NDTV Khabar

लता मंगेशकर को ‘सत्यम शिवम सुंदरम’ में कास्ट करना चाहते थे राज कपूर

'सत्यम शिवम सुंदरम' को जीनत अमान के साथ बनाने से काफी पहले राज कपूर लता मंगेशकर के पास गए थे फिल्म को लेकर

281 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
लता मंगेशकर को ‘सत्यम शिवम सुंदरम’ में कास्ट करना चाहते थे राज कपूर

लता मंगेशकर

खास बातें

  1. 28 सितंबर, 1929 को हुआ था जन्म
  2. लता मंगेशकर हो गई हैं 88 वर्ष की
  3. भारत रत्न से हैं सम्मानित
नई दिल्ली: शायद इस बात से बहुत कम ही लोग वाकिफ होंगे की राज कपूर की सुपरहिट फिल्म ‘सत्यम शिवम सुंदरम’ को लता मंगेशकर को ध्यान में रखकर लिखा गया था. इस बात का खुलासा राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीत चुकी यतींद्र मिश्र की किताब ‘लता सुर गाथा’ में किया गया है. इस बात की जानकारी यतींद्र मिश्र के पूछे गए सवाल के जवाब के तौर पर लता मंगेशकर ने खुद दी है. राज कपूर ने लता मंगेशकर के सामने इच्छा जताई थी कि वे ‘सत्यम शिवम सुंदरम’ में एक्टिंग करें.

Video: मेरी आवाज ही मेरी पहचान है...



यह भी पढ़ेंः हेडमास्टर की वजह से लता मंगेशकर ने छोड़ा था स्कूल जाना, जानिए क्यों

लता मंगेशकर ने ‘लता सुर गाथा’ में कहा है, “हां, राजकपूर जी ने सत्यम शिवम सुंदरम की पटकथा मुझे ही आधार बनाकर लिखी थी. बहुत शुरू में वह चाहते थे कि मैं मुख्य किरदार को परदे पर निभाऊं, जिसकी आवाज ही पूरी पटकथा का सबसे अहम पक्ष है. मुझे यह सही नहीं लगता था, इसलिए मैंने उन्हें फिल्म बनाने के लिए तो नहीं रोका, पर अपने खुद के जुड़ाव को साफ मना कर दिया था. मैंने उनसे तब यह कहा था कि फिल्म के लिए मैं अपनी आवाज दे सकती हूं, मगर परदे पर आना मुझे गवारा नहीं. वे अनमने थे, लेकिन उस समय मान गए थे. बहुत बाद में अस्सी के दशक में फिर उन्होंने दोबारा से जब इसे बनाने की सोची , तो जीनत अमान से यह रोल करवाया.”

 ...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement