NDTV Khabar

ये क्या बोल गईं 'भोली पंजाबन' ऋचा चड्ढा, 'यौन शोषण करने वाले का अभी नाम ले सकती हूं लेकिन...'

अदाकारा ऋचा चड्ढा ने कहा है कि बॉलीवुड में यौन उत्पीड़न होता है इस बात को स्वीकार करना साहस की बात है लेकिन ऐसा करने वालों का नाम नहीं लिया जा सकता.

233 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
ये क्या बोल गईं 'भोली पंजाबन' ऋचा चड्ढा, 'यौन शोषण करने वाले का अभी नाम ले सकती हूं लेकिन...'

खास बातें

  1. बॉलीवुड एक्ट्रेस ऋचा ने यौन शोषण पर बोली ये बात
  2. हाल ही में उनकी फिल्म फुकरे रिटर्न्स रिलीज हुई
  3. कहा- सुरक्षा मिले तो यौन शोषण करने वालों का ले सकती हूं नाम
मुंबई: अदाकारा ऋचा चड्ढा ने कहा है कि बॉलीवुड में यौन उत्पीड़न होता है इस बात को स्वीकार करना साहस की बात है लेकिन ऐसा करने वालों का नाम नहीं लिया जा सकता क्योंकि उसके बाद काम मिलने की गारंटी नहीं होती. ऋचा ने कहा कि यौन उत्पीड़न स्थिति से संबंधित ब्लॉग पोस्ट के लिये उनपर निशाना साधा गया. यहां तक कि नारीवादी रूझान वालों ने भी पूछा कि आप ऐसा करने वालों का नाम क्यों नहीं ले रही हैं. ऋचा ने एक न्यूज एजेंसी को दिए इंटरव्यू में कहा कि अगर आप मुझे जिंदगी भर पेंशन दें, मेरी सुरक्षा और मेरे परिवार का ख्याल रखें, यह सुनिश्चित करें कि मुझे फिल्मों और टीवी में काम मिलता रहेगा या मैं जो भी करना चाहूं करती रहूं, मेरा करियर निर्बाध बढ़ता रहे तो मैं अभी नाम लूंगी, वाकई ऐसा करूंगी.

पढ़ें: BOX OFFICE: 'फुकरे रिटर्न्स' ने पहले दिन बटोरे दमदार कलेक्शन, कमाई जानकर हो जाएंगे हैरान

उन्होंने कहा, केवल मैं ही नहीं और भी लोग ऐसा करेंगे. लेकिन कौन ऐसा करेगा? अदाकारा का मानना है कि फिल्म इंडस्ट्री में इस तरह की व्यवस्था नहीं है जिससे कि पीड़ितों को सुरक्षा मिले. उन्होंने कहा, हर बार जब कोई बोलता है तो प्रतिक्रिया होती है. नाम बताने को कहा जाता है. अगर प्रेस को पता है कौन यह कर रहा तो क्यों नहीं बताते. ऋचा ने आगे कहा कि जब भी हम एक कदम उठाते हैं तो प्रतिक्रिया होती है. इंडस्ट्री की व्यवस्था और ढांचे को बदलने की जरूरत है. अदाकार के लिए रायल्टी नहीं होती. समुचित कानून के अभाव में कौन लेगा जोखिम?

टिप्पणियां
VIDEO: 'फुकरे रिटर्न्‍स' में फुकरापंती देख लोट-पोट हो जाएंगे आप

उन्होंने यह भी कहा कि मुझे न्याय का पूरा बोध है. मैंने अपने दिल के करीब की बातें कहीं. लेकिन, मुझे लगता है कि मैं थोड़ा भावुक हूं. दुनिया भर के घटनाक्रमों से प्रभावित होती हूं.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement