NDTV Khabar

बॉलीवुड में एक्ट्रेस को एक उम्र के बाद किरदार मिलना मुश्किल : शेफाली शाह

शादी के बाद एक्ट्रेस के लिए किरदारों की कमी होने के सवाल पर शेफाली ने कहा कि भेदभाव इससे कहीं अधिक है.

59 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
बॉलीवुड में एक्ट्रेस को एक उम्र के बाद किरदार मिलना मुश्किल : शेफाली शाह
नई दिल्ली: जोया अख्तर की फिल्म दिल धड़कने दो (2015) में प्रियंका चोपड़ा और रणवीर कपूर की मां बनीं एक्ट्रेस शेफाली शाह का कहना है कि एक उम्र के बाद फिल्म इंडस्ट्री में महिलाओं को किरदार मिलना काफी मुश्किल हो जाता है. शादी के बाद अदाकाराओं के लिए किरदारों की कमी होने के सवाल पर शेफाली ने कहा कि भेदभाव इससे कहीं अधिक है.

शेफाली के मुताबिक, "ऐसा सिर्फ उनके शादी करने के बाद नहीं होता बल्कि एक उम्र के बाद उन्हें (निर्माताओं को) ये नहीं पता होता कि अभिनेत्री को कैसे किरदार दिए जाएं. एक तरह से किरदार मिलना ही मुश्किल हो जाता है." उन्होंने आगे कहा, "उन्हें नहीं पता होता कि अभिनेत्रियों के साथ इस दौरान क्या किया जाए, उन्हें कैसे किरदार दिए जाएं. मुझे नहीं लगता कि इसका शादी से कोई लेना देना है, मुझे लगता है कि यह इससे कई अधिक बड़ा और व्यापक भेदभाव है."
 

'सत्या' की अदाकारा का मानना है कि चीजों को छोटे स्तर पर बदलने की आवश्यकता है. शेफाली कहती हैं, "कई बेहतरीन किरदार लिखे जा रहे हैं. मुझे यह स्वीकार करना होगा. विद्या बालन के लिए किरदार लिखे जाते हैं. 'लिपस्टिक अंडर माय बुर्का', 'पिंक' जैसी महिला केंद्रित फिल्में बनाई जा रही हैं." अभिनेत्री ने यह बयान अपनी शॉर्ट फिल्म 'जूस' के लान्च पर दिया.

 Video:विद्या बालन से खास मुलाकात...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...
(इनपुट: भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement