NDTV Khabar

BOXING: निकहत जरीन ओलिंपिक क्वालीफायर के फाइनल में पहुंचीं, अब बड़ा मुकाबला मेरीकॉम से

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
BOXING: निकहत जरीन ओलिंपिक क्वालीफायर के फाइनल में पहुंचीं, अब बड़ा मुकाबला मेरीकॉम से

निकहत जरीन की फाइल फोटो

नई दिल्ली:

पूर्व जूनियर विश्व चैम्पियन निकहत जरीन (Nikhat Zareen) ने शुक्रवार को यहां ज्योति गुलिया को हराकर अगले साल होने वाले ओलिंपिक क्वालीफायर के लिए महिला मुक्केबाजी ट्रायल्स के 51 किग्रा फाइनल में प्रवेश किया. बुल्गारिया में प्रतिष्ठित स्ट्रैंद्जा मेमोरियल में स्वर्ण पदक जीतने वाली जरीन ने दो दिवसीय ट्रायल्स में शुरूआती मुकाबले में युवा विश्व स्वर्ण पदकधारी और मौजूदा राष्ट्रीय चैम्पियन गुलिया को सर्वसम्मत फैसले में पराजित किया. 

यह भी पढ़ें:  बैडम‍िंटन में PV Sindhu के नाम विश्‍व खिताब, Lakshya Sen बने भविष्य की उम्मीद


जरीन ने कुछ हफ्ते पहले छह बार की विश्व चैम्पियन एमसी मेरीकॉम के खिलाफ ट्रायल की मांग कर हंगामा कर दिया था. अन्य मुकाबलों में विश्व युवा स्वर्ण पदकधारी साक्षी ने 57 किग्रा में एशियाई रजत पदक विजेता मनीषा मौन को हराया जबकि पूर्व राष्ट्रीय चैम्पियन सिमरनजीत कौर ने 60 किग्रा में पवित्रा को शिकस्त दी.

यह भी पढ़ें: इस वजह से "इस गोट" के साथ रिंग में नहीं उतरना चाहते माइक टायसन

दोनों नतीजे सर्वसम्मत रहे. ओलिंपिक क्वालीफायर अगले साल फरवरी में चीन में आयोजित किए जाएंगे. महिला मुक्केबाजी में सभी पांच वर्गों -51 किग्रा, 57 किग्रा, 60 किग्रा, 69 किग्रा और 75 किग्रा- का फैसला ट्रायल से ही होगा क्योंकि कोई भी मुक्केबाज विश्व चैम्पियनशिप के फाइनल में जगह नहीं बना सकी थी.

टिप्पणियां

VIDEO:  पिंक बॉल बनने की कहानी, स्पेशल स्टोरी

बहरहाल, निकहत जरीन की इच्छा पूरी हो गई है. और वह अब फाइनल में मेरीकॉम से भिड़ेंगी. और यहां जो भी बाजी मारेगा, उसे ही ओलिंपिक का टिकट मिलने की ज्यादा उम्मीद है 
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... जेल से निकलने के तुरंत बाद हार्दिक पटेल फिर हुए गिरफ्तार, जानें पूरा मामला

Advertisement