किसानों के समर्थन में आए रितेश देशमुख, Tweet कर बोले- अगर आप आज खा रहे हैं तो...

किसानों को लेकर बॉलीवुड एक्टर रितेश देशमुख (Riteish Deshmukh) ने भी ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने कहा कि अगर आज आप खा रहे हैं तो उसके लिए एक किसान को धन्यवाद करिये.

किसानों के समर्थन में आए रितेश देशमुख, Tweet कर बोले- अगर आप आज खा रहे हैं तो...

रितेश देशमुख (Riteish Deshmukh) ने किसानों के समर्थन में किया ट्वीट

खास बातें

  • किसानों के समर्थन में आए बॉलीवुड एक्टर रितेश देशमुख
  • एक्टर ने कहा कि अगर आप आज खा रहे हैं तो...
  • रितेश देशमुख का ट्वीट सोशल मीडिया पर हुआ वायरल
नई दिल्‍ली:

केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन (Farmer Protest) जारी है. कृषि कानूनों पर गतिरोध को खत्म करने के लिए सरकार और किसान संगठनों के बीच बैठक भी होनी है. किसान आंदोलन को लेकर कई बॉलीवुड कलाकार और पंजाबी कलाकार भी उनका समर्थन कर रहे हैं. वहीं, हाल ही में किसानों को लेकर बॉलीवुड एक्टर रितेश देशमुख (Riteish Deshmukh) ने भी ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने कहा कि अगर आज आप खा रहे हैं तो उसके लिए एक किसान को धन्यवाद करिये. किसानों को लेकर रितेश देशमुख का यह ट्वीट खूब सुर्खियां बटोर रहा है. 


रितेश देशमुख (Riteish Deshmukh) ने अपने ट्वीट में किसानों को धन्यवाद करने की बात करते हुए लिखा, "अगर आप आज खा रहे हैं तो उसके लिए किसान को धन्यवाद करिये. मैं हमारे देश में हर एक किसान के साथ एकजुटता से खड़ा हुआ हूं." रितेश देशमुख के इस ट्वीट पर फैंस भी जमकर कमेंट कर रहे हैं. बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब रितेश देशमुख ने समसामयिक मुद्दों पर यूं बेबाकी से अपनी राय पेश की हो. किसानों से लेकर राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों पर भी रितेश देशमुख अकसर ट्वीट करते हुए दिखाई देते हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि किसान संगठनों के साथ चर्चा से पहले पीएम नरेंद्र मोदी के आवास पर किसान आंदोलन (Farmer Protest) को लेकर अहम बैठक हुई. इस बात की जानकारी सूत्रों ने दी. सूत्रों के अनुसार इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah), रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh), कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल मौजूद रहे. इससे इतर आज दोपहर ही किसान संगठनों के साथ सरकार बातचीत भई करने वाली है. सरकार की कोशिश कृषि कानूनों को लेकर जारी गतिरोध को खत्म करने की है. किसानों के साथ पिछली बैठक में सरकार ने नरमी के संकेत दिए थे.