउन में रहने को मजबूर हैं.