NDTV Khabar

Sui Dhaaga Movie Review: अनुष्का शर्मा, वरुण धवन की 'सुई' में 'कच्चा धागा' है कहानी

'सुई धागा' मूवी रिव्यूः वरुण धवन और अनुष्का शर्मा की Sui Dhaaga देसी तेवरों वाली फिल्म है. लेकिन 'दम लगाके हईशा' के डायरेक्टर शरत कटारिया कुछ चूकते हुए नजर आते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Sui Dhaaga Movie Review: अनुष्का शर्मा, वरुण धवन की 'सुई' में 'कच्चा धागा' है कहानी

सुई धागा (Sui Dhaaga) में वरुण धवन (Varun Dhawan), अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma)

नई दिल्ली: Sui Dhaaga Review: 'सुई धागा (Sui Dhaaga)' के साथ वरुण धवन और अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma) की जोड़ी पहली बार सिल्वरस्क्रीन पर आई है. 'सुई धागा' के डायरेक्टर शरत कटारिया 'दम लगाके हईशा' के बाद फिर से देसी कहानी लेकर लौटे. 'दम लगाके हईशा' में एक अलग ही दुनिया रचने वाले शरत कटारिया (Sharat Kataria) 'सुई धागा (Sui Dhaaga)' में वो पैनापन नहीं ला सके, जिसकी उम्मीद उनसे की जा रही थी. वरुण धवन और अनुष्का शर्मा ने किरदारों को परदे पर निभाने की भरपूर कोशिश की है, लेकिन उनके साथ उस तरह का कनेक्शन नहीं बन पाता है जैसी 'दम लगाके हईशा' के आय़ुष्मान खुराना और भूमि पेडणेकर के साथ बना था. इस तरह 'सुई धागा' को देखकर यही लगता है कि 'सब बढ़िया नहीं है' हालांकि वरुण धवन तो यही कहते हैं कि "सब बढ़िया है.'

सलमान खान ने सुई धागा हाथ में उठाकर दिखाया ऐसा कारनामा, वरुण धवन बोल पड़े- शर्म करो...

'सुई धागा' की कहानी दरजी मौजी (वरुण धवन) और उसकी कढ़ाई में माहिर पत्नी ममता (अनुष्का शर्मा) की है. मौजी किसी दूसरे के यहां काम करता है, जहां हर बात पर उसका मजाक बनाया जाता है, और एक दिन मौजी कि ऐसी दुर्गति होती है कि ममता को गुस्सा आ जाता है. ममता मौजी से अपने पांव पर खड़े होने के लिए कहती है, और फिर मौजी-ममता का संघर्ष शुरू हो जाता है. लेकिन मौजी की जिंदगी में कुछ भी ठीक होना नहीं लिखा है, कोई न कोई पंगा होता रहता है. फिर हमेशा कोसने वाला पिता है और बीमार रहने वाली मां भी है.

हालांकि शरत कटारिया ने छोटे शहर और निम्नमध्यवर्गीय परिवार के संघर्ष को दिखाने की कोशिश की है लेकिन इस बार वे चीजों को पकड़ने में सफल नहीं रहे हैं. शरत तकी सुई में कहानी रूपी धागा बहुत कमजोर है, और वह जगह-जगह पर टूटता जाता है. फिल्म का पहला हाफ ठीक है, दूसरा खींचा हुआ लगता है.

वरुण-अनुष्का ने फिल्म के लिए कपड़ा कारखाने में किया काम, शेयर की ये बात

'सुई धागा' में वरुण धवन (Varun Dhawan) ने मौजी के रोल में पूरा घुसने की कोशिश की लेकिन कमजोर कहानी उन्हें कैरेक्टर के साथ इंसाफ नहीं करने देती है. हालांकि कई सीन्स में उनके पंच मजेदार हैं. लेकिन छोटे शहर का आयुष्मान देखें तो वरुण धवन उसके आगे काफी कमजोर लगते हैं. वैसे वरुण धवन ने बताया था कि उन्हें 'सुई धागा' में मौजी के किरदार में घुसने के लिए तीन महीने तक सिलाई सीखी थी, यानी उन्होंने कैरेक्टर के लिए काफी पसीना बहाया है. अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma) भी ममता के कैरेक्टर के साथ कोई बड़ी चमत्कार नहीं कर  सकी हैं. अनुष्का इस तरह के कैरेक्टर्स के लिए सही चॉयस नहीं लगती हैं. फिल्म में रघुवीर यादव का छोटा लेकिन मजेदार रोल है. 

वरुण धवन ने पहले 'Sui Dhaaga' के मेकर्स किया रिक्वेस्ट, नहीं बनी बात तो कर डाला ऐसा... देखें Video

'सुई धागा' की कहानी के साथ युवाओं का कनेक्ट बनाना थोड़ा मुश्किल लगता है, और इसका म्यूजिक भी बहुत कैची नहीं है. 'सुई धागा' (Sui Dhaaga) का बजट लगभग 30 करोड़ बताया जाता है, इस तरह फिल्म का बजट कुछ ज्यादा नहीं है. इसे लगभग 2200 स्क्रीन्स पर रिलीज भी किया गया है. वरुण धवन की फिल्में 100 करोड़ का आंकड़ा पार करने लगी हैं जिसमें जुड़वां-2 और बद्रीनाथ की दुलहनिया जैसी फिल्में शामिल हैं.



टिप्पणियां
रेटिंगः 2.5
डायरेक्टरः शरत कटारिया
कलाकारः वरुण धवन, अनुष्का शर्मा, आभा परमार और रघुवीर यादव

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement