NDTV Khabar

कांग्रेस ने स्मृति ईरानी का उड़ाया मजाक, बोले- क्योंकि मंत्री भी कभी ग्रेजुएट थीं...देखें Video

स्मृति ईरानी (Smriti Irani) की एजुकेशनल क्वालिफिकेशन एक बार फिर सुर्खियों में आ गई है. कांग्रेस ने इसे लेकर मजाक बनाया है. स्मृति ईरानी उत्तर प्रदेश (UP) की अमेठी (Amethi) से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के खिलाफ चुनाव लड़ रहीं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस ने स्मृति ईरानी का उड़ाया मजाक, बोले- क्योंकि मंत्री भी कभी ग्रेजुएट थीं...देखें Video

स्मृति ईरानी (Smriti Irani) की एजुकेशनल क्वालिफिकेशन पर कांग्रेस ने कसा तंज

खास बातें

  1. अमेठी से चुनाव लड़ रही हैं स्मृति
  2. राहुल गांधी से है उनका मुकाबला
  3. कांग्रेस ने यूं बनाया मजाक
नई दिल्ली:

स्मृति ईरानी (Smriti Irani) उत्तर प्रदेश (UP) के अमेठी (Amethi) से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के खिलाफ चुनाव लड़ रही हैं. स्मृति ईरानी की एजुकेशनल क्वालिफिकेशन एक बार फिर सुर्खियों में आ गई है. स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने गुरुवार को चुनाव आयोग (EC) को दिए गए हलफनामे में घोषित किया कि वे 'ग्रेजुएट' नहीं हैं. यह पहली बार है जब उन्होंने अपने चुनावी हलफनामे (electoral affidavit) में साफ लिखा कि उन्होंने तीन साल की डिग्री कोर्स पूरा नहीं किया. कांग्रेस ने स्मृति ईरानी की क्वालिफिकेशन को लेकर तंज कसा है और कहा है 'क्योंकि मंत्री भी कभी ग्रेजुएट थीं.' इस तरह स्मृति ईरानी का ये हलफनामा फिर से सुर्खियों में गया है. कांग्रेस का ये वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है.


अमित शाह के बयान पर ये बॉलीवुड एक्ट्रेस भी भड़कीं, BJP से पूछा सवाल- क्या मुस्लिम भारत के नागरिक नहीं?

कांग्रेस की नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने स्मृति ईरानी (Smriti Irani) की क्वालिफिकेशन का मजाक बनाते हुए कहा हैः 'एक नया सीरियल आने वाला हैः 'क्यों मंत्री भी कभी ग्रेजुएट थी. इसकी ओपनिंग लाइन होगी, उसके बाद ओपनिंग लाइन भी मैं बताती हूं क्या होगी. क्वालिफिकेशन के भी रूप बदलते हैं, नए-नए सांचे में ढलते हैं, एक डिग्री आती है, एक डिग्री जाती है, बनते एफिडेविट नए हैं.' प्रियंका चतुर्वेदी का ये वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. इस वीडियो को न्यूज एजेंसी एएनआई ने अपने ट्विटर एकाउंट पर डाला है.

कृष्णा अभिषेक ने कपिल शर्मा से कहा कुछ ऐसा, हंस-हंसकर लोटपोट हो गए आलिया और वरुण...देखें Video

हलफनामे में उच्चतम शिक्षा के कॉलम में स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने लिखा- दिल्ली यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग (पत्राचार) से 'बैचलर ऑफ कॉमर्स पार्ट-1.' इस कोर्स कोर्स का वर्ष उन्होंने 1994 लिखा है. इसका अर्थ है कि उन्होंने इस साल यह डिग्री कोर्स शुरू किया था लेकिन इसे पूरा नहीं किया. उन्होंने कोष्टक में लिखा है कि 'तीन साल की डिग्री कोर्स अपूर्ण.'  हलफनामे के अनुसार ईरानी ने 1991 में हाईस्कूल की परीक्षा पास की, 1993 में इंटरमीडिएट की परीक्षा पास की.  इससे पहले साल 2014 में अमेठी सीट से पहली बार चुनाव लड़ने के दौरान स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने हलफनामे में लिखा था कि 1994 में उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग (पत्राचार) से बैचलर ऑफ कॉमर्स पार्ट-1 किया. 2004 में कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल के खिलाफ दिल्ली के चांदनी चौक लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने के दौरान स्मृति ने एफिडेविट में लिखा था कि उन्होंने 1996 में दिल्ली यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ करस्पांडेंस से बैचलर ऑफ आर्ट किया. इस तरह विपक्षी पार्टियां स्मृति ईरानी की शैक्षणिक योग्यता को लेकर कमेंट कर रही हैं. 

टिप्पणियां

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement