NDTV Khabar

'आमदनी अठन्नी खर्चा रुपइया' महंगाई से निपटने के अनोखे नुस्‍खे सिखाती हैं ये 4 फिल्में

बजट, मंदी, पैसों की मारामारी से जुड़े मुद्दों पर बॉलीवुड में कई फिल्में बन चुकी हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
'आमदनी अठन्नी खर्चा रुपइया' महंगाई से निपटने के अनोखे नुस्‍खे सिखाती हैं ये 4 फिल्में

बिजट, पैसा, मंदी के विषय पर बनीं कई बॉलीवुड फिल्में

खास बातें

  1. बजट, पैसे, मंदी पर आधारित फिल्में
  2. फिल्मों में दिखे महंगाई से निपटने के तरीके
  3. कॉमेडी कम, व्यंग्य ज्यादा
नई दिल्ली: केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने गुरुवार को सरकार का पूर्णकालिक बजट पेश किया. इस बजट से मोदी सरकार की आगे की विकास रणनीतियों का अंदाजा लगता है. बजट, मंदी, पैसों की मारामारी से जुड़े मुद्दों पर बॉलीवुड में कई फिल्में बन चुकी हैं. यह फिल्में दर्शकों को महंगाई से निपटने के अनोखे और हास्यास्पद तरीके सिखाती है. एक नजर ऐसी 4 फिल्मों पर जो पैसे और बजट पर आधारित है....

Budget 2018 : फिल्मों में जब भी दिखी रेल, बॉक्स ऑफिस पर कमाल का खेल

1- आमदनी अठन्नी खर्चा रुपइया (2001)
फिल्म की कहानी 'जितनी लंबी चादर उतने पैर पसारो' पर आधारित है. इस मल्टीस्टारर फिल्म की कहानी तीन परिवार की है, जहां पति अपनी रुढीवादी सोच रखते हैं और पत्नियों को हमेशा दबाते हैं. वहीं, पत्नियां घर चलाने के साथ पैसा कमाने पर विश्वास रखती हैं.

बॉलीवुड की ऐसी 6 फिल्में, जिन्होंने कम खर्च करके कमाई मोटी रकम.. जानें

2- सारे जहां से महंगा (2013)
इस फिल्म में महंगाई कम करने का एक अनोखा फिल्मी नुस्‍खा बताया गया है. फिल्म में संजय मिश्रा दुकान खोलने के लिए 1 लाख का लोन लेता है, लेकिन इन पैसे से तीन साल का घरेलु राशन खरीद कर रख लेता हैं. ताकी आगे जब महंगाई बढ़े तो उन्हें इससे फर्क न पड़े.

देखें फिल्म का ट्रेलर...


3- फंस गए रे ओबामा
सुभाष कपूर की यह फिल्म कॉमेडी कम व्यंग्य ज्यादा है. कहानी एक ऐसे अप्रवासी भारतीय की है जो अमेरिकी मंदी से बुरी तरह फंसने के बाद भारत में अपनी पैतृक संपत्ति को बेचने पहुंचते है. लेकिन उनके भारत पहुंचने की खबर यहां के एक ऐसे गैंग के हाथों लग जाती है जो उनका अपहरण कर उनसे मोटी फिरौती वसूलना चाहता है.

देखें फिल्म का ट्रेलर...


4- पीपली लाइव
आमिर खान प्रोडक्शन्स की फिल्म 'पीपली लाइव' भारत के रहने वाले उन ग्रामीण किसानों पर कटाक्ष है, जिनके लिए सरकार योजनाएं बनाती है. लेकिन उन तक योजनाएं पहुंचते-पहुंचते दम तोड़ देती है. फिल्म एक ऐसे किसान की कहानी है, जो लोन न चुका पाने की वजह से आत्महत्या करने का ऐलान कर देता है. आत्महत्या का ऐलान करते ही वह मीडिया की नजरों में आता है और नेता उसपर कुर्बान हो जाते हैं.

टिप्पणियां
देखें फिल्म का ट्रेलर...


...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement