NDTV Khabar

MeToo: ये दो महिला वकील मुफ्त में यौन उत्पीड़न पीड़ितों की करेंगी कानूनी मदद, बॉलीवुड स्टार्स का भी मिला सपोर्ट

मुंबई के दो वकीलों ने यौन उत्पीड़न और हिंसा पीड़ितों को नि:शुल्क कानूनी सहायता मुहैया कराने का बीड़ा उठाया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
MeToo: ये दो महिला वकील मुफ्त में यौन उत्पीड़न पीड़ितों की करेंगी कानूनी मदद, बॉलीवुड स्टार्स का भी मिला सपोर्ट

स्वरा भास्कर (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. MeToo कैपेंन से जुड़ी दो महिला वकील
  2. मुफ्त में कानूनी मदद को आगे आईं
  3. बॉलीवुड का भी मिला सपोर्ट
नई दिल्ली: मुंबई के दो वकीलों ने यौन उत्पीड़न और हिंसा पीड़ितों को नि:शुल्क कानूनी सहायता मुहैया कराने का बीड़ा उठाया है. वहीं स्वरा भास्कर और मलाइका अरोड़ा जैसी बॉलीवुड हस्तियां अपने अनुभवों को साझा करने वाली महिलाओं के समर्थन में आगे आई हैं. भारत में चल रहा 'मीटू' अभियान जल्द ही खत्म होता नहीं दिखाई दे रहा है. वकील मृणालिनी देशमुख और वैभव कृष्णन ने यौन उत्पीड़न और हिंसा पीड़ितों को निशुल्क कानूनी सहायता मुहैया कराने का बीड़ा उठाया है, तो वहीं भारतीय फिल्म एवं टेलीविजन निर्देशक संघ (आईएफटीडीए) ने उन सभी निर्देशकों को नोटिस जारी किए हैं, जिन पर महिलाओं ने यौन उत्पीड़न और हिंसा के आरोप लगाए हैं.

Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah: जेठालाल के बेटे टप्पू को छाई बेहोशी, वायरल हो गया वीडियो

आईएफटीडीए के अध्यक्ष अशोक पंडित ने कहा कि साजिद खान और विकास बहल समेत आरोपी फिल्म निर्माताओं को नोटिस भेज दिए गए हैं और उन्हें 10 दिन के भीतर जवाब देने को कहा गया है. अगर वे जवाब नहीं देते हैं तो उनके नाम असहयोग सूची में डाल दिए जाएंगे, जिसके बाद महिलाएं उन दो वकीलों से संपर्क कर सकती हैं, जो कानूनी मदद मुहैया कराने के लिए आगे आए हैं.

वहीं एक साक्षात्कार में मलाइका ने कहा कि अगर महिलाएं आगे आ रही हैं और आपबीती सुना रही हैं तो यह बहुत बड़ी चीज है, जो हो रही है. स्वरा ने कहा कि 'मीटू' अभियान भारत में बहुत समय से लंबित पड़ा था और अच्छा है कि यह आखिरकार सामने आया. उन्होंने कहा, "मैं उन सभी महिलाओं की प्रशंसा करती हूं, जिन्होंने अपनी जिंदगियों को फिर से जिया है और अपने नाम के साथ अपनी कहानियों को लोगों तक पहुंचाया है." 

आलोक नाथ और उनकी पत्नी ने विनता नंदा के खिलाफ दर्ज की शिकायत, कही ये बात

अभिनेता फरदीन खान 'मीटू' अभियान के समर्थन में उतरे और कहा कि जो महिलाएं पुरुषों पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगा रही हैं, उन्हें संदेह का लाभ दिया जाना चाहिए. हालांकि उन्होंने कहा कि इन मामलों में पूरी जांच की जानी चाहिए, क्योंकि यह किसी का करियर और जिंदगी पूरे तरीके से तबाह कर सकती है. 

ऋतिक रोशन ने अपनी आगामी फिल्म 'सुपर 30' के निर्माताओं से फिल्म के निर्देशक विकास बहल पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोप पर सख्त रुख अपनाने को कहा है. वहीं अभिनेता की पूर्व पत्नी सुजैन खान ने कहा कि किसी महिला को किसी व्यक्ति के खिलाफ बिना वैध सबूतों के झूठे आरोप नहीं लगाने चाहिए.

ज्वेलरी डिजाइनर फराह खान का कहना है कि वह उन बहादुर महिलाओं का समर्थन करती हैं, जिन्होंने अपने मुजरिमों के खिलाफ बोला है. मगर वह यह भी चाहती हैं कि सच को बढ़ा-चढ़ाकर न पेश किया जाए, क्योंकि कुछ लोग इसका दुरुपयोग कर सकते हैं.

MeToo: फराह खान ने भाई साजिद खान पर लगे बदसलूकी के आरोप पर कही ये बात

विकास बहल की पूर्व पत्नी रिचा दुबे फिल्म निर्माता के समर्थन में उतर आई हैं और अभिनेत्री कंगना रनौत पर उनके बयान को लेकर हमला बोला है. कंगना ने अपने बयान में कहा था कि 'क्वीन' के निर्देशक अक्सर उनकी गर्दन को अपने चेहरे से स्पर्श किया करते थे और उन्हें कसकर पकड़ लिया करते थे. रिचा दुबे ने शुक्रवार को ट्विटर पर कंगना से सवाल किया कि फिल्म निर्माता के अनुचित व्यवहार के बावजूद उन्होंने उनसे दोस्ती क्यों जारी रखी. कंगना ने 'क्वीन' में बहल के साथ काम किया था.

बहल पर फैंटम फिल्म्स की एक पूर्व कर्मी ने 2015 में गोवा में पहली घटना के बाद से लगातार उसका यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया था. इसके बाद कंगना, बहल के खिलाफ आरोपों के समर्थन में उतर आईं. रिचा ने कंगना पर हमला बोलते हुए कहा कि 'यह मीटू नहीं, बल्कि मीमी है.'

टिप्पणियां
...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...

(इनपुट आईएएनएस से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement