शोभा डे ने पीएम मोदी के क्लाउड वाले बयान पर ली चुटकी, लिखा- मेरा सिर बादलों में है, मैं किसी के रडार...

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने एक इंटरव्यू में कहा कि बालाकोट एयरस्ट्राइक के दौरान उन्होंने सुझाव दिया था कि बादल और बारिश होने की वजह से भारतीय वायु सेना के विमान पाकिस्तानी रडार में आने से बच सकते हैं. इस पर शोभा डे (Shobhaa De) ने चुटकी ली है.

शोभा डे ने पीएम मोदी के क्लाउड वाले बयान पर ली चुटकी, लिखा- मेरा सिर बादलों में है, मैं किसी के रडार...

शोभा डे (Shobhaa De) ने पीएम मोदी के क्लाउड वाले कमेंट पर यूं ली चुटकी

खास बातें

  • पीएम मोदी के इंटरव्यू पर आए रिएक्शन
  • क्लाउड वाला कमेंट भी वायरल
  • इस राइटर ने यूं दिया रिएक्शन
नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने एक इंटरव्यू में कहा कि बालाकोट एयरस्ट्राइक (Balakot Air Strike) के दौरान उन्होंने सुझाव दिया था कि बादल और बारिश होने की वजह से भारतीय वायु सेना (Indian Air Force) के विमान पाकिस्तानी रडार में आने से बच सकते हैं. पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के इस बयान को लेकर सोशल मीडिया पर जमकर हंगामा हो रहा है और आज तो ट्विटर पर कई हैशटैग ही टॉप ट्रेंड में शामिल हो चुके हैं. जानी-पहचानी राइटर और कॉलमिस्ट शोभा डे (Shobhaa De) ने ट्वीट के जरिये पीएम नरेंद्र मोदी (PM Modi) के इस बयान को लेकर चुटकी ली है. 

पीएम मोदी ने बताया 1987-88 में किया था उन्होंने पहला ईमेल तो बॉलीवुड एक्टर बोले- हद होती है भाई...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) के क्लाउड वाले बयान पर शोभा डे (Shobhaa De) ने ट्वीट किया हैः 'उफफफ. मेरा सिर क्लाउड्स (बादलों) में है. उम्मीद है कि कोई मुझे नहीं देख पा रहा. यानी अब मैं किसी के रडार पर नहीं.' इस तरह शो डे ने पीएम नरेंद्र मोदी के बयान पर मजाक किया है. सोशल मीडिया पर पीएम नरेंद्र मोदी के इस बयान को लेकर कई Memes भी बन रहे हैं. 

फोटोग्राफर्स को देख मचल गए तैमूर अली खान, Video हुआ वायरल...

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बता दें कि पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने इस इंटरव्यू में बालाकोट एयर स्ट्राइक को लेकर कहा था: "मौसम अचानक खराब हो गया था. बहुत बारिश हुई थी. फिर हमारे मन में आया कि इस खराब मौसम में हम क्या करेंगे सदेह था कि इस मौसम में जा पाएंगे या नहीं जा पाएंगे. उसके बाद एक्सपर्टस का ओपिनियन आया कि अगर हम तारीख बदल दें, तो क्या होगा. मेरे मन में दो विषय थे. एक गोपनीयता थी और दूसरा, मैंने कहा कि मैं कोई ऐसा व्यक्ति नहीं हूं जो विज्ञान जानता हो.  मैंने कहा, इतने अधिक बादल और बारिश हो रही है, तो इसका एक लाभ भी है. क्या हम रडार से बच सकते हैं. मेरा रॉ विजन है कि यह बादल हमें फायदा भी पहुंचा सकता है. सब उलझन में थे कि क्या करें. अंततः मैंने कहा कि बादल हैं ... चलो आगे बढ़ें. "

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...