किसानों के समर्थन में दिल्ली पहुंची सिंगर रुपिंदर हांडा, Video में बोलीं- 80-80 साल के बुजुर्ग यहां बैठे हैं...

अब हाल ही में किसानों का समर्थन करने सिंगर रुपिंदर हांडा (Rupinder Handa) भी पहुंची हैं. उन्होंने मंच ये किसान एकता जिंदाबाद के नारे लगाए हैं.

किसानों के समर्थन में दिल्ली पहुंची सिंगर रुपिंदर हांडा, Video में बोलीं- 80-80 साल के बुजुर्ग यहां बैठे हैं...

किसानों का समर्थन करने सिंगर रुपिंदर हांडा (Rupinder Handa) पहुंची दिल्ली

खास बातें

  • सिंगर रुपिंदर हांडा पहुंची दिल्ली
  • मंच से यूं लगाए नारे
  • सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है Video
नई दिल्ली:

 केंद्रीय कृष‍ि मंत्री नरेंद्र तोमर (Narendra tomar) ने कोरोना और ठंड का जिक्र करते हुए किसान संगठनों को मंगलवार दोपहर 3 बजे बातचीत के लिए बुलाया है. बता दें कि दिल्ली की दो सीमाओं पर धरने पर बैठे किसानों कासमर्थन करने के लिए पंजाब से और भी किसान दिल्ली के लिए निकल पड़े हैं. किसान संगठनों ने कहा कि अमृतसर(Amritsar) क्षेत्र से और भी किसान जो कि गुरु पर्व के लिए रुक गए थे, वो निकल पड़े हैं और मंगलवार तक उनके यहां पहुंचने की उम्मीद है. बता दें, अब हाल ही में किसानों का समर्थन करने सिंगर रुपिंदर हांडा (Rupinder Handa) भी पहुंची हैं.

Newsbeep


रुपिंदर हांडा (Rupinder Handa) ने हाल ही में अपने इंस्टाग्राम एकाउंट से एक वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो में सिंगर मंच से कह रही हैं, "किसान एकता जिंदाबाद, ये जज्बा देखकर मैं बस एक ही बात कहना चाहूंगी, मैं इस समय काफी इमोशनल हूं, क्योंकि जो जज्बा मैंने देखा है अपने बुजुर्गो में. 80-80 साल के बुजुर्ग यहां बैठे हैं. उनके जज्बों को सलाम करने का मन करता है. मैं बहुत खुशनसीब हूं कि मैंने सिख कौम में जन्म लिया है. मैं अपनी आखिरी सांस तक भगवान का बहुत शुक्रियादा करूंगी की मुझे इस कौम में जन्म दिया."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


रुपिंदर हांडा (Rupinder Handa) के इस पोस्ट पर लोग खूब कमेंट कर रहे हैं और अपनी प्रतिक्रिया दे रहे है. बता दें, प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली में प्रवेश के पांचों रास्ते ब्लॉक करने की धमकी दी है. इससे पहले सोमवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह कृषि‍ मंत्री (Agriculture Minister) से मिले. किसानों द्वारा सरकार की वार्ता की पेशकश ठुकरा दिए जान के 24 घंटे के भीतर दोनों नेताओं की यह दूसरी मुलाकात थी. केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर ने कहा, '13 नवंबर को हमने फैसला किया था कि हम 3 दिसंबर को मिलेंगे, लेकिन किसान प्रदर्शन के मूड में हैं. सर्दी का मौसम है और कोरोना भी है. इसलिए हम किसान यूनियनों के प्रमुखों को 1 दिसंबर को 3 बजे विज्ञान भवन आमंत्रित करते हैं. हम आपसे प्रदर्शन खत्म करने और चर्चा के जरिए कोई समाधान निकालने का अनुरोध करते हैं.