कनिका कपूर ने कोरोनावायरस फैलाने पर तोड़ी चुप्पी, बोलीं- अब तक इसलिए चुप नहीं थी क्योंकि मैं गलत थी बल्कि...

सिंगर कनिका कपूर (Kanika Kapoor) ने हाल ही में एक पोस्ट के जरिए कोरोना (Corona) फैलाने को लेकर चुप्पी तोड़ी है, उनका पोस्ट खूब वायरल हो रहा है.

कनिका कपूर ने कोरोनावायरस फैलाने पर तोड़ी चुप्पी, बोलीं- अब तक इसलिए चुप नहीं थी क्योंकि मैं गलत थी बल्कि...

कनिका कपूर (Kanika Kapoor) ने कोरोनावायरस (Coronavirus) को लेकर किया पोस्ट

खास बातें

  • कनिका कपूर ने तोड़ी चुप्पी
  • सिंगर पर लगा था कोरोना फैलाने का आरोप
  • सिंगर कनिका कपूर ने इंस्टाग्राम पर किया पोस्ट
नई दिल्ली:

बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर (Kanika Kapoor) पिछले दिनों कोरोनावायरस का शिकार हो गई थीं. दरअसल, बता दें, सिंगर कनिका कपूर लंदन से वापस लौटी थीं, जिसके बाद वह पार्टियों में शामिल हुईं. हालांकि, बाद में कनिका कपूर जब कोरोना (Corona) पॉजिटिव पाई गईं तो उन्हें लखनऊ के अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. पार्टी के दौरान कनिका कई नेताओं से भी मिली थीं. कोरोना (Coronavirus) रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद सिंगर के ऊपर जानकारी छुपाने का और जानबूझकर लोगों में इस वायरस को संक्रमित करने का आरोप लगाया. हालांकि, अब इस पर कनिका कपूर (Kanika Kapoor Instagram) ने अपनी सफाई पेश की है. 

Newsbeep


सिंगर कनिका कपूर (Kanika Kapoor) ने हाल ही में अपने इंस्टाग्राम एकाउंट से एक पोस्ट शेयर किया है. इस पोस्ट में उन्होंने लिखा है, "मुझे पता है कि मेरे बारे में कई कहानियां घूम रही हैं. कुछ कहानियों में तो जानबूझकर आग लगाई गई, क्योंकि मैंने चुप रहना सही समझा था. मैं इसलिए चुप नहीं थी क्योंकि मैं गलत थी बल्कि इसलिए चुप थी कि मैं इस बात को
जानती थी कि लोगों को गलतफहमी हो गई है और गलत जानकारी दी गई है. मैंने इस बात को समय दिया की सच खुद ब खुद सामने आएगा और लोगों को खुद सच की अनुभूति होगी."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com



कनिका कपूर (Kanika Kapoor) ने आगे कहा, "इसके लिए मैं कुछ तथ्य आपके साथ साझा करना चाहूंगी. मैं इस समय लखनऊ में अपने माता-पिता के साथ क्वालिटी टाइम बिता रही हूं. यूके से आने के बाद मैं जितने भी लोगों के संपर्क में आई, उनमें Covid 19 का कोई भी लक्षण नहीं देखा गया था बल्कि सबकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई थी. मैं 10 मार्च को यूके से वापस मुंबई आई थी और मुझे अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट पर जांचा भी गया था. उस समय ऐसी कोई एडवाइजरी नहीं थी, 18 मार्च को यूके में एडवाइजरी आई थी, जिसमें लिखा था कि खुद को क्वारंटीन करें. मुझे बीमारी का खुद में कोई लक्षण नहीं दिखा, इसलिए मैंने खुद को क्वारंटीन नहीं किया." अपने पूरी यात्रा की जानकारी देते हुए कनिका कपूर (Kanika Kapoor Post) ने लिखा, "मैं उम्मीद करती हूं कि इस मैटर से लोग सच्चाई और संवेदनशीलता के साथ डील करें. इंसान पर नाकारात्मकता थोपने से सच्चाई नहीं बदलती." कनिका कपूर के इस पोस्ट पर लोग खूब कमेंट कर रहे हैं और अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं.