फूलनदेवी के बाद अब सुल्ताना डाकू पर बनेगी फिल्म, ये एक्टर बनेगा दरियादिल डाकू

रणदीप हुड्डा को बायोपिक का बादशाह कहना गलत नहीं होगा. वे 'चार्ल्स शोभराज' पर बनी फिल्म में लीड रोल निभा चुके हैं जबकि 'सरबजीत' में भी वे लीड रोल में थे.

फूलनदेवी के बाद अब सुल्ताना डाकू पर बनेगी फिल्म, ये एक्टर बनेगा दरियादिल डाकू

रणदीप हुड्डा

खास बातें

  • 'सरबजीत' की बायोपिक में आ चुके हैं नजर
  • 'बैटल ऑफ सारागढ़ी' की कर रहे हैं शूटिंग
  • बायोपिक के हैं महारती
नई दिल्ली:

रणदीप हुड्डा को बायोपिक का बादशाह कहना गलत नहीं होगा. वे 'चार्ल्स शोभराज' पर बनी फिल्म में लीड रोल निभा चुके हैं जबकि 'सरबजीत' में भी वे लीड रोल में थे. इसके अलावा वे 'रंग रसिया' में पेंटर राजा रवि वर्मा के किरदार में नजर आए थे. इन दिनों वे 'बैटल ऑफ सारागढ़ी' की शूटिंग कर रहे हैं और फिल्म में हवलदार ईशर सिंह का किरदार निभा रहे हैं. लेकिन उनके फैन्स के लिए अब जबरदस्त खबर ये आई है कि रणदीप हुड्डा मधुरीता आनंद की फिल्म 'सुल्ताना डाकू' में लीड रोल निभाएंगे. फिल्म सुजीत सराफ के उपन्यास 'द कन्फेशंस ऑफ सुल्ताना डाकू' पर आधारित होगी. 

Bigg Boss 11: बिग बॉस को आया गुस्सा, इस सदस्य को छोड़ पूरा घर हो गया नॉमिनेट

 

 

A post shared by Randeep Hooda (@randeephooda) on


'सुल्ताना डाकू' की शूटिंग अप्रैल 2018 में शुरू होगी. फिल्म के प्रोड्यूसर राहुल मित्रा कहते हैं, "फिल्म की शूटिंग उत्तर प्रदेश के तराई इलाके में होगी और फिल्म के कुछ सीक्वेंस कजाकिस्तान में शूट होंगे, जहां 1920 के उत्तर भारत जैसी लोकेशंस मिल सकेंगे. वैसे भी रणदीप हुड्डा घुड़सवारी में माहिर हैं, और उनको वहां जबरदस्त स्टंट करने होंगे." मित्रा ने बताया कि फिल्म का डार्क नहीं रखा जाएगा और यह सुपरहीरो ड्रामा जैसी होगी जहां रॉबिन हुड जैसा रणदीप का कैरेक्टर अमीरों को लूटेगा और गरीबों को देगा. रणदीप अपने कैरेक्टर के लिए जबरदस्त मेहनत करते हैं सरबजीत के लिए जहां उन्होंने अपना वजन घटाया था वहीं ईशर सिंह के कैरेक्टर के लिए वे सिख वाला गैटअप अपना चुके हैं. 

video: रणदीप हुड्डा का फिल्मी सफर

बर्थडे से ठीक पहले पापा सैफ से घुड़सवारी सीख रहे तैमूर अली खान, Photos में देखें

सुल्ताना एक डकैत था जिसने अपने घोड़े का नाम चेतक रखा हुआ था. ऐसा उसने महाराणा प्रताप के घोड़े सम्मान में किया था. सुल्ताना को ब्रिटिश ऑफिसर फ्रेडी यंग ने पकड़ा था और उसने सुल्ताना को माफी दिलाने की पूरी कोशिश की लेकिन सफल नहीं रह सका. 7 जुलाई, 1924 को सुल्ताना को मौत की सजा दे दी गई. उससे पहले सुल्ताना ने यंग से कहा था कि उसके बेटे की परवरिश 'साहिब' की तरह हो.

  ...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com