NDTV Khabar

Happy Phirr Bhag Jayegi Movie Review: दो-दो 'हैप्पी' ने कर दिया कंफ्यूज

हैप्पी फिर भाग जाएगी (Happy Phirr Bhag Jayegi) सीक्वल है हिट फिल्म 'हैप्पी भाग जाएगी' का और इस फ़िल्म की कहानी है गलत पहचान यानी मिसटेकेन आइडेंटिटी की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Happy Phirr Bhag Jayegi Movie Review: दो-दो 'हैप्पी' ने कर दिया कंफ्यूज

Happy Phirr Bhag Jayegi Movie Review: फिल्म का पोस्टर

नई दिल्ली: हैप्पी फिर भाग जाएगी (Happy Phirr Bhag Jayegi) सीक्वल है हिट फिल्म 'हैप्पी भाग जाएगी' का और इस फ़िल्म की कहानी है गलत पहचान यानी मिसटेकेन आइडेंटिटी की, क्योंकि इस फ़िल्म में दो हैप्पी हैं और चीन में जिस हैप्पी को अगवा करना था उसके बदले में दूसरी हैप्पी का अपहरण हो जाता है और फिर होती है कॉमेडी. एक हैप्पी हैं डायना पेंटी जो अपने किरदार को आगे बढ़ा रही हैं और दूसरी हैं सोनाक्षी सिन्हा जिनकी नई एंट्री इस फ़िल्म में हुई है. पीयूष मिश्र, जिमी शेरगिल अपने अपने किरदारों को आगे बढ़ा रहे हैं. फ़िल्म के लेखक और निर्देशक मुदस्सर अज़ीज़ हैं.

Gold Box Office Collection Day 9: अक्षय कुमार को 'बकरीद' पर मिला फायदा, जॉन अब्राहम फिर भी रह गए पीछे

फ़िल्म की कहानी की अगर बात करें तो बहुत ज़बरदस्त नहीं है मगर इसकी पटकथा और संवाद बेहतरीन हैं. ये एक कॉमेडी फ़िल्म है, जिसमें बहुत सारे पंच लाइन हैं जो हंसने पर मजबूर कर देते हैं. कई परिस्थितियां ऐसी हैं जिन्हें देखकर हंसी आती है. कुछ सियासी बातों को भी बहुत ही मज़ाकिया अंदाज़ में कही गई है जैसे देश तो आज़ाद हो गया मगर कश्मीर का क्या करें. 

देखें ट्रेलर-


सोनाक्षी की भूमिका और उसके हिसाब से उनका अभिनय अच्छा लगता है मगर जिम्मी शेरगिल और पीयूष मिश्रा की जुगलबंदी ज़बरदस्त है. चाइनीज़ किरदारों ने भी हंसाया है. अपने लिमिटेड रोल में डायना और अली भी अच्छे हैं. मुदस्सर की लिखाई और निर्देशन अच्छा है.

फ़िल्म की कमजोरियों की अगर बात करें तो वो है इसकी लंबाई और कहीं-कहीं धीमी गति. पहले हॉफ में कहीं-कहीं गति धीमी होती है. दूसरे हाफ में रफ्तार ठीक है मगर लगता है कि कहानी थोड़ी खिंच रही है. फ़िल्म का संगीत भी साधारण है.

अक्षरा सिंह ने रक्षाबंधन पर गाया शानदार सॉन्ग, 'मेरे भैया रे.. राखी के बंधन...' हुआ SuperHit.. देखें Video

टिप्पणियां
फ़िल्म 'हैप्पी फिर भाग जाएगी' एक मनोरंजक फ़िल्म है, जिसे आप एक बार देख सकते हैं क्योंकि इसकी कहानी में भले ही 2 हैप्पी के बीच कंफ्यूज़न हो मगर देखने मे कहीं कोई कंफ्यूज़न नहीं होता क्योंकि इसे सरलता से कही गई है. इस फ़िल्म के लिए मेरी रेटिंग 3 है.

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement