NDTV Khabar

कमल हासन ने नागरिकता संशोधन बिल पर उठाए सवाल, बोले- अगर यह वोट इकट्ठा करने का तरीका नहीं है तो...

नागरिकता संशोधन बिल (Citizenship Amendment Bill) को लेकर साउथ के सुपरस्टार कमल हासन (Kamal Haasan) ने सवाल उठाया, साथ ही नागरिकता संशोधन बिल से जुड़ा एक ट्वीट भी किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कमल हासन ने नागरिकता संशोधन बिल पर उठाए सवाल, बोले- अगर यह वोट इकट्ठा करने का तरीका नहीं है तो...

कमल हासन (Kamal Haasan) ने नागरिकता संशोधन बिल (Citizenship Amendment Bill) पर किया ट्वीट

खास बातें

  1. कमल हासन ने नागरिकता संशोधन बिल पर किया था ट्वीट
  2. एक्टर ने ट्वीट कर बिल पर उठाए थे सवाल
  3. कमल हासन ने कहा कि अगर यह वोट इकट्ठा करने का तरीका नहीं है तो...
नई दिल्ली:

नागरिकता संशोधन विधेयक (Citizenship Amendment Bill) बुधवार को राज्यसभा में पास हो गया है. सदन में विधेयक के पक्ष में 125 और विरोध में 99 मत पड़े हैं. विधेयक के संसद में पारित होने के तुरंत बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने इसे भारत और इसके करुणा तथा भाईचारे के मूल्यों के लिए ऐतिहासिक दिन करार दिया. इस बिल को लेकर देश के कुछ लोग समर्थन में खड़े हैं तो वहीं कई लोग इसका विरोध कर रहे हैं. हाल ही में नागरिकता संशोधन बिल को लेकर बॉलीवुड और साउथ के सुपरस्टार कमल हासन (Kamal Haasan) ने सवाल उठाया है, साथ ही नागरिकता संशोधन बिल से जुड़ा एक ट्वीट भी किया है जो खूब सुर्खियां बटोर रहा है. 

असम में बिगड़े हालातों पर बोले बॉलीवुड एक्टर, 'नागरिकता संशोधन बिल अब तक का सबसे नासमझी भरा फैसला है'


कमल हासन (Kamal Haasan) ने नागरिकता संशोधन बिल (Citizenship Amendment Bill) पर सवाल उठाते हुए कहा था कि विध्वंसक नरसंहार का सामना करने वाले तमिलों और भेदभाव से गुजरने वाले मुस्लिमों को बिल से बाहर क्यों रखा गया है. उनके इस ट्वीट पर लोग खूब रिएक्शन दे रहे हैं. अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा, "विध्वंसक नरसंहार का सामना करने वाले तमिलों और भेदभाव से गुजरने वाले मुस्लिमों को इस बिल से बाहर क्यों रखा गया है? यदि यह वास्तव में परोपकारी बिल है और वोट इकट्ठा करने का कोई तरीका नहीं है तो श्रीलंका में फंसे तमिलों और परेशान मुसलमानों को इस बिल से बाहर क्यों रखा गया?"

अर्जुन कपूर की 'पानीपत' का विवादों में भी चला जादू, कमाए इतने करोड़

बता दें कि गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने दावा किया कि नागरिकता संशोधन विधेयक (Citizenship Amendment Bill) पूरी तरह से संवैधानिक प्रावधानों के अनुरूप है तथा इसमें ‘‘किसी की नागरिकता लेने नहीं, देने'' का प्रावधान है इसलिए देश के मुस्लिम नागरिकों को इससे डरने की जरूरत नहीं है. लेकिन इस बिल को लेकर असम में विरोध प्रदर्शन जारी है. नागरिकता संशोधन विधेयक (Citizenship Amendment Bill) के खिलाफ बुधवार को हजारों लोग असम में सड़कों पर उतरे. राज्य के विभिन्न हिस्सों में प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प से राज्य में अव्यवस्था की स्थिति पैदा हो गई है. 

टिप्पणियां

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... नागरिकता कानून को लेकर लोकसभा स्पीकर ने EU को लिखा खत,  कहा- CAA के खिलाफ प्रस्ताव गलत नजीर होगा

Advertisement