NDTV Khabar

कंगना रनोट बोलीं- फिल्म इंडस्ट्री में अड़ियल रह पाना मुश्किल

कंगना ने कहा, "हमारे उद्योग में अड़ियल रहना मुश्किल हो जाता है, क्योंकि आपको अक्सर यथास्थिति का पालन न करने के लिए परखा जाता है."

197 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
कंगना रनोट बोलीं- फिल्म इंडस्ट्री में अड़ियल रह पाना मुश्किल

आगामी फिल्म 'मणिकर्णिका: द क्‍वीन ऑफ झांसी' में कंगना रनोट का लुक.

खास बातें

  1. हमारे उद्योग में अड़ियल रहना मुश्किल हो जाता है: कंगना रनोट
  2. "हर महिला को शारीरिक, मानसिक और सामाजिक रूप से फिट होना चाहिए"
  3. 'मणिकर्णिका: द क्‍वीन ऑफ झांसी' की शूटिंग में बिजी हैं कंगना
नई दिल्ली: अपने बड़ बोलेपन के लिए जानी जाने वाली फिल्म 'मणिकर्णिका: द क्‍वीन ऑफ झांसी' की एक्ट्रेस कंगना रनोट का कहना है कि बॉलीवुड में अड़ियल रह पाना काफी मुश्किल है, क्योंकि यहां आपको लोग कमजोर महसूस कराने का प्रयास करते रहते हैं. कंगना ने कहा कि वह इन सब से लड़ना जारी रखेंगी. राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता कंगना ने कहा, "हमारे उद्योग में अड़ियल रहना मुश्किल हो जाता है, क्योंकि आपको अक्सर यथास्थिति का पालन न करने के लिए परखा जाता है. हमेशा एक ऐसा पक्ष रहता है, जो आपको कमजोर महसूस कराने का प्रयास करेगा, लेकिन आपको अपनी ताकत, आत्मविश्वास को बढ़ाना होगा और कठिन कार्य करने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी. अव्यवस्था को तोड़ने के लिए एक अलग आवाज उठाना जरूरी है."

पढ़ें: दीपिका पादुकोण के एक्स बॉयफ्रेंड अब कंगना रनोट के साथ करेंगे ये...

अभिनेत्री ने उद्योग जगत में अपने संघर्ष के साथ-साथ आदित्य पंचोली और ऋतिक रोशन जैसे अभिनेताओं के साथ अपने रिश्तों के बारे में सक्रिय रूप से बात की है. उन्होंने एक चैट शो के दौरान फिल्म निर्माता करण जौहर को 'भाई-भतीजावाद को बढ़ावा देने वाले' शख्स के रूप में संबोधित किया था. वह यह भी मानती हैं कि ऐसी कई महिलाएं हैं, जो बड़े और बेहतर सपने की इच्छा रखती हैं और वह उनमें से एक हैं. कंगना हिमाचल प्रदेश के एक छोटे से शहर से आती हैं और कहती हैं कि उनके हालात ने उन्हें अपने सपनों का पीछा करने से निराश नहीं किया.

पढ़ें: Viral Photos: जयपुर में कुछ यूं 'झांसी की रानी' बनी नजर आ रही हैं कंगना रनोट

उन्होंने कहा, "मैं महिलाओं को अपनी ताकत और कड़ी मेहनत पर विश्वास करने के लिए प्रोत्साहित करती हूं. मेरा आदर्श हमेशा ही अपने मार्ग का पालन करने और मानदंडों का शिकार नहीं होने का रहा है. मेरा मानना है कि अपने आप को मनाने और प्रत्येक अनुभव के साथ बेहतर होना महत्वपूर्ण है."

पढ़ें: दीपिका के 'राजपूती' अंदाज के बीच इंटरनेट पर छाया कंगना रनोट का शाही अंदाज

यही वजह है कि वह हैशटैग फिट-टू-फाइट अभियान का प्रचार करने का प्रयास कर रही हैं. उन्होंने कहा, "मैं अपने साहस, विश्वास और धारणा की कहानियों के माध्यम से दूसरी लड़कियों को प्रेरित करने की उम्मीद करती हूं. मैं वास्तव में असीम क्षमता में विश्वास करती हूं कि हर महिला को शारीरिक, मानसिक और सामाजिक रूप से फिट होना चाहिए. मुझे आशा है कि मेरी कहानी और प्रतिकूल परिस्थितियों का सामना करने, बाधाओं से लड़ने और मजबूत और फिटर की तरह उभरने की यात्रा, दूसरी महिलाओं को लड़ने के लिए फिट होने के लिए प्रेरणा देगी."

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement