NDTV Khabar

Google Doodle Gauhar Jaan: 13 की उम्र में शोषण के बाद शुरू हुई संगीत यात्रा, जानें कौन थीं गौहर जान?

गौहर जान (Gauhar Jaan) भारत की पहली गायिका थीं, जिन्होंने भारतीय संगीत के इतिहास में अपने गाए गानों की रिकॉर्डिंग कराई थी. गूगल ने डूडल बनाकर उन्हें याद किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Google Doodle Gauhar Jaan: 13 की उम्र में शोषण के बाद शुरू हुई संगीत यात्रा, जानें कौन थीं गौहर जान?

Gauhar Jaan Birthday: 145वें जन्मदिन पर गूगल ने डूडल बनाकर किया याद

खास बातें

  1. गौहर जान का 145वां जन्मदिन आज
  2. गूगल ने डूडल बनाकर किया याद
  3. मिला 'भारत की पहली रिकॉर्डिंग सुपरस्टार' का दर्जा
नई दिल्ली: भारत की पहली रिकॉर्डिंग सुपरस्टार गौहर जान (Gauhar Jaan) के 145वें जन्मदिवस के मौके पर गूगल ने डूडल बनाकर उन्हें याद किया है. 26 जून 1893 को जन्मी भारतीय सिनेमा की मशहूर गायिका का असली नाम एंजलिना योवर्ड था. वह भारत की पहली गायिका थी, जिन्होंने भारतीय संगीत के इतिहास में अपने गाए गानों की रिकॉर्डिंग कराई थी. यही वजह है कि उन्हें 'भारत की पहली रिकॉर्डिंग सुपरस्टार' का दर्जा मिला है.

गूगल डूडल में गौहर जान की गोद में नजर आई बिल्ली, जानें इसके पीछे क्या है राज

13 की उम्र में शोषण
भारतीय शास्त्रीय संगीत को शिखर पर पहुंचाने वाली गौहर असल जिंदगी में शोषण का शिकार रही थीं. गौहर का 13 साल की उम्र में बलात्कार हुआ था. इस सदमे से उबरते हुए गौहर संगीत की दुनिया में अपना सिक्का जमाने में कामयाब हुईं. गौहर की कहानी 1900 के शुरुआती दशक में महिलाओं के शोषण, धोखाधड़ी और संघर्ष की कहानी है. गौहर की कहानी को विक्रम संपथ ने सालों की रिसर्च के बाद किताब में 'माई नेम इज गौहर जान' के जरिए सबके सामने रखा.
 
gauhar jaan google doodle


Video: बिना प्रैक्टिस के स्टेज पर उतरीं टीवी एक्ट्रेस, हुई ऐसी फजीहत की रोक न पाएंगे हंसी!

रिकॉर्ड किए 600 से ज्यादा गीत
गौहर जान ने 20 भाषाओं में ठुमरी से लेकर भजन तक गाए हैं. उन्होंने करीब 600 गीत रिकॉर्ड किए थे. यही नहीं, गौहर जान दक्षिण एशिया की पहली गायिका थीं जिनके गाने ग्रामाफोन कंपनी ने रिकॉर्ड किए. 1902 से 1920 के बीच 'द ग्रामोफोन कंपनी ऑफ इंडिया' ने गौहर के हिन्दुस्तानी, बांग्ला, गुजराती, मराठी, तमिल, अरबी, फारसी, पश्तो, अंग्रेजी और फ्रेंच गीतों के छह सौ डिस्क निकाले थे. उनका दबदबा ऐसा था कि रियासतों और संगीत सभाओं में उन्हें बुलाना प्रतिष्ठा की बात हुआ करता थी.

टिप्पणियां


...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement