गर्भवती हथिनी के साथ हुई घटना पर एक्टर ने शेयर की पोस्ट, बताया- जान-बूझकर नहीं खिलाया गया था अनानास

केरल में गर्भवती हथिनी (Pregnant Elephant) के साथ हुई घटना पर पृथ्वीराज सुकुमारन (Prithviraj Sukumaran) ने ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने घटना से जुड़े कुछ तथ्य लोगों से साझा किये हैं.

गर्भवती हथिनी के साथ हुई घटना पर एक्टर ने शेयर की पोस्ट, बताया- जान-बूझकर नहीं खिलाया गया था अनानास

एक्टर पृथ्वीराज सुकुमारन (Prithviraj Sukumaran) ने शेयर की हथिनी के साथ हुई घटना पर पोस्ट

खास बातें

  • हाथी के साथ हुई घटना पर पृथ्वीराज सुकुमारन ने शेयर की पोस्ट
  • एक्टर ने बताया कि जानबूझकर नहीं खिलाया गया था अनानास
  • पृथ्वीराज सुकुमारन की पोस्ट हुई वायरल
नई दिल्‍ली:

केरल में गर्भवती हथिनी (Pregnant Elephant) के साथ हुई घटना को लेकर चारों तरफ आक्रोश देखने को मिल रहा है. दरअसल, खाने की तलाश में गांव में आई हथिनी की पटाखों से भरा अनानास खाने के बाद मौत हो गई. यह अनानास हाथी को वहां के स्थानीय लोगों ने दिया था. हाल ही में इस मामले को लेकर मलयालम एक्टर पृथ्वीराज सुकुमारन (Prithviraj Sukumaran) ने ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने घटना से जुड़े कुछ तथ्य लोगों से साझा किये हैं. एक्टर ने यह तथ्य मनोरमा ऑनलाइन के जरिए शेयर किये, जिसमें लिखा था कि हाथी को जान बूझकर पटाखों से भरा अनानास नहीं खिलाया गया था.

पृथ्वीराज सुकुमारन (Prithviraj Sukumaran) के इस ट्वीट को लेकर लोग खूब कमेटं कर रहे हैं, साथ ही यह पोस्ट सबका ध्यान भी खींच रहा है. एक्टर की पोस्ट में बताया गया, "जानवर को उद्देश्य से घातक भोजन नहीं खिलाया गया था. गांव में जंगली जानवरों से फसलों की रक्षा करने के लिए इसे रखा गया था जो कि हाथी ने खा लिया. यह गैरकानूनी है, लेकिन यह तरीका वहां कई जगह इस्तेमाल किया जाता है, जिससे लोग फसलों को जंगली जानवरों से बचा सकें. यह घटना पलक्कड़ जिले में हुई थी मलप्पुरम में नहीं." इसके साथ ही पोस्ट में बताया गया कि मामले को लेकर फॉरेस्ट डिपार्टमेंट और पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है. 

पृथ्वीराज सुकुमारन (Prithviraj Sukumaran) की पोस्ट में हाथी के साथ हुई घटना को लेकर बताया गया कि जैसे ही फॉरेस्ट डिपार्टमेंट को इसके बारे में मालूम चला, वैसे ही वह हाथी को बचाने के लिए आ गए थे. लेकिन कोशिश बेकार रही. इसके साथ ही बताया गया कि यह घटना 27 मई को हुई थी. प्रेग्नेंट हथिनी के साथ हुई इस घटना के बारे में वन अधिकारी मोहन कृष्णन्न ने अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखा, "हथिनी ने सब पर भरोसा किया. जब उसके मुंह में वो अनानास फटा होगा तो वह सही में डर गई होगी और अपने बच्चे के बारे में सोच रही होगी, जिसे वह 18 से 20 महीनों में जन्म देने वाली थी."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com