NDTV Khabar

बॉलीवुड में रणवीर सिंह को हुए 8 साल, करियर को लेकर खोल डाले ये राज

अभिनेता रणवीर सिंह ने बॉलीवुड में अपने आठ साल लंबे सफर में 'गोलियों की रासलीला-राम-लीला', 'बाजीराव मस्तानी' और 'पद्मावत' जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्मों के साथ अपार सफलता हासिल की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बॉलीवुड में रणवीर सिंह को हुए 8 साल, करियर को लेकर खोल डाले ये राज

रणवीर सिंह (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. रणबीर सिंह को बॉलीवुड में हुए 8 साल
  2. करियर को लेकर खोले कई राज
  3. रणबीर की आने वाली है 3 फिल्में
नई दिल्ली: अभिनेता रणवीर सिंह ने बॉलीवुड में अपने आठ साल लंबे सफर में 'गोलियों की रासलीला-राम-लीला', 'बाजीराव मस्तानी' और 'पद्मावत' जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्मों के साथ अपार सफलता हासिल की. अभिनेता का कहना है कि इतनी उपलब्धियां कुछ खोने के बाद मिलती हैं. रणवीर ने 2010 में हिट फिल्म 'बैंड बाजा बारात' से अभिनय में पदार्पण किया है. इसके बाद, उन्होंने 'लेडीज वर्सेज रिकी बहल', 'लुटेरा' और 'दिल धड़कने दो' जैसी कई हिट फिल्में कीं. स्टारडम की कीमत चुकाने की बात पर रणवीर ने कहा, "हां, मेरे हिसाब से इसकी छोटी कीमत चुकानी पड़ती है. मैं उन खुशनसीबों में से हूं जो रोजी-रोटी के लिए वही काम कर रहे हैं जो वे पसंद करते हैं."

सपना चौधरी के ठुमकों ने भोजपुरी सुपरस्टार खेसारी लाल यादव के उड़ाए होश, Video हुआ वायरल

'सिंबा', 'गली बॉय' और '83' जैसी बड़ी फिल्में कर रहे रणवीर (32) को कोई शिकायत नहीं है. उन्होंने कहा, "मैं अच्छा काम कर रहा हूं, मैं सबसे अच्छे फिल्म निर्माताओं से जुड़ा हुआ हूं, मैं कुछ रोमांचक कहानियों का हिस्सा हूं और मैं कुछ सबसे बड़ी परियोजनाओं का हिस्सा हूं. इसलिए, काम अच्छा है." रणवीर ने कहा, "आपको जीवन में कुछ चीजों से समझौता करना पड़ता है. आपका समय, आपकी निजता. ईमानदारी से आप मुझे कभी शिकायत करते हुए नहीं देखेंगे."

Miss Pooja को आया रॉन्ग नंबर से कॉल, शख्स ने पूछा- की हाल है सिमरन और फिर हुआ कुछ ऐसा...

इतनी सफलता के साथ अपने पैर जमीं पर रखने के सवाल पर उन्होंने कहा, "मेरे पास किस्मत से बहुत मजबूत सहायक हैं. मेरा परिवार, माता-पिता, दोस्त, टीम. उन्होंने मेरी जिंदगी के कई पड़ाव देखे हैं. वे मुझसे जब बात करते हैं तो वे एक व्यक्ति से बात करते हैं न कि स्टार से. मैं बहुत खुशकिस्मत हूं जो मेरे आस-पास ऐसे लोग हैं जो इसे वास्तविक रखे हुए हैं." रणवीर समझते हैं कि सफलता और प्रसिद्धि क्षणभंगुर और अस्थायी होती है.

धान के खेतों में बैलों के साथ इन लड़कों ने की ऐसी हरकत, बार-बार देखा जा रहा है वीडियो

उन्होंने कहा, "आज है कल नहीं है. इसलिए आपको अपने अवसरों का सम्मान करना होगा और कठिन परिश्रम करते रहना होगा." 'किल दिल', 'गुंडे' और 'बेफिकरे' जैसी असफल फिल्में करने वाले रणवीर सिंह का कहना है कि आलोचना स्वीकार करने में उन्हें कोई परेशानी नहीं है. ट्विटर पर एक करोड़ से ज्यादा फॉलोवर वाले रणवीर का कहना है कि वे सभी के विचारों का सम्मान करते हैं.

टिप्पणियां
...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...

(इनपुट आईएएनएस से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement