NDTV Khabar

'पद्मावती' के समर्थन में उतरे अर्जुन कपूर, कहा- भंसाली पर भरोसा करना चाहिए...

अर्जुन कपूर ने ट्विटर पर लिखा, "फिर से एक व्यक्ति को अपनी रचनात्मकता पर स्पष्टीकरण देना पड़ा, क्योंकि राजनीति और दुष्प्रचार ने एक खराब वातावरण बना दिया है. वह एक शानदार फिल्म निर्माता हैं. उनके दृष्टिकोण पर भरोसा किया जाना चाहिए."

119 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
'पद्मावती' के समर्थन में उतरे अर्जुन कपूर, कहा- भंसाली पर भरोसा करना चाहिए...
नई दिल्ली: संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती' का जमकर विरोध हो रहा है. दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह, शाहिद कपूर स्टारर इस फिल्म को लेकर विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. हाल ही में भंसाली ने एक वीडियो साझा कर फिल्म से जुड़ी अफवाहों से पर्दा उठाया है. अब अभिनेता अर्जुन कपूर ने फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली और उनकी फिल्म 'पद्मावती' का समर्थन करते हुए कहा कि लोगों को निर्माता के दृष्टिकोण पर विश्वास करना चाहिए. 

पढ़ें: रिलीज से पहले 'टाइगर जिंदा है' ने बनाया ऐसा रिकॉर्ड कि 'पद्मावती' रह गई बेहद पीछे...

'मुबारकां' के अभिनेता (32) ने गुरुवार को 'पद्मावती' को लेकर हो रहे विवादों पर भंसाली द्वारा स्पष्टीकरण देने वाले एक वीडियो के लिंक को ट्वीट करते हुए लिखा, "फिर से एक व्यक्ति को अपनी रचनात्मकता पर स्पष्टीकरण देना पड़ा, क्योंकि राजनीति और दुष्प्रचार ने एक खराब वातावरण बना दिया है. वह एक शानदार फिल्म निर्माता हैं. उनके दृष्टिकोण पर भरोसा किया जाना चाहिए."
उन्होंने लिखा, "मुझे यकीन है कि रानी पद्मावती और उनकी कहानी को रणवीर सिंह, दीपिका पादुकोण और शाहिद कपूर द्वारा सम्मानित तरीके से प्रस्तुत किया जाएगा."

पढ़ें: 'पद्मावती और अलाउद्दीन खिलजी में ड्रीम सीक्‍वेंस.. यह अफवाह है': भंसाली

इस ऐतिहासिक ड्रामा में दीपिका पादुकोण राजपूताना रानी पद्मावती, शाहिद कपूर उनके पति रावल रतन सिंह और रणवीर सिंह दिल्ली सल्तनती शासक अलाउद्दीन खिलजी की भूमिका निभा रहे हैं. 



एक वीडियो में भंसाली ने कहा कि रानी पद्मावती और खिलजी के बीच ऐसा कोई सीन नहीं है, जो किसी की भावनाओं को चोट पहुंचाता हो.

रणवीर ने भी एक वीडियो लिंक साझा करते हुए लिखा, "खुद इस व्यक्ति के मुंह से सुनो. आशा है कि इससे चीजें साफ होंगी."
शाहिद ने भी इस लिंक को साझा किया करते हुए भंसाली को 'पद्मावती' में काम करने का अवसर देने के लिए धन्यवाद दिया.
यह फिल्म 1 दिसंबर को रिलीज के लिए तैयार है, लेकिन राजपूतों के संगठन 'करणी सेना' ने बिना देखे फिल्म की शूटिंग के बीच तोड़फोड़ और निर्माता भंसाली के साथ दुर्व्यवहार किया. सेंसर बोर्ड से पास इस फिल्म को दिखाए जाने से रोकने के लिए कई भाजपा नेता भी आगे आए. एक भाजपा सांसद ने तो भंसाली के प्रति अभद्र टिप्पणी भी कर दी. उन्होंने कहा, "भंसाली को जूतों की भाषा समझ में आती है."

पढ़ें: Padmavati: सामने आया नया Poster, क्‍या यही है 'पद्मावती' का Climax...?

हाल ही में एक जीटीवी मध्य प्रदेश पर एक डिबेट में शामिल एक नेता ने 'पद्मावती' का पुरजोर विरोध किया, लेकिन जब उनसे रानी पद्मावती के पति का नाम पूछा गया, तो उन्होंने गलत नाम बताया. इससे जाहिर है कि सिर्फ विरोध के लिए विरोध किया जा रहा है. सच्चाई पता हो या न हो, भगवा पाठशालाओं में जो रटाया जाता है, उसी बिनाह पर कुछ लोग मौका देख आरएसएस के एजेंडे पर काम शुरू कर देते हैं.

VIDEO: 'पद्मावती' के सेट पर तोड़-फोड़, भंसाली के साथ मारपीट
...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...  
(इनपुट: IANS)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement