NDTV Khabar

Padmaavat: चित्तौड़ के इन दो योद्धाओं के बिना अधूरी है रानी पद्मावती की कहानी

‘पद्मावत’ की कहानी के दो बहुत ही दिलचस्प किरदार हैं गोरा और बादल. इन दोनों के बारे में कई किस्से और कहानियां प्रचलित हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Padmaavat: चित्तौड़ के इन दो योद्धाओं के बिना अधूरी है रानी पद्मावती की कहानी

'पद्मावत' में दीपिका पादुकोण रानी पद्मावती और शाहिद कपूर ने राजा रत्न सिंह का किरदार निभाया.

खास बातें

  1. इन दो योद्धाओं ने किए थे अलाउद्दीन खिलजी के दांत खट्टे
  2. प्रचलित हैं गोरा और बादल के कई किस्से और कहानियां
  3. यादवेंद्र शर्मा ‘चंद्र’ की किताब में मिलती है इन योद्धाओं की कहानी
नई दिल्ली:

संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावत' भारी विवाद के साथ सिनेमाघरों में रिलीज हुई और कमाई के कई रिकॉर्ड्स अपने नाम कर लिए हैं. दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर स्टारर इस फिल्म ने शुरुआती 4 दिनों में 115 करोड़ रु. का शानदार कलेक्शन किया है. वैसे, ‘पद्मावत’ की कहानी के दो बहुत ही दिलचस्प किरदार हैं गोरा और बादल. इन दोनों के बारे में कई किस्से और कहानियां प्रचलित हैं. उन्हीं किस्सों के मुताबिक, चित्तौड़ के दो ऐसे योद्धा जिन्होंने अपने ही दम पर अलाउद्दीन खिलजी से लोहा लेने की ठानी थी और उसके होश भी गुम कर दिए थे. अलाउद्दीन खिलजी जब राजा रत्न सिंह से जंग में जीत नहीं पा रहा था तो उसने एक चाल चली. उसने संदेश भिजवाया कि वे अपनी रानी की एक झलक दिखा दे वह जंग बंद करके चला जाएगा. इस पर राजा को गुस्सा आ गया लेकिन पद्मावती ने उन्हें समझाया और कहा कि अगर लोगों की जान बचती है तो ऐसा करने में क्या हर्ज है.

Deepika Padukone अपनी शादी में नहीं देंगी इस बॉलीवुड एक्ट्रेस को Invitation, नाम जानकर हो जाएंगे Shocked!


फिर अलाउद्दीन महल में आता है और झलक देखकर लौट रहा होता है. जब रत्न सिंह उसे किले से बाहर छोड़ने जाते हैं तो उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाता है. अलाउद्दीन के शिविर में कैद कर लिया जाता है. इसकी जानकारी यादवेंद्र शर्मा ‘चंद्र’ की किताब में मिलती है.

'बाहुबली 2', 'दंगल' और 'पीके' से आगे निकली 'पद्मावत', जानें अब तक की कमाई

इसके बाद अलाउद्दीन ने संदेश भिजवाया था कि अगर राजा की आजादी चाहते हैं तो रानी को भेज दें. रानी चित्तौड़ के महान योद्धा गोरा और बादल से सलाह करती हैं और कहती हैं कि वे आने को तैयार हैं लेकिन अपनी 700 दासियों के साथ आएंगी, जो सब अलग डोलियों में आएंगी.

'पद्मावत' में निगेटिव रोल करके छाए रणवीर सिंह, रिलीज के बाद पहली बार बोली ये बात

टिप्पणियां

बस इसके बाद रणनीति बनाई जाती है और सभी कहार और डोलियों में छंटे हुए योद्धाओं को रखा जाता है और गोरा-बादल भी जाते हैं. अलाउद्दीन के शिविर में पहुंचते ही वे हमला कर देते हैं और इस हमले से सकपका कर अलाउद्दीन के सैनिक संभल नहीं पाते हैं. गोरा-बादल राजा रत्न सिंह को छुड़ा लाते हैं. कहा जाता है कि इस जंग में गोरा और बादल शहीद हो गए थे. गोरा-बादल को लेकर राजस्थान में कई किस्से-कहानियां प्रचलित हैं. बता दें, विवादों से घिरी संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावत' में गोरा-बादल की वीरता को भव्य तरीके से दिखाया गया है.

VIDEO: आखिर क्यों हो रहा है 'पद्मावत' का विरोध...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement