NDTV Khabar

Mahatma Gandhi: 'व्यक्ति की पहचान उसके कपड़ों से नहीं, उसके चरित्र से होती है', महात्मा गांधी के दमदार कोट्स

Mahatma Gandhi Death Anniversary: राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की नाथूराम गोडसे (Nathuram Godse) ने 30 जनवरी 1948 को  गोली मारकर हत्या कर दी थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Mahatma Gandhi: 'व्यक्ति की पहचान उसके कपड़ों से नहीं, उसके चरित्र से होती है', महात्मा गांधी के दमदार कोट्स

Death Anniversary Of Mahatma Gandhi 2019: महात्मा गांधी के खास विचार.

खास बातें

  1. महात्मा गांधी की हत्या 30 जनवरी 1948 में की गई थी
  2. महात्मा गांधी की आज पुण्यतिथि है
  3. महात्मा गांधी के खास विचार
नई दिल्ली:

Mahatma Gandhi Death Anniversary: राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की नाथूराम गोडसे (Nathuram Godse) ने 30 जनवरी 1948 को  गोली मारकर हत्या कर दी थी. अहिंसा को अपना सबसे बड़ा हथियार बनाकर अंग्रेजों को देश से बाहर का रास्ता दिखाने वाले महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) उस दिन भी रोज की तरह शाम की प्रार्थना के लिए जा रहे थे, तभी नाथूराम गोडसे (Nathuram Godse) ने उन्हें बहुत करीब से गोली मारी और साबरमती का संत 'हे राम' कहकर दुनिया से विदा हो गया. इस तरह नव स्वतंत्र राष्ट्र के सिर से पिता का साया छीन गया था. अपने जीवनकाल में अपने विचारों और सिद्धांतों के कारण महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) का नाम उनकी मृत्यु के बाद दुनियाभर में कहीं ज्यादा इज्जत और सम्मान से लिया जाता है.  महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के जीवन पर आधारित बहुत-सी फिल्में भी बनीं, जिसमें उनके जीवन को दर्शाया गया. हम आपके लिए उनके जीवन पर आधारित फिल्मों के 5 दमदार डायलॉग लेकर आए हैं, जिस सुनकर आप भी गर्व से भर उठेंगे.

Mahatma Gandhi Death Anniversary: जब दांडी मार्च के दौरान बापू 24 दिनों तक रोज 16 से 19 किलोमीटर चलते थे पैदल


साल 1982 में आई फिल्म 'महात्मा गांधी' (Mahatma Gandhi) में गांधी के जीवन के हर पहलुओं को दिखाया गया है. इसी फिल्म के ये 5 दमदार डायलॉग...

1. सर... मैंने वकालत पास की है लंदन से और मेंबर हूं हाईकोर्ट चांसरी का और तभी वकालत कर रहा हूं, क्योंकि आपके नजर में मैं काला आदमी हूं. कम से कम इससे ये तो जाहिर हुआ कि कम से कम एक काला वकील साउथ अफ्रीका में है.

2. मैं उन्हें उलझन में डालना चाहता हूं, जो हमें गुलाम समझते हैं. मै चाहता हूं उनका नजरिया बदले, नाकि हम उन्हें मारे उस कमजोरी के लिए जो सबमें है.

3. ये कानून जारी होगा अगले महीने के छठी अप्रैल से. मैं सारे देश से अपील करूंगा कि सबलोग कुछ दिन प्रार्थना और उपवास करें.

4. मुमकिन है मैं गलत हूं, मुमकिन है हम तैयार नहीं, साउथ अफ्रीका में कम थे हम लोग

5. मुझे कोई कष्ट नहीं है जेल के भीतर भी और ये विश्वास भी है कि जंग खत्म होने पर आजाद भी होंगे हम. मेरी तो यही चिंता है कि उसका रूप क्या होगा.


महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के 5 खास विचार...

1. कमजोर कभी माफ़ी नहीं मांगते. क्षमा करना तो ताकतवर व्यक्ति की विशेषता है.

2. व्यक्ति की पहचान उसके कपड़ों से नहीं, उसके चरित्र से होती है.

3. आपको इंसानियत पर कभी भी भरोसा नहीं तोड़ना चाहिए क्योंकि इस दुनिया में इंसानियत एक ऐसा समुद्र है जहां अगर कुछ बूंदें गंदी हो भी जाएं तो भी समुद्र गंदा.

4. आजादी का कोई मतलब नहीं, अगर इसमें गलती करने की आजादी शामिल न हो.

5. एक आंख के बदले आंख ही पूरी दुनिया को अंधा बना कर समाप्त होता है.

टिप्पणियां

देखें वीडियो... 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement