फराह खान ने कोरोनावायरस को लेकर शेयर की पोस्ट, बोलीं- मेरा धर्म और मेरा देश कहना बंद करो, बल्कि...

फराह खान अली (Farah Khan Ali) ने कोरोनावायरस (Coronavirus) पर ट्वीट किया है, जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. अपने ट्वीट में फराह खान अली ने कहा कि मेरा धर्म, मेरा परिवार, मेरी जाति, मेरा देश कहना बंद करो, बल्कि...

फराह खान ने कोरोनावायरस को लेकर शेयर की पोस्ट, बोलीं- मेरा धर्म और मेरा देश कहना बंद करो, बल्कि...

फराह खान अली (Farah Khan Ali) ने कोरोनावायरस को लेकर किया ट्वीट

खास बातें

  • फराह खान अली ने कोरोनावायरस को लेकर किया ट्वीट
  • कहा कि मेरा धर्म और मेरा देश कहना बंद करो...
  • फराह खान अली का ट्वीट हुआ वायरल
नई दिल्ली:

कोरोनावायरस (Coronavirus) को लेकर दुनिया भर में लोग सावधानी बरतने की कोशिश कर रहे हैं. हाल ही में इस मुद्दे को लेकर बॉलीवुड एक्टर-डायरेक्टर संजय खान (Sanjay Khan) की बेटी और जूलरी डिजाइनर फराह खान अली (Farah Khan Ali) ने ट्वीट किया है. अपने ट्वीट में फराह खान अली ने कहा कि मेरा धर्म, मेरा परिवार, मेरी जाति, मेरा देश कहना बंद करो, बल्कि मेरा प्लेनेट कहना शुरू करो. बता दें कि कोरोनावायरस से भारत में अब तक करीब 3 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं इससे संक्रमित लोगों की संख्या अब 147 पहुंच चुकी है. ऐसे में कोरोनावायरस पर चिंता जताते हुए फराह खान ने ट्वीट किया.

फराह खान अली (Farah Khan Ali) ने कोरोनावायरस (Coronavirus) पर अपनी राय पेश करते हुए कहा, "कोरोनावायरस वह एक चीज है जो हमें याद दिलाती है कि जब किसी प्लेनेट के दूरस्थ कोने में कुछ होता है तो यह सभी को समान रूप से प्रभावित करता है. इसलिए समय आ गया है कि हम अपना देश, अपना धर्म, अपनी जाति कहना बंद कर दें. समय है मेरा प्लेनेट कहने का और इसका एहसास करने का चाहे वह इंसान हो, जानवर हो या पेड़-पौधे, सभी चीजें एक-दूसरे पर निर्भर हैं." फराह खान अली का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर खूब सुर्खियां बटोर रहा है, साथ ही लोग इसपर जमकर कमेंट भी कर रहे हैं. 

बता दें कि फराह खान अली (Farah Khan Ali) अपने विचारों को लेकर सोशल मीडिया पर खूब एक्टिव रहती हैं. वह समसामयिक मुद्दों पर बेबाकी से अपने विचार पेश करती हैं. बता दें कि भारत वर्तमान में कोरोनावायरस (Coronavirus) की दूसरे स्टेज में है. इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) के मुताबिक, स्टेज-2 का अर्थ है कि अभी वायरस का कम्युनिटी ट्रांसमिशन (लोगों के बीच आपस में नहीं फैला है) नहीं हुआ है. करीब 7,000 लोगों को इस वायरस से जान गंवानी पड़ी है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com