सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त का खुलासा, बोले- अंकिता लोखंडे मां की तरह रखती थी उनका ख्याल

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के दोस्त ने किया खुलासा, अंकिता लोखंडे (Ankita Lokhande) उनकी पसंद के कपड़े पहनकर होती थीं तैयार.

सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त का खुलासा, बोले- अंकिता लोखंडे मां की तरह रखती थी उनका ख्याल

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के दोस्त ने किया खुलासा

खास बातें

  • संदीप सिंह ने किया खुलासा
  • बताया अंकिता लोखंडे का सुशांत के साथ कैसा था रिलेशनशिप
  • इंटरव्यू में कही ये बात
नई दिल्ली:

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के निधन से पूरा बॉलीवुड सकते में है. सुशांत के निधन के बाद लगातार एक्टर के पुराने वीडियो भी खूब वायरल हो रहे हैं. इसी बीच सुशांत के अच्छे दोस्त संदीप सिंह (Sandip Ssingh) लगातार चट्टान की तरह एक्टर के परिवार और दोस्तों के साथ खड़े हुए हैं. बता दें, संदीप सिंह सुशांत की एक्स गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे (Ankita Lokhande) के भी अच्छे दोस्त हैं, हाल ही में उन्होंने अंकिता की सुशांत के साथ रिलेशनशिप के बारे में कई खुलासे किए. 

Newsbeep


संदीप सिंह (Sandip Ssingh) ने खुलासा किया कि अंकिता केवल सुशांत की गर्लफ्रेंड नहीं थीं बल्कि एक्टर की स्वर्गीय मां की तरह उनकी देखभाल करती थी, जैसी देखभाल कोई और नहीं कर सकता. संदीप ने स्पॉटबॉय को दिए इंटरव्यू में बताया कि किस तरह अंकिता (Ankita Lokhande) उनकी पसंद के कपड़े पहना करती थी और खाना बनाया करती थी. उनके घर का इंटीरियर भी सुशांत की पसंद का था. संदीप सिंह ने कहा, "अंकिता उनकी गर्लफ्रेंड नहीं थी, उन्होंने सुशांत की जिंदगी में उनकी मां की जगह ले ली थी. इंडस्ट्री में मेरी 20 साल की जर्नी में, मैंने उसके जैसी लड़की नहीं देखी थी. वह सुशांत (Sushant Singh Rajput) का ऐसे ख्याल रखती थी, जैसे कोई नहीं रख सकता. केवल वही थी, जो उसे बचा सकती थी. वह उसके लिए हमेशा सही चुनती थी."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com



संदीप (Sandip Ssingh) ने आगे कहा, "ब्रेकअप के बाद भी जितनी फिल्म्स सुशांत की रिलीज होती थी तो वह हर शुक्रवार प्रार्थना करती थी कि उसकी फिल्म हिट हो जाए, वह खुश रहे. जब सुशांत ने यह बड़ा कदम उठाया और मैंने उन्हें इस हालत में देखा, तो सबसे पहले मेरे मन में अंकिता के लिए चिंता होने लगी. सुशांत के घर से अस्पताल और जितनी भी जगह मैं गया, मैंने अंकिता को कई बार फोन किया, लेकिन उसने मेरा फोन नहीं उठाया. मुझे पता था कि अंकिता बड़े दुख से गुजर रही है."